भारतीय महिला निशानेबाजों ने किया निराश, अंजुम और तेजस्‍वी फाइनल में जगह नहीं बना सकीं

स्पोर्ट्स
भाषा
Updated Jul 31, 2021 | 13:14 IST

Tokyo Olympics 2020: ओलंपिक से पहले शानदार प्रदर्शन करने वाली भारतीय निशानेबाजी टीम का खराब प्रदर्शन जारी है, जहां सौरभ चौधरी को छोड़कर किसी भी प्रतिभागी ने फाइनल्स के लिए क्वालीफाई नहीं किया।

anjum mudgil
अंजुम मोदगिल  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • अंजुम और तेजस्विनी महिलाओं की 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन स्पर्धा के फाइनल में नहीं पहुंच पाईं
  • अंजुम के फाइनल में पहुंचने की उम्‍मीद थी, लेकिन स्‍टैंडिंग में वह दमदार प्रदर्शन नहीं कर सकीं
  • तेजस्वी नीलिंग के खराब प्रदर्शन से उबरने में नाकाम रहीं

टोक्‍यो: भारतीय निशानेबाज अंजुम मोदगिल और तेजस्विनी सावंत शनिवार को यहां ओलंपिक में महिलाओं की 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन स्पर्धा में क्रमश: 15वें और 33वें स्थान के साथ फाइनल्स में जगह बनाने में नाकाम रहीं। ओलंपिक से पहले शानदार प्रदर्शन करने वाली भारतीय निशानेबाजी टीम का खराब प्रदर्शन जारी है, जहां सौरभ चौधरी को छोड़कर किसी भी प्रतिभागी ने फाइनल्स के लिए क्वालीफाई नहीं किया।

असाका निशानेबाजी परिसर में विश्व चैंपियनशिप की रजत पदक विजेता अंजुम ने '54 इनर 10 (10 अंकों के 54 निशाने)' के साथ 1167 अंक बनाये जबकि अनुभवी तेजस्वी ने स्टैंडिंग, नीलिंग और प्रोन पोजीशन की तीन श्रृंखलाओं में 1154 अंक ही बना सकी। अंजुम शुरुआती 40 निशानों के बाद शीर्ष आठ में थी और उनके फाइनल में पहुंचने की संभावना थी। वह हालांकि इसके बाद लय बरकरार नहीं रख सकी। नीलिंग और प्रोन में उनका प्रदर्शन अच्छा था, लेकिन स्टैंडिंग में वह सिर्फ 382 अंक ही जुटा सकी।

तेजस्वी नीलिंग के खराब प्रदर्शन से उबरने में नाकाम रहीं। उन्होंने प्रोन में 394 और स्टैंडिंग में 376 अंक बनाये। रुस ओलंपिक समिति (आरओसी) की यूलिया जायकोवा ओलंपिक क्वालीफिकेशन रिकॉर्ड कायम करते हुए 1182 अंक के साथ शीर्ष पर रही। क्वालीफिकेशन में शीर्ष आठ निशानेबाज फाइनल में जगह बनाते हैं।

जायकोवा के अलावा अमेरिका की सेगन मैडालेना, जर्मनी की जोलिन बीयर, आरओसी की यूलिया करीमोवा, सर्बिया की एंड्रिया अर्सोविक, स्विट्जरलैंड की नीना क्रिस्टन, स्लोनिया की जीवा ड्वोर्साक और नॉर्वे की जेनेट हेग डुएस्टैड ने फाइनल में जगह पक्की की। इन खेलों में अब भारत की तरफ से सिर्फ संजीव राजपूत अपनी चुनौती पेश करने के लिए बचे है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर