रोहन बोपन्‍ना और रामकुमार की जोड़ी ने किया उलटफेर, शीर्ष वरीय जोड़ी को हराकर जीता एडीलेड इंटरनेशनल खिताब

स्पोर्ट्स
भाषा
Updated Jan 09, 2022 | 13:33 IST

Rohan Bopanna and Ramkumar Ramanathan: यह बोपन्ना का 20वां एटीपी युगल खिताब और रामकुमार के साथ पहला खिताब है। रामकुमार इस स्तर पर सिर्फ दूसरा फाइनल खेल रहे थे। वह 2018 में हॉल आफ फेम टेनिस चैंपियनशिप में उप विजेता रहे थे।

rohan bopanna and ramkumar ramanathan with title
खिताब के साथ रोहन बोपन्‍ना और रामकुमार रामनाथन 
मुख्य बातें
  • रोहन-रामकुमार ने एडीलेड इंटरनेशनल टूर्नामेंट के फाइनल में उलटफेर किया
  • रोहन-रामकुमार ने शीर्ष वरीय जोड़ी इवान डोडिग व मार्सेलो मेलो को फाइनल में हराया
  • रोहन-रामकुमार ने पहली बार एटीपी टूर पर जोड़ी बनाई और खिताब अपने नाम किया

एडीलेड: एटीपी टूर पर पहली बार जोड़ी बनाकर खेल रहे भारत के रोहन बोपन्ना और रामकुमार रामनाथन ने रविवार को यहां इवान डोडिग और मार्सेलो मेलो की शीर्ष वरीय जोड़ी को सीधे सेटों में हराकर उलटफेर करते हुए एडीलेड इंटरनेशनल टेनिस टूर्नामेंट का पुरुष युगल खिताब जीता। भारत की गैरवरीय जोड़ी ने एक घंटे और 21 मिनट में 7-6 (6) 6-1 से जीत दर्ज की। भारतीय जोड़ी ने चारों ब्रेक प्वाइंट बचाए जबकि दो बार विरोधी जोड़ी की सर्विस तोड़ी।

यह बोपन्ना का 20वां एटीपी युगल खिताब और रामकुमार के साथ पहला खिताब है। रामकुमार इस स्तर पर सिर्फ दूसरा फाइनल खेल रहे थे। वह 2018 में हॉल आफ फेम टेनिस चैंपियनशिप में उप विजेता रहे थे। बोपन्ना ने कहा, 'जब रामकुमार आपके साथ सर्विस कर रहा हो तो आप जल्दी अंक जीत सकते हो इसलिए यह फायदे की स्थिति है।'

किसी अन्य हमवतन और बायें हाथ के खिलाड़ी दिविज शरण की तुलना में रामकुमार के साथ खेलना किस तरह अलग है, इस बारे में पूछने पर बोपन्ना ने कहा, 'दिविज के साथ हमें अंक का मौका बनाना पड़ता है, सुनिश्चित करना होता है कि पहली वॉली पर मिलने वाले मौके को भुनाया जाए जबकि राम के साथ अंक जल्दी हासिल किया जा सकता है।'

बोपन्ना और रामकुमार इस खिताबी जीत के लिए इनामी राशि के रूप में 18700 डॉलर बांटेंगे जबकि प्रत्येक को 250 रैंकिंग अंक मिले। ऑस्ट्रेलियाई ओपन क्वालीफायर से पहले इस जीत से रामकुमार का आत्मविश्वास बढ़ेगा। वह एक बार फिर ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के एकल वर्ग के मुख्य ड्रॉ में जगह बनाने के लिए चुनौती पेश करेंगे।

बोपन्ना और रामकुमार ने शुरुआत में ही ब्रेक प्वाइंट बचाया और फिर बेहतर खेल दिखाया। सातवें गेम में मेलो 30-0 के स्कोर पर सर्विस कर रहे थे तब बोपन्ना ने डोडिग के दाईं ओर सर्विस रिटर्न के साथ अंक जुटाया और फोरहैंड विनर लगाकर स्कोर 30-30 किया। ब्राजील का खिलाड़ी हालांकि सर्विस बचाने में सफल रहा।

बोपन्ना ने अगले गेम में ब्रेक प्वाइंट बचाया और फिर सर्विस बचाकर स्कोर 4-4 किया। रामकुमार ने इसके बाद 5-6 के स्कोर पर अपनी सर्विस बचाकर पहले सेट को टाईब्रेक में खींचा। बोपन्ना ने 6-6 के स्कोर पर मेलो के सर्विस रिटर्न पर अंक बनाया और फिर ऐस के साथ पहला सेट जीता। दूसरे सेट में भारतीय टीम ने विरोधी जोड़ी को कोई मौका नहीं देते हुए जीत दर्ज की।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर