'बिजली कनेक्शन कटने वाला है अगर ऐसा नहीं चाहते तो 10 रुपए जमा करवाएं', मुंबई वालों ऐसे जाल में न फंसे

Mumbai Crime News: मुंबई में एक 62 साल के एक सीनियर सिटीजन के साथ ठगी का मामला सामने आया है। मामला कोलाबा पुलिस स्टेशन का है। यहां एक स्थानीय निवासी के साथ कथित तौर पर 2.44 लाख रुपये की साइबर धोखाधड़ी हुई है।

Mumbai Crime News
बिजली का बिल जमा करने के नाम पर ठगी  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • 62 साल के एक सीनियर सिटीजन के साथ ठगी का मामला सामने आया है
  • कथित तौर पर 2.44 लाख रुपये की साइबर धोखाधड़ी हुई है
  • ठग ने सीनियर सिटीजन को अपना फर्जी परिचय दिया था

Mumbai Crime News: मुंबई में 62 साल के एक सीनियर सिटीजन के साथ ठगी का मामला सामने आया है। मामला कोलाबा पुलिस स्टेशन का है। यहां एक स्थानीय निवासी के साथ कथित तौर पर 2.44 लाख रुपये की साइबर धोखाधड़ी हुई है। ठग ने पीड़ित सीनियर सिटीजन को अपना परिचय बिजली कंपनी के अधिकारियों के रूप में दिया था और बिल का भुगतान न करने पर उसके घर का कनेक्शन काटने की धमकी दी थी।

सीनियर सिटीजन की मदद करने के बहाने ठग ने उसके सभी क्रेडिट कार्ड की डिटेल मांग ली और उसके साथ 2.44 लाख रुपए की धोखाधड़ी की। पुलिस ने बताया है कि पीड़ित सीनियर सिटीजन एक रियल एस्टेट एजेंट है , जिसके मोबाइल फोन पर सोमवार को बिजली कंपनी के नाम से एक मैसेज आया था।

पहले पीड़ित ने 10 रुपये का भुगतान किया

मैसेज में लिखा था कि अगर उसने बिजली बिल का भुगतान नहीं किया तो उसका बिजली कनेक्शन दिया जाएगा। मैसेज में एक मोबाइल नंबर भी लिखा था और शिकायतकर्ता को उस नंबर पर संपर्क कर, अपनी समस्या का समाधान करने के लिए कहा गया था। जिसके बाद पीड़ित ने उस नंबर पर कॉल किया।  सीनियर सिटीजन का कॉल प्राप्त करने वाले ने खुद को बिजली कंपनी का कर्मचारी बताया और पीड़ित को सूचित किया कि अगर वह 10 रुपये का भुगतान करता है, तो समस्या का समाधान किया जाएगा।

ठग ने 'एनी डेस्क' एप्लिकेशन इंस्टॉल करने के लिए कहा

शिकायतकर्ता के सहमत होने के बाद ठग ने उसे अपने मोबाइल फोन पर 'एनी डेस्क' एप्लिकेशन इंस्टॉल करने और अपने उपभोक्ता नंबर, क्रेडिट कार्ड आदि की डिटेल देते हुए एक ऑनलाइन फॉर्म भरने के लिए कहा। डिटेल भरने के कुछ मिनट बाद पीड़ित सीनियर सिटीजन को एसएमएस अलर्ट मिला, जिससे पता चला कि उसके कार्ड का इस्तेमाल कर 2.44 लाख रुपये की खरीदारी की गई है। शिकायतकर्ता ने बिजली कंपनी के कर्मचारी से लेन-देन के बारे में पूछा तो कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला। मामले में पुलिस ने कहा है कि धोखाधड़ी का पता चलने के बाद शिकायतकर्ता ने तुरंत अपने बैंक की हेल्पलाइन नंबर पर कॉल किया और अपना क्रेडिट कार्ड ब्लॉक करवा दिया। कोलाबा पुलिस ने सोमवार को धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है और ठग की जानकारी एकत्र करने की प्रक्रिया चल रही है।

Mumbai News in Hindi (मुंबई समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर