छत्रसाल विवाद: दिल्‍ली पुलिस ने पीड़‍ितों के बयान दर्ज किए, सुशील कुमार की तलाश जारी

Sushil Kumar: इस मामले में दो बार के ओलंपिक मेडलिस्‍ट सुशील कुमार के नाम की एफआईआर दर्ज की गई है। सुशील कुमार फरार हैं और उनकी तलाश जारी है। दिल्‍ली/एनसीआर और पड़ोसी राज्‍यों में छापेमारी जारी है।

sushil kumar
सुशील कुमार 

मुख्य बातें

  • छत्रसाल विवाद में एक 23 साल के पहलवान की मौत हुई
  • दो बार के ओलंपिक मेडलिस्‍ट सुशील कुमार के नाम पर एफआईआर दर्ज
  • सुशील कुमार फरार हैं और दिल्‍ली पुलिस उनकी तलाश में जुटी हुई है

नई दिल्‍ली: छत्रसाल स्टेडियम में हुए झगड़े के मामले में दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार की तलाश जारी है जबकि दिल्ली पुलिस ने पीड़ितों के बयान दर्ज कर लिए हैं। इस विवाद में एक 23 साल के पहलवान की मौत हो गई थी। पुलिस ने कहा कि यह झड़प मॉडल टाउन इलाके में एक फ्लैट को खाली कराने को लेकर हुई।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि बीजिंग ओलंपिक में ब्रॉन्‍ज और लंदन ओलंपिक में सिल्‍वर मेडल जीतने वाले सुशील कुमार इस मामले में प्राथमिकी में नामजद हैं। वह फरार हैं और उनकी तलाश जारी है। दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के अलावा पड़ोसी राज्यों में उनकी तलाश में छापे मारे जा रहे हैं।
उन्होंने बताया कि पीड़ितों ने आरोप लगाया है कि सुशील घटना के समय घटनास्थल पर मौजूद थे।

यह घटना मंगलवार और बुधवार की दरमियानी रात को छत्रसाल स्टेडियम में घटी, जिसमें कथित रूप से अन्य पहलवानों द्वारा बेरहमी से पीटने के कारण 23 साल के एक पहलवान की मौत हो गई जबकि उसके दो साथी घायल हो गए।

पुलिस के अनुसार सुशील, अजय, प्रिंस, सोनू, सागर, अमित और अन्य के बीच पार्किंग क्षेत्र में झगड़ा हुआ। इसके बाद, पुलिस ने मॉडल टाउन पुलिस स्टेशन में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) और शस्त्र अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया।

घटना स्‍थल पर क्‍या-क्‍या मिला

एफआईआर में बताया गया कि चार घंटे चली इस घटना में दो अन्‍य लोग भी चोटिल हुए हैं। उन्‍होंने पुलिस को कहा कि शारीरिक रूप से हमला हुआ। एडीसीपी ने कहा, 'मृतक की पहचान सागर कुमार के रूप में हुई है। दिल्‍ली पुलिस ने हेड कांस्‍टेबल के बेटे और घायलों की पहचान सोनू महल (35 साल) और अमित कुमार (27 साल) के रूप में हुई है। हमने प्राथमिकी दर्ज की है। प्रिंस दलाल (24 साल) को गिरफ्तार किया गया है और मौके से एक डबल बैरक बंदूक भी जब्‍त की गई है।'

पुलिस सूत्रों ने कहा, 'सोनू महल  गैंगस्टर काला जत्थेदी का करीबी सहयोगी है और उसे पहले एक लूट और हत्या मामले में गिरफ्तार किया गया था। एफआईआर में बताया गया कि देर रात 2 बजे छत्रसाल स्‍टेडियम से गोली चलने की घटना के बाद पुलिस कंट्रोल रूम को फोन गया। फोन करने वाले ने दावा किया कि उन्‍होंने दो पुरुषों को अन्‍य पर गोली चलाते हुए देखा। जब पुलिस मौके पर पहुंची तो वहां पार्किंग में पांच कार मिली, लेकिन अंदर कोई नहीं था।'

पुलिस ने कहा, 'कार्यवाही के दौरान हमने पाया कि पीसीआर वाहन मौके पर आया और चोटिल व्‍यक्‍ति को बीजेआरएम अस्‍पताल ले गया।' जहां सागर चोट के कारण अपनी जान गंवा बैठे, वहीं सोनू और अमित का उपचार चल रहा है। पुलिस के मुताबिक स्‍टेडियम के बाहर खड़ी एक स्‍कॉर्पियो में जिला क्राइट टीम ने लोडेड डबल बैरल गन और तीन कार्टरिज मिली। आरोपी कार में इकट्ठा हुए और एक-दूसरे की पिटाई की व हमला किया।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर