Bihar Polls 2020: बिहार चुनाव में तंत्र- मंत्र की एंट्री, सुशील मोदी ने बताया लालू प्रसाद हैं अंधविश्वासी

बिहार चुनाव में अब तंत्र मंत्र की भी एंट्री हो चुकी है। डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने बताया कि लालू प्रसाद यादव कितने अंधविश्वासी हैं और उन्हें तीन साल पहले तांत्रिक विधि से मरवाने की कोशिश की थी।

Bihar Polls 2020: बिहार चुनाव में तंत्र- मंत्र की एंट्री, सुशील मोदी ने बताया लालू प्रसाद कितने है अंधविश्वासी
सुशील मोदी , डिप्टी सीएम, बिहार 

मुख्य बातें

  • बिहार में तीन चरणों में होने जा रहे हैं चुनाव, पहला चरण 28 अक्टूबर, दूसरा 3 नवंबर और तीसरा चरण 7 नवंबर
  • सुशील मोदी पहले भी लालू प्रसाद यादव पर लगा चुके हैं आरोप
  • सुशील मोदी ने ट्वीट के जरिए बताया कि लालू प्रसाद यादव कितना अंधविश्वासी हैं

पटना। बिहार चुनाव में राजनीतिक दलों को तीन चरणों में परीक्षा देनी है और नतीजों के लिए 10 नवंबर तक इंतजार करना होगा। इस चुनाव में कई गठबंधन आमने सामने हैं लेकिन मुख्य मुकाबला एनडीए और महागठबंधन में है। महागठबंधन की तरफ से तेजस्वी यादव, नीतीश कुमार और सुशील मोदी को ललकार रहे हैं। इस चुनाव से लालू प्रसाद यादव दूर हैं बावजूद चर्चा में बने हुए हैं, भ्रष्टाचारस वंशवाद, कुशासन, सुशासन के साथ साथ अब तंत्र मंत्र की भी एंट्री हो चुकी है। 

अस्पताल के बेड से सुशील मोदी ने साधा निशाना
बिहार के डिप्टी सीएम इस समय एम्स पटना में कोरोना पॉजिटिव होने से भर्ती हैं। लेकिन ट्वीट के जरिए लालू प्रसाद पर निशाना साध रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिन्होंने बिहार को बर्बाद करने के लिए  किसी तरह की कोर कसर नहीं छोड़ी वो लोग आज मतदाताओं को भ्रमित करने की कोशिश कर रहे हैं, महागठबंधन की तरफ से इस तरह के वादे किये जा रहे हैं जिसके बारे में बिहार की जनता अच्छी तरह से समझती है। एक तरह से भ्रम फैलाने की कोशिश हो रही है। लेकिन बिहार की जनता उन लोगों के झांसे में नहीं आने वाली है जो बिहार की बर्बादी के सूत्रधार रहे हैं। 

ट्वीट के जरिए लालू प्रसाद यादव पर निशाना
लालू प्रसाद को जनता पर भरोसा नहीं, इसलिए वे तंत्र-मंत्र, पशुबलि और प्रेत साधना जैसे कर्मकांड कराते रहे। इसके बावजूद वे न जेल जाने से बचे, न सत्ता बचा पाये। वे अभी 14 साल जेल में ही काट सकते हैं।

चारा घोटाला में सजायाफ्ता  लालू प्रसाद बिहार विधानसभा चुनाव के पहले रांची के केली बंगले में जेल मैन्युअल की धज्जी उड़ाते हुए नवमी के दिन तीन बकरों की बलि देने वाले हैं।उन्हें आभास हो चुका है कि हाशिये पर पड़े कुछ दलों से गठबंधन और बड़बोले वादे पार्टी की नैया पार नहीं लगा सकते।


लालू प्रसाद इतने अंधविश्वासी हैं कि उन्होंने न केवल तांत्रिक के कहने पर सफेद कुर्ता पहनना छोड़ा, बल्कि तांत्रिक शंकर चरण त्रिपाठी को पार्टी का राष्ट्रीय प्रवक्ता बना दिया।उसी तांत्रिक ने विंध्याचल धाम( मिर्जापुर) में लालू प्रसाद से तांत्रिक पूजा करायी थी। वे तीन साल पहले मुझे मारने के लिए भी तंत्रिक अनुष्ठान करा चुके हैं।

Bihar Vidhan Sabha Chunav के सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर