Flood Video: ईरान में पानी के तेज बहाव में बही गाड़ियां, खतरे में मुसाफिरों की जान- Video

बारिश का मौसम चल रहा है इस बीच बाढ़ व बारिश के पानी से जुड़ी कुछ दहला देने वाली तस्वीरें भी सामने आ रही हैं, ऐसे ही कुछ वीडियो क्लिप भी सोशल मीडिया पर दिख रही हैं।

iran flood
Iran में बाढ़ का कहर तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है\ 

Iran में बाढ़ का कहर है और वहां के कुछ इलाकों में इसकी भयावहता गंभीर है, इससे संबधित तस्वारें और वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आ रहे हैं इसमें देखा जा सकता है कि बाढ़ का पानी और बारिश से वहां के जन-जीवन पर कितना असर पड़ रहा है और लोग के सामने कितनी विपरीत परिस्थितियां सामने आ रही हैं।

इससे जुड़ी हुई कई वीडियो क्लिप सामने आ रही हैं,ऐसे ही Iran में बाढ़ का कहर तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है, बाढ़ के तेज बहाव में 3 गाड़ियां एक के बाद बहती नजर आयी, जिसमें कई मुसाफिर फंसे हुए थे।

वहीं बारिश का प्रकोप देश-दुनिया के कई इलाकों में नजर आ रहा है, बात अमेरिका की करें तो वहां के अप्पलाचिया के शहरों में मूसलाधार बारिश के कारण अचानक आई बाढ़ में चार बच्चों समेत कम से कम 25 लोगों की मौत हो गई।गवर्नर एंडी बेशियर ने कहा कि इस प्राकृतिक आपदा में मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है और भीषण बाढ़ की चपेट में आए लोगों की तलाश करने में कई सप्ताह लग सकते हैं।गवर्नर के मुताबिक, बचाव दल ने हेलीकॉप्टर और नौकाओं की मदद से 1,200 से अधिक लोगों को बचाया है। गौरतलब है कि पूर्वी केंटकी के कुछ हिस्सों में पिछले 48 घंटों के दौरान भारी बारिश दर्ज की गई है।

पाकिस्तान में बारिश-बाढ़ से मौत का आंकड़ा 320 पर पहुंचा

पाकिस्तान में मानसूनी बारिश और बाढ़ से मरने वालों की संख्या संडे को 320 पर पहुंच गई। इस बीच, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ ने बाढ़ से सर्वाधिक प्रभावित बलूचिस्तान प्रांत का दौरा किया और लोगों को बचाव एवं पुनर्वास में हर संभव मदद देने का भरोसा दिलाया।बलूचिस्तान में भारी बारिश और उसके चलते अचानक आई बाढ़ से अब तक 127 लोगों की मौत हो चुकी है।

मध्य जून से हो रही मानसूनी बारिश के कारण पाकिस्तान में नदियों का जलस्तर बढ़ गया है, जबकि पुल व राजमार्ग को भारी नुकसान पहुंचने से यातायात व्यवस्था भी प्रभावित हुई है।वहीं, रेल पटरियों के जलमग्न होने से पाकिस्तान और ईरान के बीच ट्रेन सेवा भी बाधित होने की खबर है।

जल चक्र में तीव्र बदलाव, अधिक शक्तिशाली तूफान और भीषण बाढ़ के पीछे जलवायु परिवर्तन

पूरे अमेरिका में जुलाई के उत्तरार्ध में शक्तिशाली तूफान प्रणाली की वजह से अचानक बाढ़ आने की घटनाएं हुईं। इसके चलते रिकॉर्ड बारिश से लेंट लुइस के आसपास के इलाके डूब गए और पूर्वी केंटुकी में जगह जगह भूस्खलन हुआ। इस बाढ़ में कम से कम 16 लोगों की मौत हो गई। एक अन्य आपदा में नेवादा की लॉस वेगास इलाका भी बाढ़ में जलमग्न हो गया।जलवायु परिवर्तन के कारण इस तरह की जलीय आपदा की घटनाएं अब लगातार सामने आ रही हैं।अमेरिका में शक्तिशाली तूफान के बाद इस गर्मी के मौसम में भारत और ऑस्ट्रेलिया में भीषण बाढ़ आई जबकि पिछले साल यह स्थिति पश्चिम यूरोप में थी।दुनियाभर के वैज्ञानिकों द्वारा किए गए अध्ययन में सामने आया है कि जल चक्र प्रचंड रूप धारण कर रहा है और ग्रह के गर्म होने के साथ इसकी प्रचंडता और बढ़ेगी।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर