कुश्‍ती का फाइनल हारने का हुआ इतना गम, बबीता फोगाट की बहन ने फांसी लगाकर दे दी जान

Babita Phogat cousin: बबीता फोगाट की ममेरी बहन रितिका ने आत्‍महत्‍या कर ली है। इसके बाद से रेसलिंग जगत में शोक की लहर फैल गई है। रितिका फाइनल मुकाबला नहीं जीत सकी, जिसकी वजह से उन्‍होंने फांसी लगाई।

wrestling
रेसलिंग 

मुख्य बातें

  • बबीता फोगाट की ममेरी बहन रितिका ने फांसी लगाकर जान दे दी है
  • रितिका फाइनल नहीं जीत सकी, जिसके गम में उन्‍होंने आत्‍महत्‍या की
  • मृतका का अंतिम संस्कार उसके पैतृक गांव राजस्थान के झुंझुनूं जिले के जैतपुर में हुआ

हिसार: बबीता फोगाट की ममेरी बहन रितिका को फाइनल की हार बर्दाश्‍त नहीं हुई, जिसके बाद उन्‍होंने सोमवार रात फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। रितिका ने अपने फूफा महाबीर फोगाट के गांव बलाली स्थित मकान में फंदा लगाकर जान दी। पुलिस ने पोस्‍टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। मृतका का अंतिम संस्‍कार उनके पैतृक गांव राजस्‍थान के झुंझुनूं जिले के जैतपुर में मंगलवार को हुआ।

रिपोर्ट्स के मुताबिक 17 साल की रितिका पिछले पांच सालों से अपने फूफा महाबीर फोगाट की एकेडमी में ट्रेनिंग ले रही थीं। रितिका ने 12 से 14 मार्च तक भरतपुर के लोहागढ़ स्‍टेडियम में राज्‍य स्‍तरीय सब-जूनियर, जूनियर महिला व पुरुष कुश्‍ती प्रतियोगिता में भाग लिया था। इस दौरान 14 मार्च को फाइनल मुकाबले में रितिका को शिकस्‍त मिली थी। बता दें कि रितिका अपनी बहनों गीता और बबीता जैसे स्‍टार पहलवान बनना चाहती थीं।

जानकारी के मुताबिक फाइनल मुकाबले के दौरान महाबीर फोगाट भी वहां मौजूद थे। रितिका इस हार से सदमें में चली गईं। 15 मार्च को रात करीब 11 बजे महाबीर फोगाट के गांव बलाली स्थित मकान के कमरे में पंखे पर दुपट्टे से लटककर रितिका ने अपनी जान दे दी।

रितिका ने 53 किलोग्राम भारवर्ग में खेल रहीं थी। लेकिन स्टेट चैंपियनशिप के इस फाइनल मुकाबले में वह सिर्फ एक अंक के अंतर से हार गई थी। महाबीर फौगाट ने रितिका को दिलासा भी दिया कि कोई बात नहीं हार जीत तो लगी रहती है। तैयारी करो आगे जीत जाओगी। मगर जिंदगी से रितिका ने हार मान ली और आत्‍महत्‍या करके रेसलिंग जगत में शोक की लहर फैला दी।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर