Akshaya Tritiya 2022: अक्षय तृतीया पर राशि अनुरूप करें खरीदारी, देखें क्या खरीदें और क्या नहीं

Akshaya Tritiya 2022 Shopping List: वैशाख मास की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को अक्षय तृतीया मनाई जाती है। इस दिन कई चीजों को खरीदना शुभ माना गया है. जानें अपनी राशि के अनुसार क्या खरीदना चाहिए आपको।

Akshaya Tritiya 2022 what to purchase as per zodic sign rashi ke anusar kya khareedein
अक्षय तृतीया पर राशि अनुरूप करें खरीदारी 

Akshaya Tritiya 2022: अक्षय तृतीया 03 मई को है। इस अवदर पर किया गया पुण्य तथा पूजा का फल अनंत होता है। प्रत्येक राशि के स्वामी ग्रह होते हैं।राशि अनुरूप पूजा तथा लाभ का प्रावधान है।इस महान पर्व तथा पुनीत अवसर पर निम्न उपाय राशि अनुरूप करें तथा लाभ प्राप्त करें। इस पुनीत दिन दान व पुण्य करें।अन्न व स्वर्ण दान का बहुत महत्व है। किसी से असत्य मत बोलें व किसी का दिल मत दुखाएं। आइए जानते हैं राशि अनुरूप उपाय--

अक्षय तृतीया पर क्या खरीदना चाहिए

मेष-इस राशि का स्वामीग्रह मंगल है।सुंदरकांड का पाठ करें।स्वर्ण खरीदें।गेहूं का दान करने से मंगल संबंधित दोष दूर होंगे।तांबे का पात्र भी ले सकते हैं।

वृष-इस राशि का स्वामीग्रह शुक्र है।श्री सूक्त का पाठ करें। सोने चांदी के सामान खरीदें। चावल का दान करें। संपन्नता आएगी। सुगन्धित इत्र भी ले सकते हैं।

Akshaya Tritiya 2022: अक्षय तृतीया पर विवाह का मुहूर्त क्यों श्रेष्ठ माना जाता है

मिथुन-इस राशि का स्वामी ग्रह बुध है। श्री विष्णुसहस्रनाम का पाठ करें। गो माता को पालक खिलाएं। धन में वृद्धि होगी। चांदी के समान व वस्त्र लें।

कर्क-इस राशि का स्वामीग्रह चंद्रमा है। शिव उपासना करें। रुद्राभिषेक कराएं। सुख तथा संपन्नता में वृद्धि होगी। चांदी, स्वर्ण खरीद सकते हैं। धार्मिक पुस्तक लें।

सिंह-इस राशि का स्वामीग्रह सूर्य है।स्वर्ण खरीदें। तांबे का पात्र भी ले सकते हैं। श्री आदित्यहृदयसोत्र का पाठ करें। यश तथा प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।

कन्या-इस राशि का स्वामीग्रह बुध है।श्री विष्णुसहस्रनाम का पाठ करें।यश तथा प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। वस्त्र,चांदी के सामान व सुगन्धित इत्र भी क्रय कर सकते हैं।

तुला-इस राशि का स्वामीग्रह शुक्र है।श्री सूक्त का पाठ करें।चांदी के जेवर खरीदें। हीरा भी ले सकते हैं।सुख तथा समृद्धि बढ़ेगी।वस्त्र व चांदी का गिलास लें तो भी शुभ है।

वृश्चिक-इस राशि का स्वामीग्रह मंगल है।बजरंगबाण का पाठ करें ।कष्टों से मुक्ति मिलेगी।धार्मिक पुस्तक लें।स्वर्ण आभूषण का क्रय भी कर सकते हैं।

धनु-इस राशि का स्वामीग्रह गुरु है।श्री रामरक्षास्तोत्र का पाठ करें।स्वर्ण खरीदें।मनोवांछित फल की प्राप्ति होगी।स्वर्ण आभूषण क्रय करना शुभ है।धार्मिक पुस्तक,कलम व ताम्र पात्र लें।

मकर-इस राशि का स्वामीग्रह शनि है। हनुमान चालीसा का 108 बार पाठ कीजिये।शारीरिक कष्टों से मुक्ति मिलेगी। वाहन खरीद सकते हैं। चांदी व हीरे के आभूषण ले सकते हैं।

कुंभ-इस राशि का स्वामीग्रह शनि है।शनि के बीज मंत्र का जप करें।हनुमान बाहुक का पाठ करें।आरोग्यता प्राप्त होगी।वाहन,चांदी या हीरा क्रय करना शुभ है।

मीन-इस राशि का स्वामी ग्रह गुरु है। श्री रामचरितमानस पढ़े। धार्मिक पुस्तक,कलम व स्वर्ण ख़रीदना शुभ है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर