October 2021 Vrat & Festival List: नवरात्रि से दशहरा और करवाचौथ तक, अक्टूबर में मनाए जाएंगे यह व्रत और त्योहार

October Vrat Tyohar & Festival List 2021, October Month 2021 Calendar: अक्टूबर 2021 में इंदिरा एकादशी, शारदीय नवरात्रि, दुर्गा अष्टमी, महानवमी, दशहरा और करवाचौथ जैसे कई प्रमुख व्रत और त्योहार पड़ने वाले हैं। 

october 2021 vrat and tohar list, october 2021 fast and festival list
अक्टूबर 2021 में पड़ने वाले व्रत और त्योहार 
मुख्य बातें
  • अक्टूबर महीने में मनाए जाएंगे हिंदू धर्म के कई प्रमुख व्रत और त्योहार।
  • अक्टूबर के महीने में पड़ने वाली है शरद नवरात्रि।
  • इसी महीने में सुहागिन महिलाएं रखेंगी करवाचौथ का व्रत।

October Vrat Tyohar & Festival List 2021, October Month 2021 Calendar: अक्टूबर का महीना बेहद खास माना जाता है। हल्की गर्मी के बाद अक्टूबर के महीने से जाड़े के मौसम की शुरुआत होने लगती है। इसके साथ मौसम में काफी सुधार आता है और वातावरण बहुत खुशनुमा हो जाता है। इस मदहोश कर देने वाले अक्टूबर के महीने में कई प्रमुख व्रत और त्योहार मनाए जाते हैं। इस वर्ष अक्टूबर के महीने में सनातन धर्म के कई प्रमुख त्यौहार मनाए जाएंगे और व्रत रखे जाएंगे। अक्टूबर 2021 में पड़ने वाले व्रत और त्योहार की लिस्ट में इंदिरा एकादशी, शारदीय नवरात्रि, दशहरा, करवा चौथ समेत कई व्रत और त्योहार पड़ने वाले हैं। यहां जानें अक्टूबर के महीने में कौन से व्रत और त्योहार पड़ने वाले हैं। 

दशमी श्राद्ध: 01 अक्टूबर 2021 

फिलहाल पितृ पक्ष चल रहा है जिसका समापन 06 अक्टूबर को है। इसी बीच, 01 अक्टूबर को दशमी श्राद्ध की तिथि है। जिस व्यक्ति का निधन महीने के कृष्ण या शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को हुआ था उनका श्राद्ध दशमी श्राद्ध पर करने से लक्ष्मी जी की कृपा हमेशा बनी रहती है। 

इंदिरा एकादशी: 02 अक्टूबर 2021 (Indira Ekadashi)

पितृ पक्ष के बीच पड़ने वाली इंदिरा एकादशी बहुत महत्वपूर्ण मानी गई। इस दिन पितरों के नाम किए गए पुण्य से मोक्ष का दरवाजा खुल जाता है। जो व्यक्ति इस एकादशी पर व्रत रखता है उसे बैकुण्ठ प्राप्त होता है। 

प्रदोष व्रत: 04 अक्टूबर 2021 (Pradhosh Vrat)

भगवान शिव तथा माता पार्वती को समर्पित प्रदोष व्रत हर महीने कृष्ण व शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि पर रखा जाता है। इस दिन प्रदोष काल में भगवान शिव की पूजा करने से भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

मासिक शिवरात्रि: 05 अक्टूबर 2021 (Masik Shivratri)

मासिक शिवरात्रि का व्रत महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि पर रखा जाता है। इस दिन भगवान शिव तथा माता पार्वती की पूजा श्रद्धा पूर्वक करने से विशेष कृपा प्राप्त होती है।

सर्वपितृ अमावस्या: 06 अक्टूबर 2021

06 अक्टूबर को पितृ पक्ष समाप्त हो जाएगा। सर्वपितृ अमावस्या पर उन पितरों का श्राद्ध किया जाता है जिनकी पुण्यतिथि अज्ञात होती है। 

शारदीय नवरात्रि: 07 अक्टूबर 2021 (Navratri)

इस वर्ष 07 अक्टूबर से शारदीय नवरात्रि प्रारंभ हो रही है जो 15 अक्टूबर को समाप्त होगी। 07 अक्टूबर को कलश स्थापना होगा।

विनायक गणेश चतुर्थी: 09 अक्टूबर 2021 (Vinayak Ganesh Chaturthi)

हर महीने शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि पर गणेश चतुर्थी का व्रत रखा जाता है। आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि 09 अक्टूबर को पड़ रही है।

दुर्गा अष्टमी: 13 अक्टूबर 2021 (Durga Ashtami)

13 अक्टूबर को शारदीय नवरात्रि की अष्टमी तिथि पड़ रही है जिसे दुर्गाष्टमी के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन मां दुर्गा के आठवें स्वरूप की पूजा की जाती है।

महानवमी: 14 अक्टूबर 2021 (Mahanavami)

महानवमी तिथि सनातन धर्म में बेहद महत्वपूर्ण मानी जाती है। महानवमी तिथि को मां दुर्गा के नौवें स्वरूप मां सिद्धिदात्री की पूजा होती है। इस दिन कन्या पूजन करवाया जाता है।

विजय दशमी, दशहरा: 15 अक्टूबर 2021 (Vijayadashami Dussehra)

इस वर्ष 15 अक्टूबर को विजयदशमी या दशहरा का पर्व मनाया जाएगा। भगवान राम द्वारा रावण का वध करने के बाद से इस‌ तिथि को बुराई पर अच्छाई की जीत के रूप में मनाया जाता है। पौराणिक कथाओं के अनुसार, इस दिन मां दुर्गा ने महिषासुर का वध किया था। 

पापाकुंशा एकादशी: 16 अक्टूबर 2021

इस वर्ष पापाकुंशा एकादशी 16 अक्टूबर 2021 के दिन पड़ने वाली है। इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से विशेष लाभ प्राप्त होता है।

शरद पूर्णिमा, कोजागर पूजा: 19 अक्टूबर 2021 (Sharad Purnima)

शरद पूर्णिमा के दिन चंद्रमा सोलह कलाओं से युक्त होता है। इस दिन लोग रात में चंद्रमा की रोशनी में खीर रखते हैं और दूसरे दिन उसका सेवन करते हैं। मान्यताओं के अनुसार, ऐसा करने से स्वास्थ्य बना रहता है।

करवा चौथ: 24 अक्टूबर 2021 (Karwa Chauth)

करवा चौथ का पर्व सुहागिन महिलाओं के लिए बेहद महत्वपूर्ण माना गया है। करवा चौथ के दिन सुहागिन महिलाएं अपने पति की दीर्घायु, सुरक्षा तथा सुखी जीवन के लिए व्रत रखती हैं।

अहोई अष्टमी: 28 अक्टूबर 2021 (Ahoi Ashtami)

अहोई अष्टमी का व्रत करवा चौथ के 04 दिन बाद और दीपावली से 08 दिन पहले रखा जाता है। इस वर्ष अहोई अष्टमी 28 अक्टूबर के दिन मनाई जाएगी। माताएं इस दिन अपनी संतान की दीर्घायु के लिए पूजा करती हैं। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर