Indira Ekadashi 2022: पितरों को दिलाना चाहते हैं मोक्ष? तो इंदिरा एकादशी पर भूलकर भी ना करें ये काम 

Indira Ekadashi 2022 Date, Time, Kya Na Karein (इंदिरा एकादशी 2022 पर क्या ना करें): हिंदू धर्म में इंदिरा एकादशी का विशेष महत्व है। ऐसा कहा जाता है कि इस व्रत को श्रद्धा पूर्वक करने से पितरों के आत्मा को शांति मिलती है। लेकिन इस दिन कुछ कामों को करना वर्जित भी माना गया है। आइए जानें इंदिरा एकादशी के दिन कौन से काम नहीं करने चाहिए।

Indira Ekadashi 2022 Date, Time, Kya Na Karein, Indira Ekadashi Par Kya Na Karein
Indira Ekadashi 2022 (Pic: iStock) 
मुख्य बातें
  • 21 सितंबर को रखा जाएगा इंदिरा एकादशी का व्रत।
  • इंदिरा एकादशी के दिन कुछ कामों को करना वर्जित है।
  • इंदिरा एकादशी पर भूल से भी नहीं करने चाहिए कुछ कार्य।

Indira Ekadashi 2022 Date, Time, Kya Na Karein (इंदिरा एकादशी 2022 कब): पंचांग के अनुसार, आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि पर इंदिरा एकादशी का व्रत रखा जाता है। पितृ पक्ष में पड़ने वाली इस एकादशी का हिंदू धर्म में खास महत्व है। ऐसा कहा जाता है कि इस व्रत को करने से पितरों की आत्मा को शांति मिलती है। मान्यताओं के अनुसार, इस व्रत की महिमा के बारे में भगवान श्री कृष्ण ने युधिष्ठिर को बताया था। यह व्रत भगवान विष्णु को समर्पित है। इस दिन भक्त पूरी श्रद्धा के साथ भगवान विष्णु की पूजा अर्चना करते हैं। मान्यताओं के अनुसार, जिस घर में भगवान विष्णु की नित्य प्रतिदिन पूजा होती है, उस घर में माता लक्ष्मी सदा निवास करती हैं। वहां धन का कभी अभाव नहीं होता है। पंडितों के अनुसार, भगवान विष्णु की पूजा में माता लक्ष्मी की पूजा अवश्य करनी चाहिए। कहा जाता है कि माता लक्ष्मी की पूजा करने से भगवान विष्णु बहुत प्रसन्न होते हैं। यदि आप भी इस बार यह व्रत रखने वाले हैं, तो इस दिन क्या नहीं करना चाहिए इसे जरूर जान लें। ऐसा कहा जाता है कि विधि-विधान से इस व्रत को करने से भगवान विष्णु सभी मनोकामनाएं शीघ्र पूर्ण कर देते हैं।

Also Read: Indira Ekadashi 2022 Date, Puja Timings: कब है इंदिरा एकादशी 2022, जानें पूजा मुहूर्त

इंदिरा एकादशी पर भूल से भी ना करें यह कार्य

1.इंदिरा एकादशी के दिन पूजा के समय स्वच्छ वस्त्र ही धारण करें। इस दिन पूजा में काले कपड़े या नीले कपड़े भूलकर भी ना पहनें।

2. इंदिरा एकादशी व्रत के दिन सूर्योदय से पहले उठें। इस दिन लहसुन-प्याज जैसे तामसिक भोजन का सेवन ना करें। ऐसा करने से भगवान विष्णु नाराज हो सकते हैं।

3. एकादशी व्रत में चावल खाना वर्जित होता है। ऐसा कहा जाता है कि चावल खाने से अगला जन्म कीड़े का मिलता है। इस दिन चावल के साथ-साथ बैंगन, पालक, मसूर की दाल जैसे चीजों का सेवन भी नहीं करना चाहिए।

Also Read: Indira Ekadashi 2022: इंदिरा एकादशी पर ये 5 उपाय करने से दूर होगी पैसों की तंगी, पितृ भी होंगे शांत

4.  इंदिरा एकादशी के दिन घर की सुख-शांति बनाएं रखने के लिए बड़े बुजुर्गों की सेवा करें। उन्हें भूलकर भी दुखी ना करें।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, इस दिन भगवान विष्णु की विशेष पूजा अर्चना की जाती है। ऐसा कहा जाता है कि श्रद्धा पूर्वक पूजा करने से दिल और दिमाग शांत रहता है। जो भक्त इंदिरा एकादशी का व्रत रखता है उसकी हर मनोकामना पूरी होती है। माना जाता है कि इंदिरा एकादशी का व्रत करने से सभी पापों से मुक्ति मिलती है।

देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | अध्यात्म (Spirituality News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर