बाहुबली अतीक अहमद पर कसा शिकंजा, 7 सम्पत्तियां कुर्क, अवैध तरीके से बनाईं थी ये प्रापर्टीज

Bahubali Atiq Ahmad properties attached:अहमदाबाद जेल में बंद बाहुबली अतीक अहमद पर प्रयागराज पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए सात संपत्तियों को कुर्क कर लिया।

Prayagraj Police takes major action against Bahubali Atiq Ahmad seven properties are attached and seized
पुलिस ने अतीक अहमद की 7 संपत्तियों की एक रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेजी थी  

प्रयागराज: अहमदाबाद जेल में बंद पूर्व सांसद अतीक अहमद पर प्रदेश सरकार ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है, इसी क्रम में अतीक के के मकान, ऑफिस समेत अन्‍य अचल संपत्तियों के कुर्की की कार्रवाई बुधवार को शुरू हो गई। गैंगेस्टर एक्ट के तहत प्रयागराज पुलिस ने अतीक अहमद की सात संपत्तियों को कुर्क कर जब्त कर लिया है, ये कार्रवाई प्रयागराज जिलाधिकारी के आदेशानुसार की गई है।

बताया जा रहा है कि खुल्‍दाबाद और धूमनगंज में मकान को कुर्क करने की कार्रवाई की गई है,इस दौरान पुलिस अफसरों के साथ बडी संख्‍या में पुलिस फोर्स मौजूद रही। मकान के बाहर पुलिस ने संपत्ति को कुर्क किए जाने के आदेश से संबंधित बोर्ड लगवा दिया है।कुछ समय पहले  जिलाधिकारी  ने अतीक की सात अचल संपत्तियों  को गैंगस्टर एक्ट के तहत कुर्क करने का आदेश दिया था और 28 अगस्त तक अनुपालन आख्या मांगी थी। 

जिन संपत्तियों को कुर्क किया गया है, उसमे अतीक अहमद का घर का कुछ हिस्सा और चुनावी दफ्तर समेत 7 सम्पत्तियां शामिल हैं, बताते हैं कि इन संपत्तियों को अतीक अहमद ने अपने सियासी रसूख का इस्तेमाल करके अवैध तरीके से अर्जित किया है।

यह कार्रवाई गैंगेस्टर एक्ट के तहत की जा रही है

प्रयागराज पुलिस ने बताया कि यह कार्रवाई गैंगेस्टर एक्ट के तहत की जा रही है, पुलिस ने अतीक अहमद की 7 संपत्तियों की एक रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेजी थी जिसमें यह बात सामने आई कि इन संपत्तियों को अतीक अहमद ने अपने रसूख के बल पर अवैध तरीके से अर्जित किया है. उसी के तहत अलग-अलग थाना क्षेत्रों में सात संपत्तियों को कुर्क करने की कार्रवाई को अंजाम दिया गया। पुलिस अब तक अतीक की करीब 37 अचल संपत्तियों को चिह्नित कर चुकी है जिसमें कई मकान, जमीन और खेत शामिल हैं।

अतीक अहमद इस समय अहमदाबाद जेल में बंद हैं, दरअसल वो इससे पहले यूपी के देवरिया जेल में बंद थे। लेकिन जब शिकायत मिली की वो जेल से साम्राज्य चला रहे हैं तो उन्हें राज्य बदर कर दिया गया था।

Prayagraj News in Hindi (प्रयागराज समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर