कैसे मारा गया बगदादी, वीडियो फुटेज जारी कर सकते हैं अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप

दुनिया
Updated Oct 28, 2019 | 22:53 IST | भाषा

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि वह आतंकवादी अबू बकर अल-बगदादी के खिलाफ ऑपरेशन के वीडियो का एक हिस्सा जारी कर सकते हैं।

Donald Trump
डोनाल्ड ट्रंप  

मुख्य बातें

  • एक सुरंग के भीतर पीछा किए जाने पर बगदादी ने खुद को आत्मघाती बम से खुद को उड़ा लिया
  • मीडिया से बात करते हुए ट्रंप ने कहा मैं हमले का वीडियो फुटेज जारी करने पर विचार कर रहा हूं
  • हमारी सैन्य सेवा और खुफिया सेवा इस मामले में अपने अमेरिकी समकक्षों से संपर्क में थे- तुर्की

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने सोमवार को कहा कि वह पश्चिमोत्तर सीरिया में अमेरिका के उस विशेष अभियान की वीडियो फुटेज का एक हिस्सा जारी करने पर विचार कर रहे हैं जिसमें इस्लामिक स्टेट का सरगना एवं दुनिया का वांछित आतंकवादी अबु बकर अल-बगदादी (Abu Bakr al-Baghdadi) मारा गया।

अमेरिकी विशेष अभियान बल द्वारा बगदादी के ठिकाने पर शनिवार को किए गए हमले के दौरान एक सुरंग के भीतर पीछा किए जाने पर आईएसआईएस सरगना ने आत्मघाती बम से खुद को उड़ा लिया।

ट्रंप ने व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से कहा, 'हम इस बारे में सोच रहे हैं। हम कर सकते हैं। सवाल पूछा गया था कि क्या मैं हमले का वीडियो फुटेज जारी करने पर विचार कर रहा हूं? हां, हम इसके कुछ हिस्से जारी कर सकते हैं।' ट्रंप ने शिकागो के लिए रवाना होने से पहले कहा, 'हमारे देश के लिए एक अच्छा सप्ताहांत रहा। हमने उस शख्स को पकड़ा जिसे बहुत पहले पकड़ा जाना चाहिए था। दुर्भाग्य से, वह पकड़ा नहीं गया।'

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, 'उसने अत्यधिक नुकसान किया। लेकिन यह खुफिया एवं सैन्य ताकत तथा समन्वयन और लोगों के साथ मिलकर चलने का बेहतरीन प्रदर्शन था। कई अच्छी चीजें हुईं। इसलिए यहां बहुत बड़ा और एक अच्छा सप्ताहांत था और हम इसे लेकर खुश हैं।'

तुर्की ने सोमवार को कहा कि उसकी सैन्य और खुफिया सेवाओं ने अपने अमेरिकी समकक्षों के साथ इस्लामिक स्टेट के सरगना अबू बकर अल-बगदादी के ऊपर किए गए हमले के दौरान गहन तालमेल कायम किया। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार को घोषणा की थी कि अमेरिका के विशेष बलों ने उत्तरपश्चिमी सीरिया में एक हमले के दौरान बगदादी को मार गिराया है। यह स्थान तुर्की की सीमा से कुछ ही किलोमीटर दूर है।

तुर्की के राष्ट्रपति के प्रवक्ता इब्राहिम कलिन ने कहा, ‘हमारी सैन्य सेवा और खुफिया सेवा इस मामले में अपने अमेरिकी समकक्षों से संपर्क में थे। उन्होंने एक-दूसरे से संपर्क रखा।’ कलिन ने अंकारा में संवाददाताओं से कहा, ‘हम कह सकते हैं कि अभियान वाली रात हमारी सेनाओं के बीच गहन बातचीत हुई।’

 

अगली खबर