बिछिया पहनते वक्त सुहागिनें रखें इस बात का ध्यान, नहीं तो हो सकता है बड़ा नुकसान

Toe Ring Rules: हिंदू धर्म में विवाहित महिलाओं का सिंदूर लगाने और मंगलसूत्र पहनने के साथ ही बिछिया पहनना भी जरूरी होता है, इन्हें सुहाग का प्रतीक माना जाता है। लेकिन बिछिया पहनते समय कुछ नियमों का पालन करना जरूरी होता है। क्योंकि ज्योतिष के अनुसार, बिछिया का संबंध चंद्र ग्रह से होता है।

Toe Ring
बिछिया का महत्त्व  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • सुहागिनों को पैर की दूसरी अंगुली नहीं रखनी चाहिए खाली
  • केवल आभूषण नहीं बल्कि सुहाग का प्रतीक होता है बिछिया
  • बिछिया के गुम होने से पति के स्वास्थ्य पर पड़ता है बुरा प्रभाव

Toe Ring Wearing Rules:  हिंदू धर्म में सुहागिनों को कुछ चीजें पहनना अनिवार्य होता है। क्योंकि इसका संबंध पति की दीर्घायु और बेतरह स्वास्थ्य से होता है। वैसे तो सुहागिन महिलाओं को 16 श्रृंगार करने चाहिए। लेकिन कुछ ऐसी चीजें हैं, जिसे सुहाग का प्रतीक माना जाता है। जैसे प्रतिदिन मांग में सिंदूर लगाना, गले में मंगलसूत्र पहनना और पैर की अंगुलियों में चांदी की बिछिया पहनना। ये हिंदू धर्म में हर सुहागिन को पहनना अनिवार्य होता है। क्योंकि विवाह की वेदी में भी इन्हें पहनाने की रस्म होती है। बात करें बिछिया की तो इसे लेकर महिलाओं को कुछ विशेष सावधानी बरतने की जरूरत होती है। क्योंकि बिछिया को लेकर की गई गलती आपके पति के लिए नुकसानदेह हो सकती है। इसलिए बिछिया पहनते समय इन बातों को जरूर ध्यान में रखें।

पढ़ें- Eid ul-Fitr 2022 Date, Moon Sighting in India update

भूलकर भी ना पहनें सोने का बिछिया

आप चाहे कितने भी अमीर क्यों ना हों। लेकिन कभी भी सोने के बिछिया नहीं पहनना चाहिए। सिर्फ बिछिया ही नहीं बल्कि सोने की पायल भी नहीं पहननी चाहिए। हमेशा चांदी की बिछिया और पायल ही पैरों में पहनें। क्योंकि पैरों में कोई भी सोने का आधूषण नहीं पहनना चाहिए।

दूसरों से शेयर न करें बिछिया

बिछिया मात्र आभूषण नहीं बल्कि सुहाग का प्रतीक होता है। इसलिए अपनी बिछिया किसी के साथ न बांटें और ना ही किसी अन्य महिला की बिछिया खुद पहनें। ऐसा करने से पति-पत्नी के बीच तनाव बढ़ता है और रिश्ते में खटास आ जाती है।

पैर की दूसरी अंगुली में पहनें बिछिया

वैसे तो पैर की पांचों अंगुलियों की बिछिया मार्केट में मिलती है। कई महिलाएं पैर की दो या फिर तीन अंगुलियों में भी बिछिया पहनती है। आप कितनी अंगुलियों में बिछिया पहनना चाहती हैं यह निर्णय आपका है। लेकिन सुहागिन स्त्रियों के पैर की दूसरी अंगुली में बिछिया जरूर होनी चाहिए।  

गुम ना होने दें बिछिया

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बिछिया का संबंध चंद्र ग्रह से होता है। इसलिए इसे पहनना शुभ माना जाता है। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि अपना बिछिया गुम न होने दें। बिछिया का गुम होना अशुभ माना जाता है और इसका बुरा असर पति के स्वास्थ्य पर पड़ता है।

(डिस्क्लेमर: यह पाठ्य सामग्री आम धारणाओं और इंटरनेट पर मौजूद सामग्री के आधार पर लिखी गई है। टाइम्‍स नाउ नवभारत इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है।)

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर