रांची में नक्सलियों को पुलिस विभाग से ही मिल रहीं AK-47 की गोलियां, गिरफ्तार दो अपराधियों ने उगला राज

Ranchi News : रांची में पुलिस की वर्दी पर फिर धब्बा लगा है। खादी की बेमानी उजागर हुई है। इसके बाद महकमे में हड़कंप मचा है। दरअसल, नक्सलियों को एके-47 समेत अन्य हथियारों की गोलियां सप्लाई करने का आरोप पुलिस वालों पर लगा है। इधर, उपायुक्त ने अलग-अलग आपराधिक मामलों में अभियुक्तों पर संबंधित मामलों को देखने के बाद शस्त्र अधिनियम के तहत कानूनी कार्रवाई की मंजूरी दे दी है।

Two people arrested in Ranchi opened a big secret against the police
रांची में गिरफ्तार दो लोगों ने पुलिस के खिलाफ खोला बड़ा राज (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • बीआईटी ओपी क्षेत्र के होंबई गांव से गिरफ्तार दो अपराधियों ने किया गया है खुलासा
  • गिरफ्तार अपराध ईश्वरी पांडे बिहार के गया और प्रीतम मिश्रा बाराचट्टी का है रहने वाला
  • इन दोनों से पुलिस ने एके-47 की 295 गोलियां, दो लाख रुपए हुए हैं बरामद

Ranchi Crime News: नक्सलियों को एके-47 समेत कई हथियों की गोलियों की आपूर्ति पुलिस विभाग से की जा रही है। यह खुलासा बीआईटी ओपी क्षेत्र के होंबई गांव से गिरफ्तार किए गए दो अपराधियों ने किया है। गिरफ्तार अपराधी ईश्वरी पांडे बिहार के गया और प्रीतम मिश्रा बाराचट्टी का रहने वाला है। इन दोनों के कब्जे से पुलिस ने एके-47 की 295 गोलियां, 3 मोबाइल, बाइक और दो लाख रुपए बरामद किए हैं। 

बीआईटी के होंबई गांव में प्रीतम अपनी बहन के घर ईश्वरी के साथ रह रहा था। दोनों ने पुलिस को बताया है कि, बिहार के भोजपुर जिला अंतर्गत शाहपुर के रहने वाले जयपुकार रॉय से विकास रॉय ने काफी संख्या में एके-47 की गोलियां ली थीं। विकास ने ही एके-47 की 295 गोलियां देकर एक युवक को रांची भेजा था। 

पिस्का मोड़ के पास जाकर ली थी गोलियां

गिरफ्तार प्रीतम के मुताबिक, उसने पिस्का मोड़ के पास जाकर एके-47 की गोलियां ली थीं। फिर बाइक से होंबई पहुंचे थे। इसके बाद इन्हें यह गोलियां रविवार को लोहरदगा स्थित जंगल में पटना निवासी रवि को देना था, लेकिन वो दोनों पुलिस के हत्थे चढ़ गए।

चार आपराधिक मामलों में 11 अभियुक्तों पर चलेगा आर्म्स एक्ट का मामला

रांची उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा ने कई आपराधिक मामलों में अभियुक्तों के विरुद्ध संबंधित मामलों को देखने के बाद शस्त्र अधिनियम के तहत कानूनी कार्रवाई की मंजूरी दी है। चार आपराधिक मामलों में 11 अभियुक्तों के विरुद्ध आर्म्स एक्ट का केस चलेगा। उपायुक्त की ओर से जिन आपराधिक मामलों में शस्त्र अधिनियम अंतर्गत अभियोजन की मंजूरी दी गई है, उनमें सुखदेव नगर पंडरा थाना से जुड़े दो, सुखदेव नगर थाना से जुडा एक, हिंदपीढ़ी थाना से जुड़ा एक मामला है। सुखदेव नगर पंडरा थाना कांड संख्या 206/22 के मामले में प्राथमिकी अभियुक्त करण कुमार गुप्ता के खिलाफ शस्त्र अधिनियम की धारा 25 (1-बी) एक 26 अंतर्गत अभियोजन की मंजूरी दी गई है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर