पाकिस्तान में आटा-चीनी 100 और दाल 200 रु. किलो के पार, लोग बोले- इमरान ने किया मुल्क का बेडा गर्ग

दुनिया
किशोर जोशी
Updated Oct 18, 2020 | 09:52 IST

पाकिस्तान में महंगाई ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं जिस वजह से लोगों की परेशानियां बढ़ गई हैं। लोग इमरान सरकार के खिलाफ जमकर अपनी भड़ास निकाल रहे हैं।

Essential Commodities like Flour, sugar and pulses prices in Across Pakistan hits Steep rise
पाकिस्तान में आटा-चीनी 100 और दाल 200 रु. किलो के पार 

मुख्य बातें

  • पाकिस्तान में महंगाई ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, परेशान लोग बोले- इमरान छोड़ें गद्दी
  • पाकिस्तान में आटा और चीनी की हो रही है ब्लैक मार्केटिंग
  • दाल की कीमतें 200 किलो के पार, लोग बोले- जीना हो गया है मुहाल

इस्लामाबाद: पाकिस्तान में मंहगाई ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं और लोग त्राहिमाम कर रहे हैं। रोजमर्रा की खाने की कीमतों हो रही बढ़ोत्तरी से लोग परेशान हैं और इमरान सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतर रहे हैं। दाल की कीमतें 200 किलो के पार तक पहुंच गई हैं वहीं एक दर्जन अंडे की कीमत 150 रुपये के पार तक पहुंच गई है। इतना ही नहीं चीनी आटा और सब्जियों की कीमतें भी आसमान छू रही हैं। कमरतोड़ महंगाई ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है।

इतने महंगे हुए खाद्य उत्पाद
वहीं खाने के उत्पादों की बात करें तो आटा 80 से लेकर 100 रुपये किलो तक मिल रहा है। वहीं मूंग दाल की कीमत तो 260 रुपये किलो पहुंच गई है। चना दाल 160 और मसूर दाल 150 रुपये किलो बिक रही है। दूध की कीमतें 150 लीटर तक पहुंच गई हैं। जबकि चीनी 105 रुपये किलो तक बिक रही है। वहीं एक अंडे की कीमत 15 रुपये तक पहुंच गई है।

विपक्ष हुआ एकजुट

इमरान सरकार के खिलाफ तमाम विपक्षी दल एकजुट हो रहे हैं। शुक्रवार को लाहौर से लगभग 80 किमी दूर गुजरांवाला स्टेडियम में 11 विपक्षी दलों के गठबंधन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) का एक बड़ा जलसा आयोजित किया था जिसमें लाखों लोग मौजूद थे। शुक्रवार देर रात नवाज शरीफ लंदन से वीडियो लिंक के माध्यम से कार्यक्रम को संबोधित किया। इस कार्यक्रम में आए लोगों का गुस्सा इमरान सरकार के खिलाफ फूट पड़ा।

लोग बोले- ये आटा चोर सरकार 
एक शख्स ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'मंहगाई के कारण लोगों का जीना मुहाल हो गया है। इस सरकार में आटा चोर, चीनी चोर, गैस चोर लोग बैठ हैं। मंहगाई का आलम ये है कि गरीब आदमी पिस गया है ये हम होने नहीं देंगे।' वहीं दूसरे शख्स ने कहा, 'यहां आटा मिल नहीं रहा है और 800 रुपये वाली बोरी 1200 में मिल रही है और अंडे 180 तक पहुंच गए हैं। यहां ना आटा मिलती है, ना चीनी मिलती है और ना ही मजदूरी मिलती है।'

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर