Bihar : बिहार में 'जहरीली शराब' पीने से 27 लोगों की मौत, तेजस्वी ने CM नीतीश पर बोला हमला

Bihar News : राज्य में हुई इन मौतों पर राजद नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है। तेजस्वी ने अपने एक ट्वीट में कहा कि इस दर्दनाक घटना पर गहरी शोक संवेदना प्रकट करता हूं।

Bihar : 25 dead in Gopalganj, West Champaran after consuming suspected spurious liquor
गोपालगंज एवं पश्चिम चंपारण में 'जहरीली शराब' पीने से लोगों की हुई मौत। 
मुख्य बातें
  • बिहार के पश्चिम चंपारण और गोपालगंज जिले में हुई दर्दनाक घटना
  • दिवाली के मौके पर पीड़ित घरों में पसरा मातम, खुशियां गम में तब्दील
  • राजद नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार निशाना साधा है

पटना : बिहार के गोपालगंज एवं पश्चिम चंपारण जिले में संदिग्ध हालात में कम से कम 27 लोगों की मौत हुई है। बताया जा रहा है कि इन सभी लोगों की मौत जहरीली शराब पीनी की वजह से हुई है। गोपालगंज जिले में 17 और बेतिया में 10 लोगों की मौत हुई है। बिहार में शराब की बिक्री पर प्रतिबंध है, बावजूद इसके शराब पीने से यदि लोगों की मौत हुई है तो यह कानून-व्यवस्था पर सवाल खड़े करता है। ये सभी मौतें पिछले दो दिनों में हुई हैं। मामले में स्थानीय पुलिस अधिकारियों को निलंबित किया गया है। 

तेजस्वी ने नीतीश पर साधा निशाना

राज्य में हुई इन मौतों पर राजद नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है। तेजस्वी ने अपने एक ट्वीट में कहा कि इस दर्दनाक घटना पर गहरी शोक संवेदना प्रकट करता हूं। ईश्वर शोकाकुल परिजनों को दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें। बिहार को पलायन के साथ-साथ इस दर्द को भी सहना पड़ता है। मुख्यमंत्री जश्न में मस्त हैं, इसलिए उन्हें इन घटनाओं का संज्ञान लेने और संवेदना प्रकट करने का समय भी नहीं है।

टेलुआ गांव में 8 लोगों की मौत

बेतिया के टेलुआ गांव में गुरुवार को कथित रूप से जहरीली शराब पीने की वजह से आठ लोगों की जान चली गई। गोपालगंज में भी जहरीली शराब पीने से करीब एक दर्जन लोगों की मौत हुई है। हालांकि, दोनों जिलों का प्रशासन अब तक यह नहीं बताया है कि इन लोगों की मौत आखिर किस वजह से हुई है। दिवाली के मौके पर इन घरों में मातम पसरा है। लोगों ने सरकार से मामले में कार्रवाई करने और पीड़ित परिवारों को मुआवजा देने की मांग की है। 

'एनडीए सरकार को बदनाम करने की साजिश'

घटना की जानकारी मिलने पर गोपालगंज पहुंचे बिहार सरकार के मंत्री जनक राम ने मीडियाकर्मियों से कहा, 'कथित रूप से जहरीली शराब पीने की वजह से जिन लोगों की मौत हुई है, मैंने उन घरों का दौरा किया है। यह एनडीए सरकार को बदनाम करने की साजिश हो सकती है।'  वहीं, गोपालगंज के पुलिस अधीक्षक आनंद कुमार ने कहा, 'जिले के मुहम्मदापुर गांव में पिछले दो दिनों में कुछ लोगों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हुई है। मृतकों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है, इसके बाद उनकी मौत की वजह का पता चल सकेगा। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।'

चार लोगों की हुई गिरफ्तारी

स्थानीय पुलिस का कहना है कि कुछ परिवारों ने शवों का आंतिम संस्कार कर दिया है। गांव वालों का कहना है कि गुरुवार को चार लोगों की मौत हुई जबकि दो अन्य लोग अस्पताल में  हैं। पुलिस का कहना है कि मामले में अब तक चार लोगों की गिरफ्तारी हुई है। बेतिया के पुलिस अधीक्षक उपेंद्रनाथ वर्मा ने बताया, ‘यह अप्राकृतिक मौत का मामला है और प्राथमिक जांच के बाद ही इसकी और जानकारी उपलब्ध हो सकती है।’ उन्होंने बताया कि मामले की विस्तृत जानकारी प्राप्त करने के लिए जिला प्रशासन और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी गांव में मौजूद हैं।

एक ग्रामीण ने पहचान गुप्त रखते हुए बताया, ‘शराब पीने के बाद कुछ लोगों ने बेचैनी की शिकायत की जिसके बाद उन्हें नजदीकी अस्पताल ले जाया गया। उनमें से आठ लोगों की मौत आज सुबह हो गई। अन्य लोगों का विभिन्न स्थानीय अस्पतालों में उपचार चल रहा है।’

पढ़िए Patna के सभी अपडेट Times Now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर