Europa League: यूरोपा लीग के सेमीफाइनल में पहुंचे मैनचेस्टर युनाइटेड और इंटर मिलान

Europa League Semi-Final: दिग्गज इंग्लिश फुटबॉल क्लब मैनचेस्टर युनाइटेड ने कोपेहेगन एफसी को मात देते हुए यूरोपा लीग के सेमीफाइनल लाइन-अप में अपनी जगह पक्की कर ली है।

Bruno Fernandes
Bruno Fernandes  |  तस्वीर साभार: AP
मुख्य बातें
  • यूरोपा लीग के सेमीफाइनल में पहुंची मैनचेस्टर युनाइटेड की टीम
  • कोपेनहेगन को मात देकर अंतिम-4 में पहुंचे 'रेड डेविल्स'
  • अतिरिक्त समय में ब्रूनो फर्नान्डेज ने पेनल्टी पर गोल करके जीत दिलाई

कोलोन (जर्मनी): 'रेड डेविल्स' के नाम से मशहूर इंग्लिश फुटबॉल क्लब मैनचेस्टर यूनाईटेड ने अतिरिक्त समय में पेनल्टी पर ब्रूनो फर्नांडिस के गोल की बदौलत कोपेनहेगन को 1-0 से हराकर यूरोपा लीग फुटबॉल टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बनाई। बेहद गर्मी में यूनाईटेड की युवा टीम ने अधिकांश समय गेंद को अपने कब्जे में रखा लेकिन टीम मौकों को भुनाने में विफल रही।

नियमित समय में दोनों ही टीमें गोल करने में नाकाम रही जिसके बाद 95वें मिनट में अंद्रियास बेलेंड ने पेनल्टी एरिया में एंथोनी मार्शल को गिरा दिया जिससे मैनचेस्टर यूनाईटेड को पेनल्टी मिली और फर्नांडिस ने इसे गोल में बदलकर टीम को बढ़त दिला दी जो निर्णायक साबित हुई। अंत तक स्कोर 1-0 कायम रहा जिसके साथ ही मैनचेस्टर युनाइटेड ने अंतिम-4 में अपना स्थान पक्का कर लिया।

क्वार्टर्स में मिली थी बड़ी जीत

इससे पहले टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने के लिए मैनचेस्टर यूनाईटेड ने लास्क लिंज को 2-1 से हराकर ऑस्ट्रिया के क्लब के खिलाफ दोनों चरण मिलाकर कुल 7-1 के अंतर से जीत दर्ज की थी। इस मुकाबले का पहला चरण पांच महीने पहले खेला गया था।

मैच में लास्क लिंज ने 55वें मिनट में फिलिप वीसिंगर के गोल से बढ़त बनाई थी लेकिन दो मिनट बाद जेसी लिंगार्ड ने यूनाईटेड को बराबरी दिला दी। एंथोनी मार्शल ने 88वें मिनट में यूनाईटेड की ओर से एक और गोल दागकर टीम की 2-1 से जीत पक्की कर दी। अब मैनचेस्टर युनाइटेड सेमीफाइनल में पहुंच चुकी और एफए कप के सीजन के एक और फाइनल में जगह बनाने को बेताब होगी।

इंटर मिलान भी सेमीफाइनल में पहुंची

रोमेलू लुकाकु ने एक गोल किया जबकि दूसरे गोल में मदद की जिससे इंटर मिलान ने बायर्न लीवरक्युसेन को 2-1 से हराकर यूरोपा लीग फुटबॉल टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बनाई। लुकाकु के शानदार प्रदर्शन की बदौलत इंटर ने लीवरक्युसेन के डिफेंस को ध्वस्त किया और नौ साल में पहली यूरोपीय ट्रॉफी जीतने की ओर कदम बढ़ाए। इंटर की टीम पिछली बार यूरोपीय लीग के सेमीफाइनल में चैंपियन्स लीग के दौरान 2010 में खेली थी जब टीम ने खिताब जीता था।

इंटर को निकोलो बारेला ने 15वें मिनट में बढ़त दिलाई जिन्होंने रिबाउंड होकर आए लुकाकु के शॉट को गोल में बदला। लुकाकु ने इसके छह मिनट बाद एश्ले यंग के साथ शानदार मूव बनाते हुए गोल दागा और इंटर को 2-0 से आगे कर दिया। लुकाकु के गोल के चार मिनट बाद ही काई हावर्ट्ज ने लीवरक्युसेन की ओर से गोल दागकर इंटर की बढ़त को कम किया लेकिन अपनी टीम को हार से नहीं बचा पाए।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर