ब्रिटेनः बोरिस जॉनसन सरकार को फिर झटका! विल क्विंस समेत तीन मंत्रियों का इस्तीफा, जानिए- वजह

दुनिया
अभिषेक गुप्ता
अभिषेक गुप्ता | Principal Correspondent
Updated Jul 06, 2022 | 16:37 IST

इस बीच, ब्रिटिश सांसद लॉरा ट्रॉट ने परिवहन विभाग के संसदीय निजी सचिव के तौर पर इस्तीफा दे दिया। वह बोलीं कि सियासत में यकीन बहुत जरूरी है।

Will Quince, UK, World News
ब्रिटिश सांसद विल क्विंस।   |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • मुझे लगता है कि मेरे पास नहीं है कोई विकल्प- क्विंस
  • एक रोज़ पहले स्वास्थ्य व वित्त मंत्री ने छोड़ा था पद
  • बढ़ते दबाव के बीच पीएम जॉनसन ने कबूली गलती

ब्रिटेन में बोरिस जॉनसन की सरकार पर संकट के बादल और घने हो गए हैं। दरअसल, बुधवार (छह जुलाई, 2022) को विल क्विंस समेत तीन मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया। क्विंस उनकी सरकार में चिल्ड्रेन एंड फैमिली मिनिस्ट्री का कामकाज संभालते थे।

माइक्रो ब्लॉगिंग साइट टि्वटर पर उन्होंने अपने त्याग पत्र की कॉपी शेयर करते हुए लिखा, "बड़े ही दुख और खेद के साथ आज सुबह मैंने पीएम को अपना इस्तीफा सौंप दिया। मैं अपने उत्तराधिकारी को शुभकामनाएं देता हूं।" वह यह भी बोले कि पीएम जॉनसन की एक राजनेता की नियुक्ति पर "गलत" ब्रीफिंग दिए जाने के बाद उनके पास इस्तीफा देने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। यह रहा उनका ट्वीटः

uk, borris johnson, lara trott

ब्रिटेनः संकट में बोरिस जॉनसन सरकार! दो दिग्गज मंत्रियों का इस्तीफा

UK में नए वित्त मंत्री-स्वास्थ्य मंत्री की नियुक्त
इस बीच, ब्रिटिश पीएम ने शिक्षा मंत्री दिम जहावी को नया वित्त मंत्री नियुक्त कर दिया है। साथ ही ऐलान किया कि स्टीव बार्कले नए स्वास्थ्य मंत्री बनेंगे। दरअसल, मंगलवार (पांच जुलाई, 2022) को जॉनसन सरकार को बड़ा झटका देते हुए ऋषि सुनक ने वित्त मंत्री और साजिद जावेद ने स्वास्थ्य मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। कहा था कि उन्हें अब पीएम की लीडरशिप पर यकीन नहीं है। वे अब घोटालों में घिरी सरकार के लिए कामकाज नहीं कर सकते हैं।

पाकिस्तानी मूल के ब्रिटिश नागरिक साजिद जाविद और भारतवंशी सुनक ने चंद मिनटों के अंतराल पर ट्विटर पर अपने इस्तीफे साझा किए थे। दोनों का इस्तीफा ऐसे वक्त पर आया, जब हाल ही में एक पूर्व नौकरशाह ने निलंबित सांसद क्रिस पिंचर के खिलाफ आरोपों से निपटने के ‘डाउनिंग स्ट्रीट’ के तरीके को लेकर बयान दिया था, जिससे विवाद पनप गया था। खड़ा हो गया था। (भाषा इनपुट्स के साथ)
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर