Pakistan: चीन के कुछ युवा पाकिस्तानी लड़कियों से शादी के नाम पर करा रहे हैं देह व्यापार

दुनिया
Updated Dec 04, 2019 | 18:52 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Girls Trafficked in Pakistan: चीन और पाकिस्तान की दोस्ती सबके सामने है मगर चीन के कुछ युवा पाकिस्तान की लड़कियों को झूठी शादी का जाल बुनकर चीन ले जा रहे हैं जहां उनसे देह व्यापार कराया जा रहा है। 

Pakistan: चीन के कुछ युवा पाकिस्तानी लड़कियों से शादी के नाम पर करा रहे हैं देह व्यापार
पाकिस्तान की करीब 629 गरीब लड़कियों और औरतों की कहानी बेहद दुखद है (Credit: Expose TV) 

मुख्य बातें

  • पाकिस्तान की कई लड़कियों को गुमराह कर शादी करके चीन ले जाया गया
  • वहां उन्हें देह व्यापार के काम में ढ़केल दिया गया ये एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है
  • पाकिस्तान की करीब 629 लड़कियों एवं महिलाओं को दुल्हन के रूप में चीन के पुरुषों को बेचा गया

नई दिल्ली: चीन से दोस्ती का दंभ भरने वाले पाकिस्तान की गरीब और कमजोर तबके की महिलाओं का चीन के कुछ युवा जमकर शोषण कर रहे हैं, जी हां इस बात का खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान की कई लड़कियों को गुमराह कर शादी करके चीन ले जाया गया और वहां उन्हें देह व्यापार के काम में ढ़केल दिया गया ये एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है।

पाकिस्तान की करीब 629 गरीब लड़कियों और औरतों की कहानी बेहद दुखद है, चीन के पुरुषों से इनकी शादी हुई और फिर उन्हें चीन ले जाया गया, लेकिन वहां उन्हें देह व्यापार के धंधे में जबरन उतार दिया गया। पाकिस्तान की करीब 629 लड़कियों एवं महिलाओं को दुल्हन के रूप में चीन के पुरुषों को बेचा गया जो उन्हें चीन ले गए। देश के गरीब एवं कमजोर लोगों का शोषण करने वाले मानव तस्करों के नेटवर्कों का भंडाफोड़ करने का संकल्प लेने वाले पाकिस्तानी जांचकर्ताओं ने यह सूची तैयार की है।

यह सूची 2018 से मानव तस्करी के जाल में फंसी महिलाओं की सबसे सटीक संख्या उपलब्ध कराती है। लेकिन जून में यह सूची सामने आने के बाद से नेटवर्कों के खिलाफ जांचकर्ताओं के आक्रामक अभियान की रफ्तार अचानक थम सी गई। जांच की जानकारी रखने वाले अधिकारियों का कहना है कि ऐसा सरकारी अधिकारियों के दबाव की वजह से हुआ है जो चीन से पाकिस्तान के लाभप्रद संबंधों को नुकसान पहुंचने से डरते हैं।

मानव तस्करों के खिलाफ सबसे बड़ा मामला बंद हो गया। अक्टूबर में, फैसलाबाद की अदालत ने तस्करी के संबंध में चीन के 31 नागरिकों को बरी कर दिया था। अदालत के एक अधिकारी और मामले की जानकारी रखने वाले पुलिस जांचकर्ता के मुताबिक पुलिस की ओर से की गई शुरुआती जांच में कई महिलाओं ने गवाही देने से इनकार कर दिया था क्योंकि या तो वह डरी हुईं थी या उन्हें चुप रहने के लिए पैसा दिया गया था। इन दोनों ने नाम उजागर न करने की शर्त पर यह जानकारी दी।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर