Podcast: पॉडकास्ट कैसे शुरू करें, ये है स्टेप बाय स्टेप ट्यूटोरियल

How to start Podcast: पॉडकास्ट शुरू करने के लिए आपको स्टेप बाय स्टेप ट्यूटोरियल फॉलो करने की जरूरत है। ब्लॉगिंग से जल्दी सफलता प्राप्त करना है तो आप पॉडकास्ट शुरू कर सकते हैं।

podcast
पॉडकास्ट (Source: Pixabay) 

मुख्य बातें

  • पॉडकास्ट वर्तमान समय में अभिव्यक्ति का एक पॉपुलर माध्यम बन गया है
  • लोग लंबे आर्टिकल पढ़ने की बजाए वे उसे सुनना पसंद करते हैं
  • ब्लॉगिंग से जल्दी सफलता प्राप्त करना है तो आप पॉडकास्ट शुरू कर सकते हैं

पॉडकास्ट वर्तमान समय में अभिव्यक्ति का एक पॉपुलर माध्यम बन गया है। अब लोग लंबे आर्टिकल पढ़ने की बजाए वे उसे सुनना पसंद करते हैं जो छोटे फॉर्मैट में हो लेकिन पूरी तरह से इंफॉर्मेटिव हो। यह एक मीडियम है जो इंटरनेट पर फीड के द्वारा प्रकाशित की जाती है। जैसे इसे कंप्यूटर तथा पोर्टेबल मीडिया प्लेयरों जैसे आईपॉड तथा स्मार्टफोन आदि द्वारा चलाया जाता है। 

पॉडकास्ट शुरू करना बेहद आसान है लेकिन इसे शुरू करने के लिए कुछ स्टेप्स हैं जिन्हें आपको फॉलो करना होगा। सबसे पहले आपको टॉपिक का चुनाव करना होगा और इसका कोई नाम देना होगा। इसके बाद एपिसोड का फॉर्मैट डिसाइड करना होगा।

पॉडकास्टिंग ब्लॉगिंग की अपेक्षा एक कम प्रतिष्पर्धा वाला स्पेस है इसलिए इस समय पॉडकास्ट शुरू करने के लिए सबसे अच्छा समय है। जून 2020 तक की बात की जाए तो दुनियाभर में करीब 9 लाख पॉडकास्ट चल रहे हैं जबकि 600 मिलियन ब्लॉग्स चलाए जा रहे हैं।

पॉडकास्ट शुरू करना चाहते हैं तो फॉलो करें ये स्टेप्स-

प्लानिंग
पॉडकास्ट शुरू करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको इसके लिए प्लानिंग करनी पड़ती है। प्लानिंग, पॉडकास्ट का सबसे शुरुआती स्टेज है। इसके लिए आपको समय देने की जरूरत है। इसके लिए नोटबुक पर सबसे पहले प्लानिंग करें। 

टॉपिक चुनें
सेकेंड स्टेप में आप अपने पॉडकास्ट के लिए टॉपिक का चुनाव करें। उदाहरण के लिए अगर आपका पॉडकास्ट ट्रैवल को लेकर है तो उस हिसाब से उसका नाम भी रखें। धीरे-धीरे अपने पॉडकास्ट के कंटेंट में आप जैसे-जैसे विस्तार करते जाएंगे वैसे ही उसके नाम में भी हल्के बदलाव ला सकते हैं।

को-होस्ट चुनें
अगर आपका कोई फ्रेंड, है बिजनेस पार्टनर है जो आपके साथ को होस्ट कर सकता है तो उसे अपने साथ आने के लिए इनवाइट करें। इससे आपका पॉडकास्ट प्रोग्राम और भी एंगेजिंग हो जाएगा।

फॉर्मैट
पॉडकास्ट के फॉर्मैट को लेकर प्लानिंग करें। कितनी देर का आपका प्रोग्राम रहेगा। 5 मिनट का भी पॉडकास्ट होता है और 6 घंटे का भी पॉडकास्ट होता है। आप अपनी जरूरतों के हिसाब से तय करें कि आपको किस फॉर्मैट का रखना है।

स्टाइल
आप अपने पॉडकास्ट प्रोग्राम को किस स्टाइल में पेश करना चाहते हैं ये इस बारे में बात करता है। जैसे कि अगर आप किसी का इंटरव्यू लेना चाह रहे हैं तो बेहतर होगा कि आप आधे समय तक सेल्फ होस्टिंग करें इसके बाद इंटरव्यू की प्रक्रिया शुरू करें।

एपिसोड फॉर्मैट
इसके लिए आपको सबसे पहले टीजर देना होगा, फिर इंट्रो म्यूजिक फिर वेलकम और फिर एड के लिए समय छोड़ें। अब इंटरव्यू की प्रक्रिया शुरू करें फिर क्लोजिंग प्रोग्राम और फिर अंत में आउट्रो म्यूजिक।

अगली खबर