Patna AIIMS: पटनावासियों के लिए खुशखबरी, एम्स के सभी विभाग अगस्त में हो जाएंगे शुरू, मरीजों को होगी सुविधा

Patna AIIMS: पटना एम्स में अब मरीजों का समुचित इलाज होगा। अलग-अलग विभागों के डॉक्टरों द्वारा मरीजों को उचित परामर्श दिए जाएंगे। अगले माह से ही यह व्यवस्था सुनिश्चित होगी। नवपदस्थापित निदेशक ने यह घोषणा की है।

Now all diseases will be treated in Patna AIIMS
पटना एम्स में अब सभी रोगों का होगा इलाज  |  तस्वीर साभार: Facebook
मुख्य बातें
  • नेफ्रोलॉजी एवं न्यूरोलॉजी विभाग में डॉक्टरों की नियुक्ति नहीं होने से इलाज नहीं हो रहा
  • फिलहाल आधे से अधिक डॉक्टरों के पद हैं खाली
  • अगस्त के पहले हफ्ते तक पूरी कर ली जाएगी नियुक्ति प्रक्रिया

Patna AIIMS Departments: अगस्त तक पटना एम्स के सभी विभागों में नए डॉक्टरों की नियुक्ति हो जाएगी। इसके बाद प्रत्येक बीमारी के मरीजों का इलाज होगा। फिलहाल नेफ्रोलॉजी एवं न्यूरोलॉजी विभाग में डॉक्टरों की नियुक्ति नहीं होने से मरीजों का इलाज नहीं हो पा रहा है। 

इन विभागों में आधे से अधिक डॉक्टरों के पद रिक्त हैं। अस्पताल प्रबंधन के मुताबिक, अगस्त के पहले हफ्ते तक नियुक्ति की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। अंतिम हफ्ते तक सभी विभागों के ओपीडी शुरू हो जाएंगे। 

जल्द होगी आंतरिक प्रोन्नति एवं पारा मेडिकल स्टाफ की होगी नियुक्ति

इस बारे में एम्स के नव पदस्थापित डॉ. गोपाल कृष्ण पाल ने बताया कि, तमाम विभागों में डॉक्टरों की नियुक्ति पूरी हो जाने के बाद मरीजों को ओपीडी एवं ऑपरेशन में लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। बहुत जल्द आंतरिक प्रोन्नति, पारा मेडिकल कर्मियों की भी नियुक्ति कर ली जाएगी। कहा कि, संस्थान में लंबे समय से आंतरिक प्रोन्नति नहीं की गई है। पदोन्नति के जल्द ही कमेटी का गठन किया जाएगा। पदोन्नति के बाद सीनियर रेसीडेंट डॉक्टरों की कमी नहीं रहेगी। 

पैरा मेडिकल स्टाफ के खाली पदों पर अक्टूबर में होगी बहाली

डॉक्टरों की पदोन्नति के बाद पारा मेडिकल स्टाफ कर्मियों की भी नियुक्ति की जाएगी। आंतरिक पदोन्नति से पद भरने के बाद खाली पदों पर अक्टूबर में दोबारा भर्ती की जाएगी। इसके अतिरिक्त जल्द ही रिसर्च का माहौल बनाया जाएगा। इसके लिए कमेटियों को टास्क सौंपे जाएंगे। निदेशक का कहना है कि, पटना एम्स रिसर्च की बदौलत ही विश्वस्तरीय बन पाएगा। 

योग के लिए बनाया जाएगा एडवांस सेंटर

नवपदस्थापित निदेशक का कहना है कि, कई बीमारियों में योग तत्काल कारगर साबित होता है। यह दवाओं के कम इस्तेमाल के लिए भी प्रोत्साहित करता है। अब संस्थान में एडवांस सेंटर फॉर योग बनाया जाएगा। इस सेंटर की स्थापना को लेकर कवायद शुरू भी हो चुकी है। बहुत जल्द ही यह धरातल पर भी नजर आने लगेगा। 

पढ़िए Patna के सभी अपडेट Times Now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर