Karwa Chauth Rangoli Designs 2021: इस करवा चौथ घर पर बनाएं रंगोली की ये खूबसूरत डिजाइन, सजावट में लगेंगे चार चांद

Karwa Chauth Rangoli Designs; हिंदू धर्म में किसी भी शुभ मौके पर रंगोली बनाना अच्‍छा माना जाता है। इससे घर में सुख शांति आती है। करवा चौथ के दिन भी पूजा स्‍थान पर रंगोली बनाने से घर में बरकत होती है।

Karwa Chauth Rangoli Designs, karwa chauth 2021
Karwa Chauth Rangoli Designs   |  तस्वीर साभार: Instagram
मुख्य बातें
  • रंगोली को शुभता का प्रतीक माना जाता है।
  • करवा चौथ के दिन महिलाएं निर्जला व्रत रखती हैं।
  • पति की लंबी आयु के लिए यह व्रत रखा जाता है।

Easy and simple rangoli designs for Karwa Chauth: करवा चौथ का व्रत पति पत्‍नी के संबंधों को मधुर बनाने का दिन होता है। इस दिन महिलाएं अपने पति की लंबी आयु और उनकी तरक्‍की के लिए पूरे दिन निर्जला उपवास रखती हैं। इस व्रत में मां गौरी समेत करवा माता की पूजा का विधान है। इस दिन घर में तरह तरह के पकवान बनाए जाते हैं। साथ ही महिलाएं सज धजकर पूजा करती हैं। ये व्रत शुभता का प्रतीक है, इसलिए घर पर रंगोली बनाना भी अच्‍छा माना जाता है। करवा चौथ के दिन आप भी घर पर रंगोली की कुछ बेहतरीन डिजाइन बनाकर साज सजावट में चार चांद लगा सकती हैं। 

karwa chauth

करवा चौथ के व्रत में चांद देखने का विशेष महत्‍व होता है। चंद्र दर्शन के बाद ही अर्घ्‍य देकर व्रत पूर्ण माना जाता है। इसलिए करवा चौथ के दिन आप घर पर चंद्रमा को छलनी से देखती हुई महिला वाली रंगोली की डिजाइन बना सकती हैं। इसमें पीले और लाल चटख रंगों का इस्‍तेमाल करें। ये देखने में काफी आकर्षक लगेगा। 

karwa chauth

करवा चौथ पर महिलाएं छलनी से चांद को देखती हैं। इस दिन वह सोलह श्रृंगार भी करती हैं। ऐसे में इस प्रतीक को रंगों के जरिए जमीन पर उतारिए, इससे घर की खूबसूरती में चार चांद लग जाएंगे। 

karwa chauth

किसी भी पर्व में हरे रंग का प्रयोग शुभ माना जाता है। ये हरियाली और संपन्‍नता का प्रतीक माना जाता है। ऐसे में इस करवा चौथ आप घर पर रंगोली की डिजाइन बनाते समय हरे रंग का प्रयोग कर सकती हैं। ये देखने में काफी आकर्षक लगेगा। 

karwa chauth

करवा चौथ के दिन पूजा स्‍थान के सामने भी रंगोली की डिजाइन बनाएं। इस पर करवा रखें। इससे घर में बरकत होगी। रंगोली की डिजाइन में कलश और स्‍वास्तिक का चिन्‍ह बना सकते हैं। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर