'सदाबहार दोस्त' पाक को झटका, अपने नागरिकों की मौत के लिए चीन ने मांगा 38 मिलियन डॉलर का मुआवजा

China demands compensation to Pakistan : 'बिजनेस रिकॉर्डर' में मुस्ताक गुमान ने लिखा है कि दासू हाइड्रोपावर प्रोजेक्ट पर दोबार काम शुरू करने से पहले चीन चाहता है कि पाकिस्तान मारे गए उसके इंजीनियरों के परिजनों को मुआवजा दे।

China demands USD 38 million compensation for dead engineers before resuming work on Dasu Dam Project in Pakistan
दासू डैम प्रोजेक्ट पर चीन की कंपनी का कहना है कि मुआवजा मिलने के बाद वह काम शुरू करेगी। 
मुख्य बातें
  • गत जुलाई में चीनी इंजीनियरों को ले जा रही बस विस्फोटक लदी कार से टकरा गई
  • विस्फोट होने के बाद बस खाई में गिरी, इस हादसे में 9 चीनी नागरिकों की मौत हुई
  • कंपनी का कहना है कि मुआवजा मिलने के बाद ही दासू डैम पर काम दोबारा शुरू करेगी

इस्लामाबाद : आर्थिक मोर्चे पर पहले से ही मुसीबतों को सामना कर रहे पाकिस्तान को उसके 'सदाबहार दोस्त' चीन ने झटका दिया है। दरअसल, दासू डैम प्रोजेक्ट पर हुए हादसे में मारे गए अपने इंजीनियरों के लिए उसने भारी भरकम मुआवजे की मांग की है। मुआवजे की यह राशि 38 मिलियन अमेरिकी डॉलर की है। गत 14 जुलाई को हुए इस हादसे में नौ चीनी नागरिकों सहित 13 लोगों की मौत हुई। यहा विस्फोट में दो दर्जन से ज्यादा लोग घायल हुए। पाकिस्तान ने कहा था कि वह इस इस घटना की जांच करेगा जिस पर चीन ने संदेह जताया है। बाद में बीजिंग ने यहां अपना एक जांच दल भेजा। अब मुआवजे की मांग कर चीन ने पाकिस्तान को एक बड़ा झटका दिया है।

चीनी कंपनी चाहती है कि पाकिस्तान उसे मुआवजे दे 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक 'बिजनेस रिकॉर्डर' में मुस्ताक गुमान ने लिखा है कि दासू हाइड्रोपावर प्रोजेक्ट पर दोबार काम शुरू करने से पहले चीन चाहता है कि पाकिस्तान मारे गए उसके इंजीनियरों के परिजनों को मुआवजा दे। बता दें कि डैम प्रोजेक्ट पर जा रही बस रास्ते में विस्फोटकों से लदी एक कार से टकरा गई। विस्फोट होने के बाद बस खाई में गिर गई। 

मुआवजे देने पर काम कर रहा पाकिस्तान 

'बिजनेस रिकॉर्डर' की रिपोर्ट के मुताबिक जल संसाधन के सचिव डॉ. शाहजेब खान बंगेश का कहना है कि जुलाई में चीन के इंजीनियर पर हुए  हमले के बाद डैम पर काम रुका पड़ा है। सूत्रों का कहना है कि मारे गए चीनी नागरिकों के परिजनों को मुआवजा देने के बारे में विदेश मंत्रालय, वित्त मंत्रालय, गृह विभाग और चीन के दूतावास के बीच उच्च स्तर पर चर्चा की जा रही है। डैम पर काम दोबारा शुरू करने के लिए रास्ता निकाला जा रहा है।       

मुआवजा मिलने के बाद काम शुरू करेगी कंपनी  

दासू डैम प्रोजेक्ट पर चीन की कंपनी गेझूबा ग्रुप कॉरपोरेशन काम कर रही है। बस हादसे के बाद उसने इस डैम पर अपना काम रोक दिया है। पाकिस्तान सरकार के अनुरोध पर कंपनी ने काम शुरू करने की बात कही थी लेकिन डैम पर अभी काम शुरू नहीं हुआ है। रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनी का कहना है कि जब तक चीनी नागरिकों की समुचित सुरक्षा और मुआवजे का प्रबंधन नहीं हो जाता तब तक वह डैम पर काम शुरू नहीं करेगी।  

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर