बिहार विधानसभा का नया सत्र आज से, चुनाव जीत कर आने वाले नए सदस्य लेंगे शपथ, दिखेंगे कई नए चेहरे

बिहार विधानसभा का नया सत्र आज से शुरू हो रहा है।  पांच दिवसीय सत्र के दौरान चुने गए विधानसभा सदस्य शपथ लेंगे।

Bihar Legislative Assembly session from today, new members will take oath
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • एनडीए ने 243 सीटों वाली बिहार विधानसभा में 125 सीटें जीतीं
  • महागठबंधन को 110 सीटें मिलीं
  • पहली बार जदयू से कोई मुस्लिम सदन में नहीं पहुंचा है

पटना: 17 वीं बिहार विधानसभा का उद्घाटन सत्र आज (23 नवंबर) से शुरू होगा। पांच दिवसीय विधानसभा सत्र का समापन 27 नवंबर को होगा। विधानसभा सचिवालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, सदस्य 23-24 नवंबर को शपथ लेंगे, जबकि राज्यपाल फागू चौहान 26 नवंबर को दोनों सदनों के संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगे। 25 नवंबर को विधानसभा अपने नए स्पीकर का चुनाव करेगी और सत्र 27 नवंबर को राज्यपाल के अभिभाषण पर बहस के जवाब के साथ समाप्त होगा। प्रोटेम अध्यक्ष पद के लिए पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के नाम की सिफारिश की गई है। इस बार विधानसभा में करीब 90 सदस्य पहली बार नजर आएंगे।

कोविड -19 महामारी के बीच, सदस्यों के लिए बैठने की व्यवस्था के साथ विधानसभा सत्र सेंट्रल हॉल में आयोजित किए जाने की संभावना है।  कोरोना के चलते विधानसभा और विधान परिषद की कार्यवाही अपने-अपने सदन में नहीं होगी। कोरोना की वजह से सत्र के दौरान दोनों सदनों के सदस्य सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए एक दूसरे दूर-दूर बैठेंगे। इतना ही नहीं सभी सदस्यों को सत्र के दौरान मास्क लगाकर ही बैठना होगा।

एनडीए ने 243 सीटों वाली बिहार विधानसभा में 125 सीटें जीत कर बहुमत हासिल किया है, जिसमें से बीजेपी ने 74 सीटों पर, जनता दल (यूनाइटेड) ने 43 सीटों पर कब्जा किया जबकि आठ सीटों पर दो अन्य एनडीए घटकों ने जीत हासिल की है। दूसरी ओर, राजद 75 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी, जबकि कांग्रेस केवल 70 सीटों में से 19 सीटों पर जीती थी। जबकि लेफ्ट ने 30 में से 16 सीटें जीतने में कामयाबी हासिल की। 

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के पांच सदस्यों सहित सात अन्य भी विधानसभा पहुंचे हैं। जिसमें एक बीएसपी और एक एलजेपी के सदस्य भी हैं। विधानसभा में मुस्लिम विधायक पहले की तरह नहीं होंगे। पिछली बार की तुलना में मुस्लिम सदस्यों की संख्या कमी आई है। सत्ता पक्ष में एक भी विधायक मुस्लिम नहीं है। जबकि विपक्षी दलों में 19 विधायक सदन में होंगे। 

पिछले सोमवार को नीतीश कुमार ने लगातार चौथे कार्यकाल के लिए बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। बीजेपी नेताओं तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी ने बिहार के उप मुख्यमंत्रियों के रूप में शपथ ली। समारोह के बाद मीडिया से बात करते हुए, जद (यू) प्रमुख ने कहा था कि जनता के फैसले के आधार पर, एनडीए ने एक बार फिर राज्य में सरकार बनाई है। हम एक साथ काम करेंगे और लोगों की सेवा करेंगे।

Bihar Vidhan Sabha Chunav के सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर