Kim Jong Un:डोनॉल्ड ट्रंप के कोरोना पीड़ित होने की खबर पर किम जोन उन हुए परेशान

उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के प्रति सहानुभूति का संदेश भेजा और उन्हें जल्दी से जल्दी कोरोना वायरस से ठीक होने की उम्मीद जताई है।

KIM UN JONG_DONALD TRUMP
दुनिया भर के नेताओं ने ट्रंप के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ के लिये उन्हें शुभकामनाएं भेजी हैं 

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की शुक्रवार को पुष्टि के कुछ घंटे के भीतर ही सोशल मीडिया पर इसे लेकर खासा हंगामा मचा रहा वहीं उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन ने कोविड-19 से पीड़ित अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप को शनिवार को भेजे एक संदेश में उनके शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की। 

कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी की खबर में कहा गया, 'उन्हें उम्मीद है कि दोनों बीमारी से यथाशीघ्र उबर जाएंगे। उन्हें उम्मीद जताई कि वे निश्चित ही इस बीमारी से ठीक हो जाएंगे। उन्होंने उन्हें (ट्रंप दंपती को) शुभकामनाएं भेजी हैं।' ट्रंप ने कहा था कि वह और उनकी पत्नी कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं। ट्रंप के कोविड-19 से पीड़ित होने की जानकारी मिलने पर दुनिया भर के नेताओं ने उनके शीघ्र स्वास्थ्य लाभ के लिये उन्हें शुभकामनाएं भेजी थीं।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार शाम को ट्विटर पर एक वीडियो साझा कर कहा कि उन्हें लगता है कि 'उनकी सेहत ठीक है।' ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया एक दिन पहले कोविड-19 से पीड़ित पाए गए थे। उन्होंने लोगों के समर्थन के लिए उनका आभार जताया।

बेथेसडा में वॉल्टर रीड सैन्य अस्पताल पहुंचने के बाद ट्रंप ने 18 सेकेंड का एक वीडियो साझा किया जिसमें उन्होंने कहा, 'जोरदार समर्थन देने के लिए मैं सभी का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं। मैं वॉल्टर रीड अस्पताल जा रहा हूं। मेरा खयाल है कि मेरी तबियत ठीक है लेकिन हम सुनिश्चित करेंगे कि सबकुछ ठीक रहे।’’वीडियो में उन्होंने आगे कहा, 'प्रथम महिला की सेहत भी ठीक है। आप सभी का बहुत आभार। मैं इसकी सराहना करता हूं, इसे कभी नहीं भूलूंगा।'

मिसाइलों परीक्षण के बाद किम और ट्रंप के बीच रिश्ते बेहद तल्ख थे

उत्तर कोरिया द्वारा 2017 में कई उच्च क्षमता वाली मिसाइलों के परीक्षण के बाद किम और ट्रंप के बीच रिश्ते बेहद तल्ख थे और दोनों एक-दूसरे को धमकियां देते थे।किम ने 2018 में अचानक वार्ता के लिये अमेरिकी नेता से संपर्क किया और उसके बाद दोनों नेताओं के बीच उसी साल तीन बार बैठक हुई। यह 1950-53 के कोरियोई युद्ध के बाद किसी अमेरिकी राष्ट्रपति की उत्तर कोरियाई नेता के साथ पहली बैठक थी।उनकी बैठकों का हालांकि बहुत फायदा होता नहीं दिखा और वियतनाम में उनके बीच दूसरे दौर की शीर्ष वार्ता बिना किसी अहम प्रगति के खत्म हुई क्योंकि उत्तर कोरिया पर प्रतिबंध को लेकर दोनों में असहमति हो गई।

सोशल मीडिया पर अफवाहों का दौर

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की शुक्रवार को पुष्टि के कुछ घंटे के भीतर ही सोशल मीडिया पर इसको लेकर अफवाहों, गलत जानकारियों, और साजिश की कहानियों का दौर शुरू हो गया। साझा किये गए ट्वीटों में यह दावा किया जा रहा था कि हो सकता है कि डेमोक्रेट पार्टी ने बहस के दौरान जानबूझकर राष्ट्रपति को किसी तरह कोरोना वायरस से संक्रमित करा दिया। वहीं फेसबुक पर इसकी भी संभावना जाहिर की जा रही थी कि हो सकता है कि ट्रंप अपनी बीमारी को लेकर झूठ बोल रहे हों।वहीं इसी बीच एक और चीज सोशल मीडिया पर देखने को मिली। इंटरनेट पर निराधार अफवाहों को फैलाने वाले समूह ‘क्यूएनन’ समर्थकों ने भी इस संबंध में लगतार पोस्ट करके अफवाहों को हवा देने का काम किया। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर