Pelosi Taiwan Visit : अमेरिका से टकराव की ओर चीन, पेलोसी के ताइपे पहुंचने के बाद ताइवान के रक्षा क्षेत्र में भेजे 21 फाइटर प्लेन

Pelosi's Taiwan Visit : अमेरिका की प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैंसी पेलोसी मंगलवार रात ताइवान की राजधानी ताइपे पहुंचीं। अमेरिकी अधिकारी की इस यात्रा के बाद चीन बुरी तरह भड़क गया है। उसने कहा है कि इससे अमेरिका और चीन के रिश्ते खराब होंगे।

21 Chinese military aircraft enter Taiwan Air Defence Zone amid Pelosi's Taiwan Visit
एडीआईजेड में चीन का लड़ाकू विमान। तस्वीर-ताइवान रक्षा मंत्रालय 
मुख्य बातें
  • अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की स्पीकर पेलोसी के ताइवान पहुंचने पर उनका भव्य स्वागत हुआ
  • पेलोसी के इस दौरे पर चीन बुरी तरह भड़क गया है, उसने कहा है कि इससे रिश्ते खराब होंगे
  • पेलोसी का कहना है कि उनका यह दौरा ताइवान के जीवंत लोकतंत्र को अमेरिकी समर्थन है

Pelosi Taiwan Visit : अमेरिकी संसद की प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैंसी पेलोसी की ताइवान यात्रा पर चीन बुरी तरह भड़क गया है। पेलोसी के ताइपे पहुंचने के थोड़ी देर बाद ही उसने अपने 21 फाइटर प्लेन  ताइवान के एयर डिफेंस आइडेंटिफिकेशन जोन (एडीआईजेड) में भेज दिए। ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने एडीआईजेड में दाखिल हुए चीन के फाइटर प्लेन की तस्वीर जारी की है। पेलोसी पूर्वी एशिया के दौरे पर हैं, वह मंगलवार को ताइवान पहुंचीं, इसके बाद वह जापान एवं दक्षिण कोरिया के दौरे पर जाएंगी। 

ताइवान ने चीन के लड़ाकू विमानों की तस्वीर जारी की
ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने ट्विटर पर कहा, 'पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के 21 फाइटर प्लेन 2 अगस्त 2022 को ताइवान के दक्षिणपश्चिमी क्षेत्र एडीआईजेड में दाखिल हुए।' मंत्रालय ने कहा कि चीन के इस उल्लंघन को देखते हुए ताइवान ने अपने लड़ाकू विमानों के गश्ती दल को तैयार किया और चीन के लड़ाकू विमानों को चेतावनी देते हुए सिग्नल भेजे। चीन के फाइटर प्लेन की निगरानी के लिए एयर डिंफेस सिस्टम को सक्रिय किया गया। 

ताइवान की समुद्री सीमा पर सैन्य अभ्यास करेगा चीन
पेलोसी के ताइपे पहुंचने के बाद बौखलाए चीन ने कहा है कि वह ताइवान से लगी अपनी समुद्री सीमा के चारों तरफ छह लाइव फायर सैन्य अभ्यास करेगा। यह सैन्याभ्यास गुरुवार से रविवार के बीच होगा। यही नहीं चीन ने पेलोसी की यात्रा का विरोध दर्ज कराने के लिए अमेरिका के राजदूत को तलब किया है। पेलोसी की यात्रा पर चीन की बयानबाजी पर व्हाइट हाउस ने प्रतिक्रिया दी है। अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा के कोऑर्डिनेटर जॉन किरबी ने कहा है कि 'हम तू-तू मैं मैं नहीं करेंगे। हम ऐसा कुछ भी नहीं करेंगे जिससे कि तनाव बढ़े। हम चाहेंगे कि चीन के साथ बातचीत के दरवाजे हमेशा खुले रहें।'

चीन के साथ बढ़ी तनातनी तो ताइवान पहुंच गईं US हाउस स्पीकर नैंसी पेलोसी, जानें- क्या है पूरा मामला?

चीन ने जारी किया है बयान
पेलोसी के चीन पहुंचने के बाद, चीन के विदेश मंत्रालय ने एक कड़ा बयान जारी कर कहा कि उनकी यात्रा 'एक-चीन सिद्धांत और चीन-अमेरिका के तीन संयुक्त सहमति पत्रों के प्रावधानों का गंभीर उल्लंघन है।' नैंसी पेलोसी की ताइवान यात्रा का द्विपीक्षय संबंधों पर ‘गंभीर असर’ पड़ेगा क्योंकि यह क्षेत्र की शांति और स्थिरता को ‘गंभीर रूप से कमजोर’ करता है। उसकी सरकारी मीडिया ने कहा कि सेना उनकी यात्रा का मुकाबला करने के लिए ‘लक्षित’ अभियान चलाएगी।
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर