हिंदुत्व पर व्याख्यान देने से पहले उद्धव ठाकरे करें आत्मनिरीक्षण- बीजेपी

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के एक बयान के बाद बीजेपी खफा है। ठाकरे का मानना है कि बीजेपी से साथ 25 साल का साथ व्यर्थ साबित हुआ। लेकिन अब बीजेपी हिंदुत्व के मुद्दे पर हमलावर है।

BJP, Hindutva, NCP, Nawab Malik, Ram Kadam, Shiv Sena, Sanjay Raut, Uddhav Thackeray
हिंदुत्व पर व्याख्यान देने से पहले उद्धव ठाकरे करें आत्मनिरीक्षण- बीजेपी 

महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने बीजेपी के बारे में कहा कि 25 वर्षों तक साथ देना व्यर्थ साबित हुई। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी कम से कम हिंदुत्व का पाठ ना पढ़ाए। इस बयान के बाद सियासी घमासान होना तय और वो बयानों के जरिए नजर भी आ रहा है। उद्धव ठाकरे के बयान पर बीजेपी ने पलटवार किया तो शिवसेना और सहयोगी एनसीपी ने भी देरी नहीं की। 

'जो बीजेपी के साथ जुड़ा वो नष्ट हो गया'
यह सच है कि जिन पार्टियों ने बीजेपी से गठबंधन किया था, वे धीरे-धीरे उनके द्वारा नष्ट कर दी गईं। उद्धव ठाकरे के 'बीजेपी के साथ 25 साल बर्बाद' वाले बयान पर राकांपा नेता नवाब मलिक ने कहा कि किसी के धर्म पर गर्व करना अच्छा है, लेकिन दूसरे धर्मों के प्रति नफरत करना सही नहीं है।

हिंदुत्व, बीजेपी के लिए सिर्फ चुनावी मुद्दा
शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि हमने महाराष्ट्र में बीजेपी को नीचे से ऊपर तक ले गए. बाबरी के बाद, उत्तर भारत में शिवसेना की लहर थी, अगर हम उस समय चुनाव लड़े होते, तो देश में हमारे (शिवसेना) पीएम होते लेकिन हमने यह उनके लिए छोड़ दिया। बीजेपी सिर्फ सत्ता के लिए हिंदुत्व का इस्तेमाल करती है।

शिवसेना पहले आत्मनिरीक्षण करे
बीजेपी नेता राम कदम ने कहा कि हिंदुत्व पर व्याख्यान देने से पहले, उद्धव ठाकरे को आत्मनिरीक्षण करना चाहिए कि क्या शिवसेना दिवंगत बाल ठाकरे की विचारधारा का पालन कर रही है, जिन्होंने कहा था कि राजनीति और जीवन में उनकी पार्टी कभी कांग्रेस में शामिल नहीं होगी, और अगर ऐसी परिस्थितियाँ आती हैं, तो वह लॉकिंग पार्टी (कार्यालय) को पसंद करेंगे।

Mumbai News in Hindi (मुंबई समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर