Ranchi News: रांची में दूर होगी पानी की प्रॉब्लम, राजधानी में 75 तालाबों का होगा निर्माण, जानिए पूरी प्लानिंग

Water Crisis In Ranchi: राजधानी रांची में पानी की समस्या से लोगों को अब निजात दिलाने के लिए 75 तालाबों का निर्माण किया जाएगा। इससे राजधानी का वाटर लेबल बढ़ेगा और घर-घर पानी की समस्या दूर हो जाएगी। अगस्त महीने तक 30 और अगस्त 2023 तक 45 तालाब के निर्माण का लक्ष्य रखा गया है।

Ranchi Municipal Corporation
रांची में होगा 75 तालाबों का निर्माण, दूर होगी पानी की समस्या (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • राजधानी रांची में कई इलाके ऐसे जहां बोरिंग पूरी तरह से हो चुका फेल
  • अमृत सरोवर योजना के तहत होगा 75 तालाबों का निर्माण
  • इस अगस्त महीने तक 30 तालाबों का निर्माण पूरा करने का लक्ष्य

Ranchi Municipal Corporation: राजधानी रांची में पानी की समस्या दिन प्रतिदिन बढ़ते ही जा रही है। धीरे - धीरे शहर के हर इलाके को ड्राई जोन घोषित किया जा रहा है। कई इलाके ऐसे हैं जहां बोरिंग पूरी तरह से फेल हो चुका है। ऐसे में अमृत सरोवर योजना के तहत राजधानी रांची में 75 तालाबों का निर्माण हुआ तो राजधानी में पानी की समस्या लगभग खत्म हो जाएगी। 75 तालाब हो जाने से हर इलाके में पानी का स्तर बढ़ जाएगा। बता दें कि, अमृत सरोवर के तहत इस वर्ष 15 अगस्त तक 30 तालाब का निर्माण करने की प्लानिंग है। बाकी का 45 तालाब 15 अगस्त 2023 तक बना लिया जाएगा। राजधानी रांची में तालाबों की खुदाई जल्द शुरू होने वाली है।

मिली जानकारी के अनुसार, उपायुक्त छवि रंजन ने अधिकारियों को आदेश दे दिया है कि, जिस- जिस इलाके को चिन्हित कर लिया जाएगा उसमें जल्द से जल्द तालाब का निर्माण कार्य पूरा हो जाना चाहिए। बता दें कि, एक तालाब का निर्माण एक एकड़ में किया जाना है। तालाब के निर्माण के साथ - साथ आसपास पौधे लगाए जाएंगे, ताकि पर्यावरण ठीक रहे। इसके अलावा तालाबों में मछली पालन भी कराया जाएगा।

तालाब निर्माण के लिए स्थानों का हो चुका है चयन

प्राप्त जानकारी के अनुसार, रांची में तालाब निर्माण के लिए रिमोट सेंसिंग के द्वारा 83 साईट को चिन्हित कर लिया गया है। अब यहां कुल 75 सरोवर का निर्माण और जीर्णोद्धार किया जाएगा। रिमोट सेंसिंग में कई जमीन ऐसे हैं, जिन्हें श्मशान, नदी, टांड़ भूमि और चट्टानी इलाकों में तालाब बनाने के लिए चयनित किया गया था। जहां टीम पहुंचकर इन क्षेत्रों का भौतिक सत्यापना किया गया था। जिला प्रशासन का कहना है कि, अन्य जगहों को भी देखा जा रहा है। समय जो रखा गया उसी पर तालाब निर्माण का काम पूरा होगा।

पुराने तलाबों का भी होगा सौंदर्यीकरण

जानकारी के लिए बता दें कि, रांची में 42 तालाब है। लेकिन ज्यादतर की स्थिति बेहद खराब है। ज्यादतर तालाब पूरी तरह सूख गए हैं। नगर निगम ने अब आदेश निकाला है कि, जिस तालाब का सौंदर्यीकरण होगा उसमें कंक्रीट का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा। ताकि पानी का स्तर बना रहे। बता दें कि, रांची उपायुक्त छवि रंजन का कहना है कि, 15 अगस्त तक तालाबों का निर्माण पूरा कर लिया जाएगा। 75 तालाब को बनाने का टारगेट रखा है। इससे संबंधित सभी अधिकारियों को आदेश जारी कर दिया गया है कि, कैसे काम कराना है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर