अलग-अलग चार्जर के झंझट से जल्द मिल सकता है छुटकारा! सभी गैजेट्स के लिए एक चार्जर लाने की तैयारी में सरकार

सभी गैजेट्स के लिए एक चार्जर? अलग- अलग इलेक्ट्रॉनिक गैज़ेटस के लिए अलग-अलग चार्जर रखने के झंझट से जल्द ही आप छुटकारा पा सकते हैं।

Photo For Representation
Photo Credit- UnSplash 
मुख्य बातें
  • सभी डिवाइसेज के लिए अलग-अलग चार्जर रखना होता है मुश्किल
  • सरकारी करने जा रही है मीटिंग
  • सभी डिवाइसेज के लिए एक चार्जर लाने पर होगी बात

Common Charger For All: आप बार-बार चार्जर भूल जाते हैं, अलग अलग डिवाइस के लिए अलग चार्जर रखते हैं। तो आपकी ये परेशानी का अब जल्द खत्म हो सकती है। दरअसल, केंद्र सरकार इस बात की तैयारी कर रही है कि क्या सभी तरह के गैजेट्स जो हम ज़्यादातर इस्तेमाल करते हैं, उसके लिए सिर्फ एक ही डिज़ाइन का चार्जर हो। इसके लिए सरकार ने इंडस्ट्रीज को चिट्ठी लिखकर 17 अगस्त को बैठक के लिए बुलाया है। 

बैठक का एजेंडा है कि क्या इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स को दो कैटेगरी में बांट कर उनके लिए यूनीफॉर्म/कॉमन चार्जर रखा जा सकता है। जो बड़े साइज के गैजेट्स हैं जैसे लैपटॉप और टैब आदि। इनके लिए एक कैटेगरी निर्धारित कर एक समान/यूनिफार्म डिज़ाइन के चार्जर हो सकें। 

WhatsApp होगा और भी मजेदार! जल्द आ सकता है Instagram जैसा ये फीचर

वहीं, छोटे या मीडियम साइज के गैज़ेट्स जैसे, फोन, ईयरबड्स, हेडफोन्स, स्मार्टवॉच, हेल्थ गैजेट्स और स्पीकर्स के लिए एक तरह की चार्जिंग व्यवस्था हो। इसके लिए Type-C चार्जर हो। इसके साथ ही प्रीमियम डिवाइसेज के लिए अलग चार्जर हो। 

सरकार ने 17 अगस्त को बुलायी अहम बैठक:

  • बैठक में सभी Stakeholders होंगे शामिल।
  • सभी तरह के गैजेट्स के लिए एक ही Type-C चार्जर पर होगी चर्चा।
  • इसके अलावा प्रीमियम कैटेगरी के गैजेट्स को इससे अलग रखा गया है।

यूजर्स को होगी आसानी, झंझट खत्म होगा: 

  • कंपनियों के लिए कॉस्ट सेविंग होगी।
  • सरकार का मानना है कि इससे बड़ी मात्रा में e-waste को रोकने में मदद मिलेगी।
  • हर बार खराब होने पर चार्जर खरीदने की जरूरत खत्म होगी।
  • अलग अलग टाइप के चार्जर को याद कर रखना या साथ मे कैरी करने का झंझट होगा ख़त्म।

Twitter ने ठीक किया एक सिक्योरिटी बग, खतरे में थे 54 लाख अकाउंट्स

सबसे बड़ा फायदा यह है कि इस कदम से सरकार सस्ते और घटिया क्वालिटी के सामान का इम्पोर्ट रोकने में सफ़ल होगी। 

समीर दिक्षित 

PRINCIPAL CORRESPONDENT

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर