#BattleForBihar: बिहार विधानसभा चुनाव के तीनों फेज का हिस्टोरिकल डेटा क्या कहता है? 

पटना समाचार
बीरेंद्र चौधरी
बीरेंद्र चौधरी | न्यूज़ एडिटर
Updated Oct 30, 2020 | 08:51 IST

Bihar Chunav 2020: बिहार विधानसभा चुनाव तीन फेज में हो रहा है जिसमें पहला फेज 28 अक्टूबर 71 सीटों के लिए हो चूका है, दूसरा फेज का मतदान 3 नवंबर को 94 और तीसरे चरण का मतदान 7 नवंबर को होगा।

Historical data of three phase of bihar assembly elections
बिहार विधान सभा चुनाव के तीनों फेज का हिस्टोरिकल डेटा क्या कहता है?  

बिहार विधानसभा चुनाव तीन फेज में हो रहा है जिसमें पहला फेज 28 अक्टूबर 71 सीटों के लिए हो चूका है, दूसरा फेज 3 नवंबर को 94 और 7 नवंबर को 78 सीटों के लिए होगा और मतगणना होगी 10 नवम्बर को लेकिन सबसे बड़ा सवाल है कि तीनों फेजों का हिस्टोरिकल डेटा क्या कहता है ?

सबसे पहले देखते हैं 2015 विधानसभा चुनाव का का हिस्टोरिकल डेटा

बिहार विधानसभा चुनाव 2015

गठबंधन सीट वोट%
एनडीए 58 34.1
यूपीए 178 41.9
अन्य 7 24.0
कुल 243 100

अब देखते हैं पहले फेज का हिस्टोरिकल डेटा 
पहला फेज: 28 अक्तूबर 2020 , 71 सीट

बिहार विधानसभा चुनाव 2015

पार्टी सीट
आरजेडी 27
जेडीयू 17
बीजेपी 13
कांग्रेस 9
सीपीआई (एमएल) 2
हम 1
आरएलएसपी 1
निर्दलीय 1
कुल 71

बिहार विधानसभा चुनाव 2015

गठबंधन सीट
यूपीए  
आरजेडी 27
कांग्रेस 9
सीपीआई (एमएल) 2
कुल 28

बिहार विधानसभा चुनाव 2015

गठबंधन सीट
एनडीए  
जेडीयू 17
बीजेपी 13
हम 1
कुल 31

हिस्टॉरिकल डेटा के हिसाब से पहले फेज में सबसे बड़ा स्टेक होल्डर है आरजेडी जिसे 2015 के विधानसभा चुनाव में 27 सीटें मिली थीं जबकि दूसरा और तीसरा स्टेक होल्डर जेडीयू और बीजेपी है जिन्हें क्रमशः 17 और 13 सीटें मिली थीं । लेकिन सबसे बड़ा सवाल है क्या आरजेडी फिर से इस फेज में सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभर पाएगी?

अब देखते हैं दूसरे फेज का हिस्टोरिकल डेटा 
दूसरा फेज: 3 नवम्बर 2020 , 94 सीट

बिहार विधानसभा चुनाव 2015

पार्टी सीट
आरजेडी 33
जेडीयू 30
बीजेपी 20
कांग्रेस 7
एलजेपी 2
सीपीआई (एमएल) 1
निर्दलीय 1
कुल 71

बिहार विधानसभा चुनाव 2015

गठबंधन सीट
यूपीए  
आरजेडी 33
कांग्रेस 7
सीपीआई (एमएल) 1
कुल 41

बिहार विधानसभा चुनाव 2015

गठबंधन सीट
एनडीए  
जेडीयू 30
बीजेपी 20
कुल 50

हिस्टॉरिकल डेटा के हिसाब से दूसरे फेज में भी आरजेडी , जेडीयू और बीजेपी का स्टेक दाव पर लगा हुआ जिन्हें क्रमश 33 , 30 और 20 सीटें मिली थीं । लेकिन इस फेज में भी सबसे बड़ा सवाल बनता है कि क्या आरजेडी फिर से दूसरे में 33 सीटें जीत पाएगी?

अब देखते हैं तीसरे फेज का हिस्टोरिकल डेटा 
तीसरा फेज: 7 नवम्बर 2020 , 78 सीट

बिहार विधानसभा चुनाव 2015

पार्टी सीट
आरजेडी 20
जेडीयू 23
बीजेपी 20
कांग्रेस 11
सीपीआई (एमएल) 1
आरएलएसपी 1
निर्दलीय 2
कुल 78

बिहार विधानसभा चुनाव 2015

गठबंधन सीट
यूपीए  
आरजेडी 20
कांग्रेस 11
सीपीआई (एमएल) 1
कुल 32

बिहार विधानसभा चुनाव 2015

गठबंधन सीट
एनडीए  
जेडीयू 23
बीजेपी 20
कुल 43

हिस्टॉरिकल डेटा के हिसाब से तीसरे फेज में भी जेडीयू ,आरजेडी और बीजेपी का स्टेक दाव पर लगा हुआ जिन्हें क्रमश: 23 , 20 और 20 सीटें मिली थीं । लेकिन इस फेज में भी सबसे बड़ा सवाल बनता है कि क्या जेडीयू फिर से तीसरे फेज में 23 सीटें जीत पाएगी?

तीनों फेजों का निष्कर्ष क्या कहता है ?

बिहार विधानसभा चुनाव 2015

पार्टी सीट
आरजेडी 80
जेडीयू 71
बीजेपी 53
कांग्रेस 27
अन्य 12
कुल 243

तीनों फेजों को देखने के बाद निष्कर्ष इस प्रकार है: पहला , 2015 के विधानसभा चुनाव में आरजेडी 80 सीटों को जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बनी थी। क्या अबकी बार 2020 के विधानसभा में फिर से आरजेडी सबसे बड़ी पार्टी बन पाएगी? दूसरा, जेडीयू 2015 के विधानसभा चुनाव में 71 सीटों के साथ दूसरे नंबर की पार्टी बनी थी। क्या अबकी बार भी जेडीयू दूसरी सबसे बड़ी पार्टी बन पाएगी? तीसरा, बीजेपी 2015 के विधानसभा चुनाव में मात्र 53 सीटें जीती थी। क्या अबकी बार 2020 में बीजेपी 53 से आगे कहां तक आगे बढ़ेगी? चौथा, कांग्रेस पिछले विधानसभा चुनाव में गठबंधन के सहारे 27 सीटें जीती थी। क्या अबकी बार कांग्रेस आरजेडी के सहारे अपनी 27 सीटें बचा पाएगी? पांचवां और सबसे महत्वपूर्ण, बिहार की सत्ता किसे मिलेगी – एनडीए या यूपीए को? इस सारे सवालों का जवाब मिलेगा 10 नवम्बर को और तब तक करना होगा इंतजार।

Bihar Vidhan Sabha Chunav के सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर