Patna Traffic News: अब पटना का ट्रैफिक होगा ऑटोमेटिक्ली कंट्रोल, राजधानी की ट्रैफिक व्यवस्था होगी एडवांस

Patna Traffic News: बड़े शहरों की तर्ज पर राजधानी की ट्रैफिक व्यवस्था भी अब एडवांस होगी। यहां की भी ट्रैफिक ऑटोमेटिक कंट्रोल होगा। इसके लिए चौराहों पर अत्याधुनिक कैमरे लगाए जाने हैं।

Traffic system will be smart in Patna
पटना में ट्रैफिक सिस्टम होगा अत्याधुनिक  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • अब लगेंगे एडोप्टिव ट्रैफिक कंट्रोल सिस्टम और ऑटोमेटिक नंबर प्लेट रिकोग्निशन कैमरे
  • इमरजेंसी कॉल बॉक्स और पेनिक बटन भी होगी व्यवस्था
  • वेरिएवल मैसेज डिस्प्ले बोर्ड भी चौक-चौराहों पर लगाए जाएंगे

Patna Traffic News: महानगर की तरह पटना की ट्रैफिक व्यवस्था ऑटोमेटिक कंट्रोल होगी। इसके लिए प्रशासनिक कवायद तेज हो गई है। पटना स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अध्यक्ष एवं प्रमंडलीय आयुक्त के नेतृत्व में कार्य योजना बनाई जा रही है। इसके तहत एडोप्टिव ट्रैफिक कंट्रोल सिस्टम विकसित किया जाएगा। शहर के विभिन्न चौक-चौराहों पर ऑटोमेटिक नंबर प्लेट रिकोग्निशन कैमरे लगाए जाएंगे। इसके अलावा इमरजेंसी कॉल बॉक्स और पेनिक बटन लगाए जाएंगे। इसके दबते ही कंट्रोल रूप की पुलिस अलर्ट हो जाएगी।

आयुक्त के मुताबिक चौराहों पर वेरिएवल मैसेज डिस्प्ले बोर्ड भी लगवाए जाने हैं। इसके माध्यम से लोगों को सार्वजनिक सूचनाएं एवं दिशा-निर्देश मिलते रहेंगे। इन सभी कार्यों को 14 जनवरी तक पूरा कर लिया जाना है। प्रमंडलीय आयुक्त कुमार रवि ने कहा कि पटना देश के उत्तर-पूर्व में गेटवे की भूमिका में है। इससे जीवन की सुरक्षा, परिवार की आर्थिक समृद्धि में सुधार होगा। 

निगरानी तंत्र विकसित करने में मददगार होंगे सीसीटीवी कैमरे

आयुक्त कुमार रवि का कहना है कि हाई टेक्नोलॉजी पर आधारित यातायात प्रबंधन सबसे अहम है। इसके लिए सीसीटीवी कैमरे से निगरानी तंत्र विकसित करने में काफी मदद मिलेगी। स्मार्ट सिटी मिशन के माध्यम से आईसीसीसी प्रोजेक्ट में कैमरा एवं ओएफसी केबल के नेटवर्क अधिष्ठापन करने है। आयुक्त ने कहा कि जो योजनाएं बनाई गईं, उनको लेकर कागजी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। धरातल पर योजना उतारने का भी काम चल रहा है। 

पटना शहर को सुरक्षित करने का प्लान

1. 30 जगहों पर लगाए जाएंगे एडोप्टिव ट्रैफिक कंट्रोल सिस्टम।

2. 15 जगहों पर लगाए जाएंगे वैरिएवल मैसेज साइन बोर्ड।

3. 50 जगहों पर पब्लिक एड्रेस सिस्टम एवं इमरजेंसी कॉल बॉक्स लगेंगे।

4. 10 जगहों पर स्पीड वायलेशन डिटेक्शन।

5. 25 जगहों पर ऑटोमेटिक नंबर प्लेट रिकोग्निशन कैमरे लगेंगे। 

6. 5 जगहों पर एनवायरनमेंट सेंसर लोकेशन प्रणाली।

7.1244 सिटी सर्विलांस सिस्टम लगाए जाने हैं।

8. 588 कैमरे लगाए जाएंगे एवं सुरक्षित यातायात के लिए मोबाइल ऐप भी विकसित किया जाएगा। 


 

पढ़िए Patna के सभी अपडेट Times Now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर