Mumbai Online Fraud: ऑनलाइन खरीदे सामान को रिटर्न करना सीनियर सिटीजन को पड़ गया भारी, लगा 1.04 लाख का चूना

Mumbai Online Fraud: एक 67 साल के रिटायर्ड सेल्स टैक्स ऑफिसर के साथ 1.04 लाख रुपये की धोखाधड़ी हुई है। सीनियर सिटीजन के साथ यह धोखाधड़ी ऑनलाइन अपने ऑर्डर की रिटर्न रिक्वेस्ट डालने के दौरान हुई है। पुलिस शिकायत में पीड़ित मधुकर सांखे ने कहा है कि, पैकेज में जूतों की जगह शॉर्ट्स थे।

Mumbai Crime News
ऑनलाइन सामान रिटर्न करने पर सीनियर सिटीजन से 1.04 लाख की धोखाधड़ी  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • रिटायर्ड सेल्स टैक्स ऑफिसर के साथ हुई 1.04 लाख रुपये की धोखाधड़ी
  • पीड़ित ने ऑनलाइन दिया था एक जोड़ी स्पोर्ट्स शूज का ऑर्डर
  • पैकेज में जूतों की जगह मिले थे शॉर्ट्स

Mumbai Online Fraud: एक 67 साल के रिटायर्ड सेल्स टैक्स ऑफिसर के साथ 1.04 लाख रुपये की धोखाधड़ी हुई है। सीनियर सिटीजन के साथ यह धोखाधड़ी ऑनलाइन अपने ऑर्डर की रिटर्न रिक्वेस्ट डालने के दौरान हुई है। पीड़ित मधुकर सांखे ने 9 अगस्त को अपने क्रेडिट कार्ड के माध्यम से 1,150 रुपये की राशि का भुगतान करके ऑनलाइन एक जोड़ी स्पोर्ट्स शूज का ऑर्डर दिया था और बीते सोमवार को प्राप्त किया।

पुलिस शिकायत में पीड़ित मधुकर सांखे ने कहा है कि, पैकेज में जूतों की जगह शॉर्ट्स थे। तुरंत, मैंने एप पर लॉग इन किया और रिटर्न रिक्वेस्ट डाल पैसे वापस देने के लिए कहा। पुलिस ने बताया कि, सोमवार को शाम 7:30 बजे, सांखे को एक व्यक्ति का फोन आया, जिसने खुद को ऑनलाइन स्टोर के एक कर्मचारी के रूप में परिचय दिया।

पीड़ित को फर्जी कर्मचारी का फोन आया

मधुकर सांखे ने पुलिस को बताया कि, फोन पर मौजूद कर्मचारी ने उससे कहा था कि, उसे ऑर्डर की रिटर्न रिक्वेस्ट मिली है। फर्जी कर्मचारी ने पीड़ित के फोन नंबर पर एक एप का लिंक मैसेज के जरिए भेजा और उसे लिंक डाउनलोड करने को कहा। ठग कर्मचारी ने पीड़ित से एप के अंदर क्रेडिट कार्ड नंबर सहित अन्य डिटेल भरने के लिए कहा ताकि वह पैसे रिटर्न कर सकें। सीनियर सिटीजन ने एप डाउनलोड कर फॉर्म में डिटेल भर दी। इसके बाद पांच मिनट के भीतर उसे एक एसएमएस मिला, जिससे पता चला कि उसके खाते से 50,000 रुपये डेबिट हो गए हैं। 

पीड़ित के खाते से दो बार उड़ाए पैसे

जब पीड़ित ने कर्मचारी से डेबिट पैसे के बारे में कर्मचारी से सवाल किया, तो उसने कहा कि, उस मैसेज को अनदेखा कर दो क्योंकि यह किसी और को भेजा जाना था। पीड़ित अपने पैसे रिफंड होने का इंतजार कर रहा था, उसे फिर से बैंक खाते से 50,000 रुपये और डेबिट होने का मैसेज मिला। इसके बाद पीड़ित को महसूस हुआ कि, उसे ठगा जा रहा है तो उसने तुरंत अपने बैंक में फोन किया और खाते को ब्लॉक करा दिया। इसके बाद सीनियर सिटीजन ने बोरीवली पुलिस से संपर्क किया और अज्ञात कॉलर के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 420 और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम, 2000 की धारा 66 (डी) के तहत मामला दर्ज कराया।

Mumbai News in Hindi (मुंबई समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर