Janmashtami 2021: जन्माष्टमी पर करें इनमें से कोई भी उपाय, सूनी गोद भरने समेत पूरी होंगी सारी मनोकामनाएं

Janmashtami 2021: जन्माष्टमी का पर्व हर साल भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाया जाता है। इस बार जन्माष्टमी 30 अगस्त को है। इस दिन कुछ खास उपाय करने से मनोकामनाओं की पूर्ति होती है।

Janmashtami ke upay, Janmashtami 2021
जन्माष्टमी 2021 (pic: Istock) 

मुख्य बातें

  • जन्माष्टमी के दिन बाल गोपाल की पूजा से कष्ट दूर होते हैं।
  • निसंतान दंपत्तियों को इस दिन व्रत रखना चाहिए।
  • जन्माष्टमी के दिन लड्डू गोपाल की पूजा से कष्ट दूर होते हैं।

Janmashtami ke upay: हर साल भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को जन्माष्टमी का पर्व मनाया जाता है। इस दिन भगवान श्रीकृष्ण का जन्म हुआ था। इस साल कृष्ण जन्माष्टमी 30 अगस्त को मनाई जाएगी। धार्मिक मान्यता के अनुसार इस दिन श्रीकृष्ण की आराधना करने से भक्तों के कष्ट दूर होते हैं और उनकी सारी मनोकामनाएं पूरी होती है। खासतौर पर निसंतान दंपत्तियों के लिए ये दिन बेहद खास होता है। माना जाता है कि जन्माष्टमी के दिन ऐसे दंपत्ति के व्रत रहने से जल्द ही उनकी सूनी गोद भर जाती है और उन्हें लड्डू गोपाल जैसे संतान की प्राप्ति होती है। इस दिन कुछ और उपाय करना भी कारगर माना जाता है।

Janmashtami ke upay in hindi 

1.पंडित हरिशंकर द्विवेदी के अनुसार जो लोग सुंदर और गुणवान संतान पाना चाहते हैं उन्हें जन्माष्टमी के दिन व्रत रखना चाहिए। साथ ही सर्वधर्मान् परित्यज्य मामेकं शरणं व्रज। अहं त्वा सर्वपापेभ्यो मोक्षयिष्यामि मा शुच।। मंत्र का 108 बार जाप करना चाहिए। इससे उनकी इच्छा पूरी होगी।

2.अगर आपके बच्चे का मन पढ़ाई में नहीं लगता है या आप चाहते हैं आपकी संतान बुद्धिमान हो तो जन्माष्टमी की रात पूजन के समय देवकीसुतं गोविन्दम् वासुदेव जगत्पते। देहि मे तनयं कृष्ण त्वामहं शरणं गत:।। मंत्र का जाप करें। ऐसा करने से आपका होने बच्चा बुद्धिमान बनेगा।

3.गुणवान संतान प्राप्ति के लिए जन्माष्टमी के दिन नंद लाला को देसी घी के लड्डुओं का भोग लगाएं। अब इसके प्रसाद को गर्भवती स्त्री को खिलाएं। इससे होने वाली संतान बुद्धिमान, गुणवान और सुंदर होगी।

4.अगर किसी की कुंडली में बुध और गुरु ग्रह खराब होते हैं तब भी उन्हें संतान प्राप्ति में दिक्कतें आती हैं। ऐसे में पति-पत्नी को जन्माष्टमी के दिन तुलसी की माला से 'संतान गोपाल मंत्र' का 108 बार जप करना चाहिए। इससे उनकी इच्छा पूरी होगी।

5.जन्माष्टमी के दिन जड़ वाले खीरे को काटकर श्रीकृष्ण का जन्म कराएं। अब इस खीरे को गर्भवती महिला प्रसाद के तौर पर अगले दिन खाएं। इससे संतान प्राप्ति में आ रहीं बाधाएं दूर हो सकती हैं।

6.जन्माष्टमी से लगातार 21 दिनों तक लड्डू गोपाल की पूजा करने से सारी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। इससे भाग्य का साथ मिलता है।

7.अगर आपका कोई काम बनते-बनते अटक जाता है तो जन्माष्टमी के दिन श्रीकृष्ण को माखन-मिश्री का भोग लगाएं। इससे बाल गोपाल की आप पर कृपा होगी।

disclaimer : ये लेख आचार्य जी से की गई बातचीत पर आधारित है। किसी भी उपाय को अपनाने से पहले किसी जानकार से मागदर्शन लें। टाइम्‍स नाउ नवभारत ऐसे तथ्यों की पुष्‍ट‍ि नहीं करता है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर