Surya Devta Puja: रोज सुबह सूर्य देवता को दें अर्घ्य, नौकरी से लेकर स्वास्थ्य तक सभी समस्याओं से मिलेगा छुटकारा!

Surya Arghya Ke Fayde: सूर्य देवता को जल चढ़ाने की प्रथा हिंदू धर्म में काफी पुरानी है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार भगवान सूर्य देवता को जल चढ़ाने से नौकरी से लेकर स्वास्थ्य तक सभी समस्याओं से छुटकारा मिल जाता है। इसके अलावा कुंडली में भी सूर्य देवता की कमजोर स्थिति मजबूत होती है।

Surya Devta Puja,  Surya Devta,  Offering Water To Surya Devta,
Surya Devta Pooja  |  तस्वीर साभार: Instagram
मुख्य बातें
  • सूर्य देव और चंद्र देव ऐसे प्रत्यक्ष देव है जिनके साक्षात दर्शन होते हैं
  • सूर्य को जल चढ़ाने का उल्लेख वेदों और पुराणों में भी किया गया है
  • सूर्य देवता को धार्मिक आस्था का प्रतीक माना गया है

Benefits Of Offering Water To Surya Devta: हिंदू धर्म में सूर्य को जल चढ़ाने का विशेष महत्व है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार भगवान सूर्य देवता को जल चढ़ाने से विशेष लाभ की प्राप्ति होती है। सूर्य देव और चंद्र देव ऐसे प्रत्यक्ष देव है जिनके साक्षात दर्शन होते हैं। सूर्य को जल चढ़ाने का उल्लेख वेदों और पुराणों में भी किया गया है। सूर्य देवता को धार्मिक आस्था का प्रतीक माना गया है। हिंदू धर्म में ऐसी मान्यता है कि सूर्य देवता को जल चढ़ाने से व्यक्ति सभी संकटों से दूर हो जाता है। इसके अलावा व्यक्ति का सौभाग्य बना रहता है और कुंडली में सूर्य की स्थिति मजबूत होती है। अगर कुंडली में शनि की बुरी दृष्टि हो तो सूर्य को अर्घ्य देने से इसका प्रभाव समाप्त हो जाता है। आइए जानते हैं सूर्य को जल चढ़ाने के चमत्कारी फायदे...

नौकरी व व्यापार में मिलती है तरक्की

सूर्य को जल चढ़ाने से नौकरी व कारोबार में उन्नति होती है। व्यक्ति को हर मंजिल की प्राप्ति होती है। वह जिस कार्य के लिए मेहनत करता है, वह कार्य पूरा होता है। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक सूर्य वह ग्रह है जो व्यक्ति को मान ना सम्मान दिलाता है। ऐसे में अगर आपकी नौकरी से जुड़ी कोई भी परेशानी चल रही हो तो नियमित रूप से सूर्य को जल अर्पित करने से वह परेशानी से छुटकारा मिल सकता है।

ये भी पढ़ें: मुरादें पूरी करेंगे भोलेनाथ, सावन सोमवार व्रत पर जरूर करें इस कथा का पाठ

सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है

सूर्य को सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक माना जाता है। सूर्य की किरणें शरीर में मौजूद बैक्टीरिया को दूर कर आपको निरोग बनाने में मदद करती है। सूर्य को सुबह जल चढ़ाने से व्यक्ति का मस्तिष्क में तेजी से विकास होता है। किसी भी कार्य को करने के लिए सोचने और समझने की शक्ति मिलती है। धार्मिक और ज्योतिषीय दृष्टिकोण से देखें तो सूर्य को आत्मा का कारक माना गया है। इसलिए रोजाना सूर्य को एक लोटा जल चढ़ाने से पॉजिटिव ऊर्जा का संचार होता है।

(डिस्क्लेमर : यह पाठ्य सामग्री आम धारणाओं और इंटरनेट पर मौजूद सामग्री के आधार पर लिखी गई है। टाइम्स नाउ नवभारत इसकी पुष्टि नहीं करता है।)
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर