Shravan 2020: ये हैं सावन मास के प्रमुख व्रत और त्‍योहार, देखें सोमवार व्रत से लेकर तीज, नाग पंचमी तक की तारीख

Sawan month vrat dates: श्रावण मास 6 जुलाई से प्रारंभ हो रहा है और 3 अगस्त को समाप्त होगा। श्रावण मास हिंदू धर्म का सबसे पवित्र और धार्मिक महीना होता है। इस बार सावन में कई महत्वपूर्ण दिन पड़ रहे हैं।

sawan mahine ke vrat tyohar festivals teej nag panchami putrada ekadashi somavati amavsya kark sankranti 2020 important dates
sawam somwar vrat dates, सावन के प्रमुख व्रत व त्‍योहार 

मुख्य बातें

  • सावन की शुरुआत और अंत सोमवार के दिन ही हो रहा है
  • इस बार सावन में पांच सोमवार व्रत के लिए मिलेंगे
  • कई प्रमुख त्योहार जैसे तीज, नाग पंचमी, पुत्रदा एकादशी सावन मास में ही पड़ेंगे

Sawan 2020 Important Dates : भगवान शिव को समर्पित श्रावण मास व्रत और पूजा-पाठ के लिए जाना जाता है। सावन महीने में पड़ने वाले हर सोमवार को शिवजी की विशेष पूजा के साथ व्रत रखने का विधान है, लेकिन सावन में इस बार कई और महत्वपूर्ण व्रत और त्योहार भी आएंगे। श्रावण का शुभ महीना, 'सावन' और 'अवनि' के नाम से भी जाना जाता है। इस बार सावन 6 जुलाई से शुरू होगा। श्रावण में भगवान शिव की पूजा करने से भक्तों को मोक्ष की प्राप्ति होती है। भगवान शिव के इस पावन माह में कौन से मुख्य व्रत और त्योहार पड़ेंगे आइए जानें।

Sawan 2020 kab se hai date : श्रावण कब से शुरू होगा?

हिंदू कैलेंडर के अनुसार श्रावण मास 6 जुलाई से शुरू होगा और इसकी समाप्ति 3 अगस्त को होगी। इस बार सावन में पांच सोमवार पड़ रहे हैं। खास बात ये है कि सावन के पहले दिन ही पहला सोमवार पड़ रहा है और आखिरी भी सोमवार को ही होगा।

Sawan 2020 ke somavar kab hain : सावन 2020 के सोमवार

हिंदू कैलेंडर के अनुसार, पहला श्रावण सोमवार 6 जुलाई को है। इसके बाद 13 जुलाई को हैं दूसरा, 20 जुलाई को तीसरा श्रवण सोमवार, 27 जुलाई को चौथा श्रवण सोमवार और 3 अगस्त जो कि पांचवां और अंतिम श्रवण सोमवर होगा। 3 अगस्त श्रावण मास का अंतिम दिन भी होगा। इसके अलावा सावन में कई और त्योहार भी पड़ेंगे।

Sawan 2020 ke vrat tyohar ki dates : सावन के प्रमुख त्योहार और व्रत

6 जुलाई सावन मास व्रत प्रारंभ, पहला सोमवार व्रत
7 जुलाई मंगला गौरी व्रत
8 जुलाई संकष्टी चतुर्थी, पंचक प्रारंभ
10 जुलाई मौना पंचमी, नाग मरुस्थले
13 जुलाई दूसरा सोमवार व्रत, महाकाल सवारी
14 जुलाई मंगला गौरी व्रत और गुरु हरकिशन जयंती
16 जुलाई सूर्य कर्क संक्रांति और कामिका एकादशी व्रत
17 जुलाई सौर श्रावण मास प्रारंभ
18 जुलाई शिव चतुर्दशी
20 जुलाई सोमावती और श्रावणी अमावस्या, तीसरा सोमवार व्रत
21 जुलाई मंगला गौरी व्रत
22 जुलाई सिंधारा दोज, स्वामी करपात्री महाराज जयंती
23 जुलाई मधुश्रुवा, हरियाली तीज, स्वर्ण गौरी व्रत
24 जुलाई विनायकी चतुर्थी और दूर्वा गणपति व्रत
25 जुलाई नागपंचमी, तक्षक पूजा, कल्कि जयंती
27 जुलाई महाकाल सवारी (उज्जैन) तुलसीदास जयंती, मोक्ष सप्तमी, चौथ सोमवार व्रत
28 जुलाई मंगला गौरी व्रत
30 जुलाई पुत्रदा, पवित्रा एकादशी
3 अगस्त पांचवां और अंतिम सोमवार व्रत

sawan mein shiv puja ka mahatva : श्रावण में भगवान शिव की पूजा करने पुण्य लाभ

सावन में भगवान शिव की पूजा करने से मोक्ष प्राप्त होता है। सावन के सोमवार से प्रारंभ व्रत को यदि  अविवाहित लड़कियां 16 सोमवार तक जारी रखें तो उन्हें मनचाहा वर मिलता है। वहीं सुख-समृद्धि और धन-वैभव की प्राप्ति भी मनुष्य को होती है। वैवाहिक जीवन सुखमय बनता है।

अगली खबर