Whatsapp New Bug: Whatsapp पर चल रहा है कैसा गड़बड़झाला, ऐसा किया तो लीक हो सकता है आपका फोन नंबर !

Whatsapp bug releasing phone number on Google search?: एक रिसर्च रिपोर्ट में ये दावा किया गया है कि वॉट्सऐप पर एक क्लिक से लोग अपना नंबर इंटरनेट पर लीक कर रहे हैं और ये गूगल सर्च पर ढूंढा जा सकता है।

Phone number leaking from Whatsapp to google search
Phone number leaking from Whatsapp to google search, वॉट्सएप से गूगल सर्च पर फोन नंबर  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • वॉट्सऐप में हो रहा है ये कैसा गड़बड़झाला ?
  • एक टेक रिसर्चर अतुल जयराम ने किया है दावा
  • गूगल सर्च पर दिख रहा है वॉट्सऐप यूजर का फोन नंबर

आज पूरी दुनिया के अधिकतर देशों में वॉट्सऐप (Whatsapp) एक ऐसा संवाद का जरिया है जो जरूरत सा बन चुका है। शायद ही किसी के स्मार्टफोन में कोई इसका उपयोग करता ना मिले। जितनी इसकी लोकप्रियता और यूजर संख्या है, उतने ही बड़े खतरे भी कभी-कभी खड़े हो जाते हैं, हालांकि कंपनी समय-समय पर इन दिक्कतों को दूर करती रहती है। इस बार जिस समस्या की हम बात कर रहे हैं वो एक स्वतंत्र रिसर्चर द्वारा लिखी गई रिपोर्ट के आधार पर है। एक ऐसा बग मिला है जिसकी वजह से तमाम लोगों का फोन नंबर गूगल सर्च पर उपलब्ध हो गया है वो भी प्लेन टेक्स्ट में।

क्या है मामला? : 'थ्रेटपोस्ट' पर एक 'बग हंटर' अतुल जयराम ने दावा किया है कि वॉट्सऐप पर मौजूद 'क्लिक टू चैट' (Click to chat) फीचर में एक ऐसा बग आया है, जो आपका फोन नंबर इंटरनेट पर रिलीज कर देता है। इससे बड़ा खतरा पैदा हो गया है क्योंकि अगर आपका नंबर लीग हुआ तो गूगल सर्च उसकी इंडेक्सिंग करेगा और फिर आपका नंबर हमेशा के लिए सर्च पर मौजूद रहेगा। कोई भी आपका फोन नंबर फिर गूगल पर सर्च करके निकाल सकता है जिससे लोगों की प्राइवेसी में दखल दिया जा सकता है।

क्या है 'क्लिक टू चैट' फीचर

वॉट्सऐप पर क्लिक टू चैट फीचर एक ऐसी सुविधा है जिसके जरिए आप सीधे किसी और से चैटिंग शुरू कर सकते हैं अगर आपकी फोन बुक में उसका नंबर सेव ना हो, तब भी। इसके जरिए कुछ वेबसाइट्स अपने यूजर्स से अपने विजिटर्स से बातचीत कर सकती हैं बिना नंबर सेव किए।

कैसे हो रहा है गड़बड़झाला

अतुल जयराम के मुताबिक जो लोग क्लिक टू चैट फीचर का इस्तेमाल कर रहे हैं उनके नंबर गूगल सर्च पर उपलब्ध हो सकते हैं क्योंकि जो सर्च है वो सिर्फ फीचर के मेटाडाटा की इंडेक्सिंग करता है। जयराम के मुताबिक यूजर्स के फोन नंबर गूगल सर्च पर यूआरएल पर प्लेन टेक्स्ट में उपलब्ध हो जाएंगे। इससे ऑनलाइन फ्रॉड करने वाले अपराधी सभी जरूरत के नंबर एकत्रित कर सकेंगे और आपकी निजी जानकारी को हैक कर सकते हैं। रिसर्चर के मुताबिक अब तक तकरीबन 3 लाख फोन नंबर गूगल द्वारा इंडेक्स किए जा चुके हैं।

क्या कुछ कर सकते हैं अपराधी

ऐसी स्थिति में आपकी निजी जानकारी का कई तरह से गलत उपयोग किया जा सकता है। थ्रेटपोस्ट से बातचीत करते हुए अतुल जयराम ने कहा, 'अगर यूजर्स का नंबर लीक होता है तो कोई भी आपको मैसेज कर सकेगा, कॉल कर सकेगा, उनके फोन नंबर को मार्केट, स्पैमर और स्कैमर्स को बेच सकता है। इसके अलावा वॉट्सऐप प्रोफाइल पर जाकर वे यूजर का प्रोफाइल फोटो देख सकेंगे और फिर रिवर्स इमेज सर्च के जरिए उसके अन्य सोशल मीडिया अकाउंट्स तक भी पहुंच सकेगा और किसी एक इंसान के बारे में काफी जानकारी जुटाई जा सकेगी।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर