BATTLE FOR BIHAR: कौन जीत रहा है बिहार विधान सभा चुनाव 2020: एनडीए या यूपीए?

पटना समाचार
बीरेंद्र चौधरी
बीरेंद्र चौधरी | न्यूज़ एडिटर
Updated Oct 26, 2020 | 15:33 IST

बिहार विधान सभा में कुल 243 सीटें हैं। चुनाव 3 फेज में हो रहा है- पहला फेज 28 अक्टूबर 71 सीट, दूसरा फेज 3 नवंबर 94 सीट और तीसरा फेज 7 नवंबर 78 सीट और वोटों की काउंटिंग होगी नवंबर 10 को।

Who is winning Bihar assembly elections NDA or UPA?
कौन जीत रहा है बिहार विधान सभा चुनाव 2020: एनडीए या यूपीए? 

मुख्य बातें

  • बिहार में तीन चरणों में होंगे चुनाव, 10 नवंबर को आएंगे नतीजे
  • पहले चरण में विधानसभा की 71 सीटों पर डाले जाएंगे वोट
  • इस चुनाव में मुख्य मुकाबला एनडीए और महागठबंधन के बीच है

कौन जीत रहा है बिहार विधान सभा चुनाव 2020: एनडीए या यूपीए ? Times Now C-Voter Opinion Poll ने इसी सवाल को लेकर सर्वे किया है।

कौन जीत रहा है बिहार?

TIMES NOW C-VOTER OPINION POLL

अलायंस सीट वोट %
एनडीए     147 43
यूपीए     87   34.6
एलजेपी  3  3.8
अन्य  6  18.6
कुल 243 100

ओपिनियन पोल के हिसाब से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार में फिर से एनडीए स्पष्ट बहुमत के साथ चुनाव जीत रहा है। यानि एनडीए को 243 में से 147 सीटें मिल रही है और वोट मिला रहा है 43 फीसदी। दूसरी तरफ तेजश्वी यादव के नेतृत्व में यूपीए 87 सीट पर सिमट रही है और वोटों का प्रतिशत है 34.6 जहां तक चिराग पासवान के एलजेपी का सवाल है ताम झाम तो काफी दिखाया जा रहा लेकिन सीटें मिल रही है सिर्फ 3 और 3.8 फीसदी वोट मिल रहे हैं। अन्य के खाते में जा रहा है 6 सीट लेकिन सबसे बड़ी बात एनडीए सत्ता में आ रही है और यूपीए सत्ता से काफी दूर जाता दिख रहा है।

किसको हुआ फायदा किसको हुआ नुकसान?

BATTLE FOR BIHAR: VOTE SHARE

अलायंस  2015  2020  स्विंग
एनडीए 34.1 43  8.9
यूपीए 41.9  34.6 -7.3
अन्य   24.0  22.4  -1.6

2015 के विधान सभा चुनाव में एनडीए को 34.1 फीसदी वोट मिला था और अबकी बार उसे 43 फीसदी वोट मिल रहा है यानि 8.9 फीसदी का इजाफा। चुनावी गणित में 8.9 फीसदी का पॉज़िटिव स्विंग बहुत बड़ा माना जाता है। दूसरी तरफ 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में यूपीए या उस समय के महागठबंधन को 41.9 फीसदी वोट मिला था। हां यहां इस बात को जानना बहुत जरूरी है कि उस महागठबंधन में कांग्रेस के साथ साथ जेडीयू और आरजेडी भी शामिल था लेकिन ओपिनियन पोल में अबकी बार यूपीए को 34.6 फीसदी वोट मिल रहा है यानि 7.3 फीसदी वोट का नुकसान और इतना बड़ा नेगेटिव स्विंग अपने आप में बहुत मायने रखता है। अन्य के खाते में भी 1.6 फीसदी वोटों का नुकसान हो रहा है।

BATTLE FOR BIHAR: SEAT SHARE 

अलायंस 2015  2020 बदलाव
एनडीए  58  157 89
यूपीए 178   87 -91
अन्य    7 9 2
कुल  243    

सीटों के मामले में एनडीए को 89 सीटों का फायदा हो रहा है जबकि यूपीए को 91 का नुकसान हो रहा है लेकिन अन्य के खातों में 2 सीटों का फायदा होता दिखाई दे रहा है।

एनडीए में किसको कितना सीट?

NDA TIMES NOW C-VOTER OPINION POLL
 

पार्टी   सीट वोट%
भाजपा 77 21.6
जेडीयू  63 18.3
वीआईपी  5 1.8
हम  2   1.3
कुल     147  43

77 सीटों के साथ बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभर रही है और वोट प्रतिशत के मामले में ओवर ऑल पार्टी में आरजेडी के बाद दूसरे नंबर की पार्टी बन रही है। जेडीयू 63 सीटों के साथ दूसरे नंबर की पार्टी बन रही है और वीआईपी और हम को क्रमशः 5 और 3 सीटें मिलती दिख रही हैं।

यूपीए में किसको कितना सीट?

UPA TIMES NOW C-VOTER OPINION POLL

पार्टी      सीट  वोट%
आरजेडी 60  24.1
कांग्रेस  16  6
सीपीआई (एमएल) (एल) 2.7
सीपीआई 1.1
सीपीआई (एम) 0   0.5
कुल     87  34.6
 

सबसे ज्यादे सीटों पर चुनाव लड़ते हुए भी आरजेडी को सिर्फ 60 सीटें मिल रही हैं लेकिन वोट प्रतिशत के मामले में आरजेडी सबसे ऊपर है और कांग्रेस चुनाव लड़ी 70 सीटों पर लेकिन उससे सिर्फ 16 सीटें मिलती दिख रही हैं। लेफ्ट फ्रंट ने चुनाव लड़ा 29 सीटों पर लेकिन संतोष करना पड़ रहा है सिर्फ 11 सीटों से।

स्ट्राइक रेट क्या कहता है?

STRIKE RATE
TIMES NOW C-VOTER OPINION POLL

पार्टी  कंटेस्ट लीड स्ट्राइक रेट
भाजपा  110  77 70
जेडीयू    115 63 54.8
हम   2     28.6
वीआईपी  11  5 45.5
आरजेडी 144 60 42.7
कांग्रेस  70 16   22.9
लेफ्ट+   29  11     37.9

स्ट्राइक रेट या सक्सेस रेट का मतलब है किसी पार्टी ने जितने कैंडिडेट खड़े किए उसमें से कितने की जीत हुई यानि जीत का प्रतिशत क्या रहा। उदाहरण के लिए, किसी पार्टी ने 100 कैंडिडेट खड़े किए और जीते 25 इसका मतलब स्ट्राइक रेट हुआ 25 फीसदी।

टाइम्स नाउ सी-वीटर के ओपिनियन पोल के मुताबिक बीजेपी का स्ट्राइक रेट सबसे ऊपर है। बीजेपी ने 110 कैंडिडैट खड़े किए और जीत हुई 77 कंडीडेटों की यानि सक्सेस रेट हुआ करीब 70 फीसदी। स्ट्राइक रेट के मामले में दूसरे नंबर की पार्टी है जेडीयू जिसका स्ट्राइक रेट रहा 54.8 फीसदी और तीसरे नंबर की पार्टी रही वीआईपी जिसका स्ट्राइक रेट 45.5 फीसदी और चौथे नंबर पर है आरजेडी जिसका स्ट्राइक रेट रहा 41.7 फीसदी ।

टाइम्स नाउ सी-वीटर के ओपिनियन पोल का सार क्या है?

एनडीए बिहार विधानसभा चुनाव फिर से जीत जीत रहा है। नीतीश कुमार पुनः बिहार के मुख्यमंत्री बनेंगे। पीएम मोदी का मोदी मैजिक ने नीतीश कुमार को बचा लिया। दूसरी तरफ, तेजश्वी यादव जीत का ट्रेन मिस तो कर गए हैं लेकिन वोटों के प्रतिशत के मामले में सबसे ऊपर हैं। पिछले 2015 के बिहार विधान सभा चुनाव में बीजेपी को सीटें तो कम मिली थी लेकिन वोट प्रतिशत के मामले में बीजेपी सबसे ऊपर थी ठीक उसी प्रकार अबकी बार आरजेडी के साथ होता दिखाई दे रहा है। लेकिन ये पूर्वानुमान है। वास्तविक नतीजे के लिए हमें 10 नवंबर का इंतजार करना होगा। 
 

Bihar Vidhan Sabha Chunav के सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर