तो क्या कम सीटें जीतने के बाद भी सीएम बनेंगे नीतीश कुमार? अजय आलोक ने दिया जवाब

Bihar Assembly Elections 2020: सवाल है कि इस चुनाव में भाजपा यदि सबसे बड़े दल के रूप में उभरती है तो क्या नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री बनना चाहिए या नैतिक रूप से उन्हें पीछे हट जाना चाहिए।

Ajay Alok reply on whether Nitish Kumar would become CM of Bihar
तो क्या कम सीटें जीतने के बाद भी सीएम बनेंगे नीतीश कुमार?  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • अब तक के रुझानों में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी भारतीय जनता पार्टी
  • एनडीए की तरफ से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हैं नीतीश कुमार
  • अजय आलोक ने कहा कि एनडीए की तरफ से सीएम पद के चेहरे हैं नीतीश

नई दिल्ली : बिहार विधानसभा चुनाव के अब तक के रुझानों से साफ है कि राज्य में एनडीए की सरकार एक बार फिर सत्ता में लौटने जा रही है। एनडीए ने महागठबंधन पर निर्णायक बढ़त बनाए हुए है। काउंटिंग के अंतिम चरण में कोई बड़ा उलटफेर नहीं हुआ तो एनडीए की सत्ता में वापसी पर कोई संदेह नहीं है। अभी तक के रुझानों के मुताबिक एनडीए को 132 सीटें, महागठबंधन को 101 और अन्य के खाते में 10 सीटें जाती दिख रही हैं। 

सबसे ज्यादा सीटें जीत सकती है भाजपा 
खास बात है कि इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभर रही है। भाजपा को 11 सीटें, जेडीयू को 47 सीटें, वीआईपी को पांच और हम को तीन सीटें मिलती दिख रही हैं। वहीं, महागठबंधन की अगर बात करें तो आरजेडी के हिस्से में 64, कांग्रेस के खाते में 19 और लेफ्ट को 18 सीटें मिल रही हैं।  आंकड़ों और सीटों के गणित में बाजी भाजपा ने मारी है। एनडीए ने बिहार विधानसभा चुनाव नीतीश कुमार के नेतृत्व में लड़ा है और वह मुख्यमंत्री पद का चेहरा हैं। 

एनडीए से सीएम पद का चेहरा हैं नीतीश
सवाल है कि इस चुनाव में भाजपा यदि सबसे बड़े दल के रूप में उभरती है तो क्या नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री बनना चाहिए या नैतिक रूप से उन्हें पीछे हट जाना चाहिए। जद-यू प्रवक्ता अजय आलोक से यह सवाल किए जाने पर उन्होंने कहा कि एनडीए की तरफ से नीतीश कुमार मुख्यमंत्री का चेहरा हैं। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के शीर्ष नेता कह चके हैं कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार होंगे। ऐसे में सीएम पद को लेकर किसी दुविधा का सवाल नहीं है। जद-यू नेता ने कहा कि काउंटिंग के अंतिम दौर में जद-यू की सीटें और बढ़ेंगी। एक बार अंतिम नतीजे आ जाने के बाद वह इस बारे में टिप्पणी करेंगे।

115 सीटों पर जद-यू ने चुनाव लड़ा
इस चुनाव में जद-यू ने 115 सीटों पर चुनाव लड़ा उसने अपने हिस्से की 7 सीटें हम को दीं जबकि भाजपा 110 सीटों पर चुनाव लड़ा। भाजपा ने अपने हिस्से की 11 सीटें वीआईपी को दी हैं। केंद्र में एनडीए की सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) ने बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया। चुनाव में लोजपा नेता ने जद-यू उम्मीदवारों के खिलाफ अपने उम्मीदवार उतारे। चिराग ने अपने चुनाव प्रचार के दौरान नीतीश कुमार पर तीखा हमला बोला।

Bihar Vidhan Sabha Chunav के सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर