Sai Baba Bhajan: 'गुरुवार को जरूर सुनें साई का यह भजन, हर मानसिक कष्ट होगा दूर

आध्यात्म
Updated Oct 29, 2020 | 06:15 IST

Famous hymns of Sai Baba : यदि आप मानसिक कष्ट झेल रहे अथवा अशांति महसूस कर रहे हैं तो आपको साईं के भजन जरूर सुनने चाहिए। ये भजन तन और मन की सब पीड़ा को हर लेंगे।

मनुष्य के जीवन में कष्ट का आना जाना लगा रहता है। किसी के जीवन में परेशानियां होती हैं बस उनका रूप अलग-अलग होता है। परेशानियों से मुकाबला करने के लिए ईश्वर की आराधना करना जरूरी होता है, क्योंकि इस आराधना से मन को शक्ति मिलती है। यदि आप किसी भी तरह की समस्या को झेल रहे तो आपको गुरुवार के दिन साईं के भजन आत्मिक शांति देंगे। ये भजन तन और मन के हर कष्ट को हरने वाले हैं।

यहां साईं के जिस भजन के बारे में आपको बता रहे हैं, उसमें जीवन के हर पहलू का जिक्र हैं और इस भजन को सुनने के बाद आपके मन को शांति और नई राह जरूर मिलेगी। साईं के भजन गाने या सुनने की आदत डालने से आपको मेडिटेशन जैसा अनुभव प्राप्त होगा।

साईं कृपा पाने के लिए गुरुवार को करें ये काम

  • गुरुवार के दिन साईं पूजा का संकल्प लें और संभव हो तो व्रत भी रखें। गुरुवार के दिन पूजा के बाद साईं कथा पढ़ें और साईं के मंत्रों का जाप करें। शाम के समय साईं के आगे दीपक जला कर उनके भजन गाएं।
  • गुरुवार के दिन साईं को पीले फूल, वस्त्र और भोग अर्पित करें। इसके बाद वस्त्र और भोग का प्रसाद गरीबों में बांट दें। ऐसा करने से आपके दुख और दर्द दूर होंगे। साईं गरीबों की सेवा से बेहद प्रसन्न होते हैं।
  • गुरुवार के दिन साईं बाबा को खिचड़ी का भोग लगा कर भूखे लोगों को खिलाएं। ऐसा करने से आपके घर में कभी अन्न की कमी नहीं होगी।
  • किसी विशेष मनोकामना की पूर्ति के लिए साईं के समक्ष् गुरुवार की शाम को 11 मुख वाला एक दीपक जलाएं और श्री साई चालीसा का पाठ 3 बार करें। इससे आपके हर रुके हुए काम पूरे हो जाएंगे।
  • साईं कृपा के लिए ‘ॐ साईं राम’ मंत्र का जाप कम से कम 108 बार करें। साईं की मंत्र जाप के लिए तुलसी या रुद्राक्ष की माला का ही प्रयोग करें।

‘साई दर्शन से नूर होता है’ भजन

साई दर्शन से नूर होता है,

आत्मा को सुरूर होता है,

साई दर्शन से नूर हो गया ।।

मंजिलें दूर भागती हैं क्यूं,

रास्तों का कसूर होता है,

साई दर्शन से नूर होता है ।।

उंगलियां बेवजह नहीं उठती

कोई कारण जरूर होता है

साई दर्शन से नूर होता है ।।

वक्त बदले तो सब बदलता है

अदमी बेकसूर होता है

साई दर्शन से नूर होता है ।।

डूब जाते हैं जो भी किनारों पर

नियतों में फतूर होता है

साई दर्शन से नूर होता है ।।

दर्द दुनिया का गम जमने का

साईं पूजा से दूर होता है

साई दर्शन से नूर होता है ।।

साई दर्शन से नूर होता है

आत्मा का सुरूर होता है

साई दर्शन से नूर होता है।।

शिरडी वाले साईं बाबा के ये भजन जब भी आपका मन घबराएं सुन लें। आपकी समस्या जरूर दू हो जाएगी।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर