अमेरिका की प्रथम महिला जिल बाइडेन ने की यूक्रेन की सरप्राइज विजिट, राष्ट्रपति जेलेंस्की की पत्नी से की मुलाकात

अमेरिका की प्रथम महिला जिल बिडेन ने आज यूक्रेन की अघोषित यात्रा की। वो स्लोवाकिया से लगी सीमा के पास के गांव में एक स्कूल में यूक्रेन की पहली महिला ओलेना जेलेंस्की से मिलीं।

Jill Biden
जिल बाइडेन और ओलेना जेलेंस्की  |  तस्वीर साभार: AP
मुख्य बातें
  • अचानक यूक्रेन पहुंची अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की पत्नी जिल बाइडेन
  • उन्होंने यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की की पत्नी ओलेना जेलेंस्की से मुलाकात की
  • दोनों की मुलाकात यूक्रेन सीमा से लगे स्लोवाकिया के गांव में स्थित एक स्कूल में हुई

अमेरिका की प्रथम महिला जिल बाइडेन ने रविवार को युद्धग्रस्त यूक्रेन की अघोषित यात्रा की। इस दौरान उन्होंने देश की पहली महिला ओलेना जेलेंस्की के साथ मदर्स डे पर बैठक की। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की पत्नी जिल ने गोपनीय तरीके से ये यात्रा की। उन्होंने जेलेंस्की को बताया कि मैं मदर्स डे पर आना चाहती थी। मैंने सोचा कि यूक्रेन के लोगों को यह दिखाना महत्वपूर्ण है कि इस युद्ध को रोकना है और यह युद्ध क्रूर रहा है और संयुक्त राज्य अमेरिका के लोग यूक्रेन के लोगों के साथ खड़े हैं।

जिल ने उज्होरोड शहर की यात्रा की, जो यूक्रेन की सीमा से लगे स्लोवाकियाई गांव से लगभग 10 मिनट की ड्राइव पर दूर है। उन्होंने यूक्रेन में करीब दो घंटे बिताए।  

दोनों एक छोटी से क्लासरूम में एक साथ आए। जेलेंस्की और उनके बच्चे सुरक्षा के लिए एक अज्ञात स्थान पर हैं। जेलेंस्की ने बाइडेन को उनके साहसी कार्य के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि हम समझते हैं कि युद्ध के दौरान अमेरिकी प्रथम महिला का यहां आने का क्या मतलब है, जब हर दिन सैन्य कार्रवाई हो रही है, जहां हर दिन हवाई सायरन बज रहे हैं, आज भी ऐसा ही है। 

जिल बाइडेन ने ट्वीट कर कहा कि इस मदर्स डे पर मैं यूक्रेन की माताओं और उनके बच्चों के साथ रहना चाहती थी। पिछले कुछ महीनों में बहुत से यूक्रेनियाई लोगों को अपने घरों से भागना पड़ा है, उन्हें अपने प्रियजनों को छोड़ने के लिए मजबूर करना पड़ा है। एक मां के रूप में मैं केवल उस दुःख और चिंता की कल्पना कर सकती हूं जो उन्हें रूस के अकारण हमले से हर दिन महसूस होती होगी। मैंने पहली बार देखा है कि कैसे स्लोवाकिया और रोमानिया के लोगों ने अपने घर, अपने स्कूल, अपने अस्पताल और अपने दिल खोल दिए हैं। साथ में हम यूक्रेन के लिए एकजुट हैं। मुझे उम्मीद है कि यहां आकर मैं बता सकती हूं कि उनकी ताकत और लचीलापन दुनिया को कितना प्रेरित करता है, और उन्हें याद दिलाता है कि वे अकेले नहीं हैं।

पूर्वी यूक्रेन के लुहान्स्क में एक स्कूल पर रूस की एयर स्ट्राइक, 60 लोगों के मारे जाने की आशंका

यूक्रेन की एकता-अखंडता के साथ समझौता नहीं, जेलेंस्की बोले- क्रीमिया को वापस लेने की करेंगे कोशिश

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर