अफगानिस्तान में अमेरिकी ड्रोन हमले में मारा गया अलकायदा नेता अयमान अल-जवाहिरी, राष्ट्रपति बाइडेन ने किया कंफर्म

दुनिया
दीपक पोखरिया
Updated Aug 02, 2022 | 07:48 IST

Al Qaeda leader Ayman al-Zawahiri: अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने सोमवार रात साढ़े सात बजे ऑपरेशन पर व्हाइट हाउस से राष्ट्र को संबोधित किया। बाइडेन ने कहा कि अलकायदा सरगना अयमान अल जवाहिरी काबुल में हवाई हमले में मारा गया है। न्याय मिल गया है।

Al Qaeda chief Ayman al Zawahiri killed in drone strike by america President Biden confirms
ड्रोन हमले में मारा गया अलकायदा नेता अयमान अल-जवाहिरी। (File Photo)  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • अमेरिकी ड्रोन हमले में मारा गया अलकायदा नेता अयमान अल-जवाहिरी
  • राष्ट्रपति जो बाइडेन ने किया कंफर्म
  • न्याय मिल गया है- जो बाइडेन 

Al Qaeda leader Ayman al-Zawahiri: अमेरिकी अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि अलकायदा नेता अयमान अल-जवाहिरी को अफगानिस्तान में सीआईए के ड्रोन हमले में मारा गिराया गया है। साल 2011 में अलकायदा के संस्थापक ओसामा बिन लादेन के मारे के बाद से आतंकवादी ग्रुप को सबसे बड़ा झटका लगा है। 

ड्रोन हमले में मारा गया अलकायदा नेता अयमान अल-जवाहिरी

अलकायदा के मुखिया जवाहिरी का नया वीडियो आया सामने, पीएम मोदी और सीएम योगी को बताया दुश्मन

मिस्र के आई सर्जन अयमान अल-जवाहिरी के सिर पर 25 मिलियन डॉलर का इनाम था। जवाहिरी ने अमेरिका में 11 सितंबर 2011 के हमलों में चार विमानों को हाईजैक करने में मदद की थी। इस हमले में करीब 3,000 लोग मारे गए थे। सीआईए ने रविवार को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में ड्रोन हमला किया।

अलकायदा सरगना का नया वीडियो आया सामने, 'हिजाब गर्ल' मुस्‍कान खान की तारीफ में पढ़ी कविता

न्याय मिल गया है- जो बाइडेन 

वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने सोमवार रात साढ़े सात बजे ऑपरेशन पर व्हाइट हाउस से राष्ट्र को संबोधित किया। बाइडेन ने कहा कि अलकायदा सरगना अयमान अल जवाहिरी काबुल में हवाई हमले में मारा गया है। न्याय मिल गया है। चाहे कितना भी समय लगे, चाहे आप कहीं भी छिप जाएं, अगर आप हमारे लोगों के लिए खतरा हैं तो अमेरिका आपको ढूंढेगा और बाहर निकालेगा। जो बाइडेन ने कहा कि राष्ट्रपति बुश, ओबामा और ट्रंप के तहत सालों तक जवाहिरी की तलाश करने के बाद हमारे इंटेलिजेंस ने इस साल की शुरुआत में जवाहिरी का पता लगाया। वह अपने परिवार के सदस्यों से मिलने के लिए काबुल शहर पहुंचा। उसके स्थान के स्पष्ट और ठोस सबूतों पर ध्यान से विचार करने के बाद मैंने हमले के लिए कहा। 

बाइडेन ने कहा कि इस मिशन की सावधानीपूर्वक योजना बनाई गई थी। साथ ही बाकी नागरिकों को नुकसान के जोखिम को कम से कम किया गया था। एक हफ्ते पहले सब कुछ ठीक होने की स्थितियों को देखते हुए मैंने हमले के लिए अंतिम मंजूरी दे दी और मिशन सफल रहा। हमले में जवाहिरी के परिवार के किसी भी सदस्य को चोट नहीं आई और कोई नागरिक हताहत नहीं हुआ।  मेरे प्रशासन ने कांग्रेस के नेताओं को भी इस बारे में बताकर रखा। जब मैंने लगभग एक साल पहले अफगानिस्तान में अपना सैन्य मिशन समाप्त किया, तो मैंने फैसला किया कि 20 साल के युद्ध के बाद अमेरिका को उन आतंकवादियों से बचाने के लिए अफगानिस्तान में जमीन पर हजारों जवानों की जरूरत नहीं है, जो हमें नुकसान पहुंचाना चाहते हैं।

बाइडेन ने कहा कि मैंने अमेरिकी लोगों से वादा किया था कि हम अफगानिस्तान और उसके बाहर प्रभावी आतंकवाद विरोधी अभियान चलाना जारी रखेंगे। हमने बस यही किया है। वहीं सऊदी अरब ने अलकायदा नेता अयमान अल-जवाहिरी की हत्या की जो बाइडेन की घोषणा का स्वागत किया है। एसपीए ने कहा कि जवाहिरी को आतंकवाद के नेताओं में से एक माना जाता है। हाल के सालों में कई बार जवाहिरी की मौत की अफवाहें उड़ी थीं और लंबे समय से उसके खराब स्वास्थ्य के बारे में बताया गया था। उसकी मौत इस बारे में सवाल उठाती है कि क्या जवाहिरी को अगस्त 2021 में काबुल के अधिग्रहण के बाद तालिबान से शरण मिली थी।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर