What Not To Buy On Dhanteras: धनतेरस के दिन इन चीजों की करें खरीदारी, घर में बनी रहेगी सुख-समृद्धि

Dhanteras 2021 Date: माना जाता है कि धनतेरस के मौके पर खरीदारी करने से घर में सुख-समृद्धि आती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस दिन क्या खरीदना चाहिए और क्या नहीं?

Dhanteras 2021 (Image: iStock)
Dhanteras 2021 (Image: iStock) 
मुख्य बातें
  • धनतेरस के मौके पर खरीदारी से घर में आती है सुख- समृद्धि।
  • जानें इस दिन क्या खरीदा होता है शुभ।
  • धनतेरस पर किन चीजों की खरीदारी की होती है मनाही?

कार्तिक मास कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को धनतेरस का त्योहार मनाया जाता है। धनतेरस के अवसर पर माता लक्ष्मी धनों के देवता भगवान कुबेर और धन्वंतरित की पूजा-अर्चना कर लोग सुख समृद्धि की कामना करते हैं। इस दिन खरीदारी करने को बहुत शुभ माना गया है। माना जाता है कि इस दिन खरीदारी करने से घर में सुख-समृद्धि आती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस दिन क्या खरीदना चाहिए और क्या नहीं खरीदना चाहिए?

धनतेरस पर खरीदें ये चीजें

धनतेरस के मौके पर सोने या चांदी के सिक्के को खरीदना बहुत शुभ माना गया है। इस दिन आप देवी लक्ष्मी और गणेश जी की प्रतिमा भी खरीदें और इनकी दीवाली के दिन इनकी पूजा करें। इसके अलावा इस दिन धनिया खरीदना काफी शुभ माना जाता है। इस धनिया को देवी लक्ष्मी की पूजा में शामिल करें और बाद में इसे मिट्टी में बो दें।

इसके अलावा धनतेरस के दिन सोना, चांदी और पीतल खरीदना भी बहुत शुभ माना गया है। इस दिन झाड़ू खरीदने का रिवाज है। माना जाता है कि झाड़ू में देवी लक्ष्मी का वास होता है। धनतेरस के दिन झाड़ू खरीदने से घर में लक्ष्मी का प्रवेश होता है। धनतेरस पर मिट्टी के दीये खरीदना भी शुभ माना गया है।

ये चीजें खरीदने से करें परहेज

धनतेरस के दिन लोहे की चीजें नहीं खरीदनी चाहिए। माना जाता है लोहे में राहु की छाया होती है। वहीं इस दिन कांच का सामान भी नहीं खरीदना चाहिए। कांच में भी राहु का वास होता है। धनतेरस के मौके पर काले रंग की चीजों को खरीदना भी अशुभ माना गया है। इसके अलावा इस दिन धारदार चीजें जैसे चाकू, कैंची आदि भी नहीं खरीदना चाहिए। कुछ मान्यता के अनुसार स्टील के बर्तन खरीदने की भी मनाही है, क्योंकि स्टील में भी कई बार लोहे का अंश होता है। इसकी जगह कॉपर या ब्रॉन्ज के बर्तनों की खरीदारी की जा सकती है।

बता दें कि हिंदू पंचाग के अनुसार यह हर वर्ष कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि पर मनाया जाता है। कार्तिक कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी पर धन्वंतरि देव का अवतरण हुआ था और इस दिन धन्वंतरि देव की पूजा की जाती है। इस साल यह 2 नवंबर को मनाई जा रही है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर