Girls Missing in Bihar: कस्तूरबा आवासीय विद्यालय से रातोंरात गायब हुईं 12 छात्राएं, ड्यूटी के समय सोया था नाइट गार्ड

Bihar Government: बिहार में कस्तूरबा स्कूल की छात्राएं रातोंरात हॉस्टल से गायब हो गईं। जब स्कूल प्रबंधन को पता चला तो सबकी हालत खराब हो गई। सभी छात्राएं एक ही गांव की रहने वाली थीं।

12 girls run away from Kasturba Vidyalaya
कस्तूरबा विद्यालय से भागीं 12 छात्राएं  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • गढ़पुरा प्रखंड के आवासीय कस्तूरबा विद्यालय कुम्हारसों का मामला
  • जिले के बखरी प्रखंड के बागबान गांव की रहने वाली हैं छात्राएं
  • हॉस्टल के दो मंजिला कमरे में रह रहीं थीं छात्राएं

Girls Missing From School in Bihar: बेगूसराय जिले के गढ़पुरा प्रखंड स्थित आवासीय कस्तूरबा विद्यालय कुम्हारसो से गुरुवार की देर रात 12 छात्राएं फरार हो गईं। एक साथ हॉस्टल से 12 छात्राओं के गायब होने की खबर स्कूल प्रबंधन को देर से लगी। कई घंटों के बाद इसकी सूचना ग्रामीणों ने स्कूल प्रबंधन को दी। हॉस्टल से फरार होने वाली सभी छात्राएं बखरी प्रखंड के बागबान गांव की हैं। 

स्कूल के आवासीय कमरे से सभी छात्राएं भागी थीं। ग्रामीणों की सूचना पर प्रधानाध्यापक नवल किशोर मुखिया ने छात्राओं को खोजा और वापस स्कूल लेकर आए। दो मंजिला मकान के कमरे में सभी छात्राएं रह रहीं थीं। उस कमरे की खिड़की का रॉड टूटी हुई थी। छात्राएं इसी से एक-एक कर बारी-बारी से निकलीं और नीचे के कमरे की खिड़की के छज्जे होकर नीचे उतरी और फिर पेड़ के सहारे से चारदीवारी फांद कर स्कूल परिसर से बाहर निकल गईं। अपने साथ सभी छात्राएं अपना-अपना बैग लेकर गई थीं। 

क्लास छह की हैं सभी छात्राएं

स्कूल के हॉस्टल से भागने वाली सभी छात्राएं क्लास छह की हैं। यह सभी शुक्रवार की सुबह 3 बजे विद्यालय से भागी थीं। रास्ते में कुंवरटोल एवं सोनमा गांव में कुछ लोगों की नजर इन छात्राओं पर पड़ी। लोगों ने पूछताछ की तो इन लोगों ने कस्तूरबा विद्यालय से घर जाने की जानकारी दी। इस पर ग्रामीणों ने स्कूल के प्रधानाध्यापक नवल किशोर मुखिया को कॉल करके सूचना दे दी। 

नाइट गार्ड और वार्डन तक को भनक नहीं

प्रधानाध्यापक ने छात्राओं से हॉस्टल छोड़कर भागने का कारण पूछा, लेकिन उन लोगों ने अब तक कोई वजह नहीं बताई है। वहीं, नाइट गार्ड राजेश रजक और वार्डन अंजना कुमारी, शिक्षिका पूनम कुमारी, अनुदेशिका रेणु कुमारी, रसोइया रिंकू की लापरवाही इसमें सामने आई है। दरअसल, यह सभी छात्राओं के साथ हॉस्टल में ही रहते हैं। छात्राओं पर नजर बनाए रखना इनकी जिम्मेदारी है। प्रधानाध्यापक का कहना है कि, इन सभी लापरवाही के लिए इनको चेतावनी दी गई है। इसके साथ विभागीय अधिकारी को पूरे मामले से अवगत कराया गया है।  

पढ़िए Patna के सभी अपडेट Times Now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर