Patna Police Beating: दो युवकों को हिरासत में लेना पटना पुलिस को पड़ा भारी, कांस्टेबल की जमकर पिटाई, थाने को भी घेरा

Patna Pirbahor Police Beaten UP: पटना पुलिस को एक बार फिर लोगों का आक्रोश झेलना पड़ा है। इस बार लोगों ने पीरबहोर थाने की पुलिस को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा है। इसमें चार पुलिस कर्मी घायल हो गए हैं। अस्पताल में इनका इलाज कराया गया है।

People beat up Patna Police fiercely
पटना पुलिस की लोगों ने कर दी जमकर पिटाई  |  तस्वीर साभार: Facebook
मुख्य बातें
  • सब्जीबाग के दर्जी टोले में पीरबहोर पुलिस को लोगों ने पीटा
  • पुलिस की कार्यशैली से नाराज लोगों ने पुलिस वालों पर बोला हमला
  • कई थानों की पुलिस एवं वज्र वाहन ने संभाला मोर्चा

Patna News: शहर के पीरबहोर थाने की पुलिस को गुरुवार की देर रात लोगों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। लोगों के हमले में चार पुलिस कर्मी घायल हो गए। इन्हें पीएमसीएच में भर्ती कराया गया। एक सिपाही की स्थिति गंभीर बनी हुई है। वह आईसीयू में भर्ती है। घटना सब्जीबाग के दर्जी टोले की है। पुलिस टीम पर हमले की सूचना के बाद  कई थानों की पुलिस एवं वज्र वाहन मौके पर पहुंचा। 

थाना अध्यक्ष सबीह उल हक का कहना है कि, हथियार के साथ अपराधियों के इकट्ठा होने की सूचना पर पुलिस छापेमारी करने पहुंची थी, लेकिन कोई नहीं मिला। लौटते समय पुलिस की नजर चार लड़कों पर पड़ी। यह चारों पुलिस को देखकर भागने लगे। इस पर पुलिस सत्यापन के लिए उन्हें थाने ला रही थी। इसी दौरान लोगों ने हमला बोल दिया।

मुखबिर ने दी थी गलत सूचना

थाना अध्यक्ष का कहना है कि, मुखबिर ने गलत सूचना दे दी थी। उसने बताया था कि पटना मार्केट के पास अपराधी इकट्ठा हैं। सूचना के आधार पर रात 10 बजे दारोगा अमित कुमार एवं राजेश कुमार पांडेय क्विक मोबाइल के दो जवान और राइफलधारी सिपाही के साथ छापेमारी करने गए थे। मुखबिर और थाने का निजी चालक भी उनके साथ था। इधर, प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि, पटना मार्केट के पास दर्जी टोला के रहने वाले एवं सौंदर्य प्रसाधन की दुकान चलाने वाले का कॉलर पुलिस ने पकड़ लिया और थप्पड़ मारने लगे। उसे थाने लेकर जाने लगे। इसका स्थानीय लोगों ने विरोध जताया पर पुलिस दुकानदार को नहीं छोड़ रही थी। इसके बाद लोगों ने लाठी-डंडे के साथ पुलिस टीम पर हमला बोल दिया। 

सिपाही सुभाष को लोहे की रेलिंग पर पटका

आक्रोशित लोगों ने सिपाही सुभाष को लोगों की रेलिंग पर पटक दिया। इसके बाद बुरी तरह पीटते पुलिस वालों वहां से भाग गए। इनके भागने पर लोग भी पीछे-पीछे पीरबहोर थाने पहुंच गए और थाने को चारों ओर से घेर लिया। स्थानीय व्यक्ति का कहना है कि, सज्जाद नाम के एक शख्स की थाने में अच्छी पहचान है, जिसका फायदा उठाकर वह व्यापारियों से वसूली करने के लिए पुलिस वालों को गलत सूचना देता रहता है। सज्जाद का साथी थाने की जिप चलाता है। 

पढ़िए Patna के सभी अपडेट Times Now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर