Parenting Tips: बच्चे की इन आदत से पब्लिक प्लेस में हो सकते हैं शर्मिंदा, इस तरह समझाएं

Parenting Tips: कई बार बच्चों की वजह से माता-पिता को पब्लिक प्लेस में शर्मिंदा होना पड़ता है। ऐसे में बच्चों को अच्छी आदतें सिखाई जानी चाहिए। बच्चों को शिष्टाचार और अच्छी आदतें सिखाने का सबसे शुरुआती सही तरीका यही है कि उन्हें बचपन से ही थोड़ा-थोड़ा करके अच्छी चीजों के बारे में बताया जाए। 

good habits in child
Parenting Tips 
मुख्य बातें
  • बच्चों में डालें धैर्य का गुण
  • बच्चों को बात करने का तरीका सिखाएं
  • सुरक्षा नियमों की दें जानकारी

 
 Parenting Tips: बच्चों को सार्वजनिक स्थानों पर अच्छे से पेश आने के लिए उनमें अच्छी आदतों और सीख को डालना बहुत-बहुत जरूरी होता है। इसके लिए माता-पिता को काफी मेहनत भी करनी पड़ती है। ऐसे में अगर आपको बच्चों के साथ थोड़ा सख्ती से पेश आना पड़े, तो उसमें भी झिझकिए मत, क्योंकि यदि एक बार आपने उनकी बात मान ली, तो फिर वो हर बार अपनी जिद आपसे मनवाने की कोशिश करेंगे और एक दिन वो आएगा, जब वो जिद्दी बन जाएंगे, तो आपके लिए और सिरदर्द हो सकता है। अक्सर बच्चों के खराब व्यवहार और शिष्टाचार के कारण पैरेंट्स को शर्मिंदा होना पड़ता है। 

बच्चों के व्यवहार से शर्मिंदा न हो, इसके लिए सिखाएं ये आदतें

बच्चे पब्लिक प्लेस में शिष्टाचार और अनुशासन के तहत व्यवहार करें, इसके लिए आइए आपको बताते हैं कैसे करें उनकी मदद-

अपनी बारी का इंतजार करना
 

बच्चे बहुत चंचल स्वभाव के होते हैं। ऐसे में वो किसी भी चीज के लिए ज्यादा इंतजार नहीं कर पाते। हालांकि, आप शुरू से ही बच्चों को धैर्य करने और अपनी बारी का इंतजार करना सिखाएं। उन्हें समझाएं कि इंताजार करना जरूरी होता है। उन्हें बताएं कि बातचीत करना हो या कुछ मांगना या खरीदना हो तो कभी भी जल्दी न करें और अपनी बारी का इंतजार करें।

Also Read: Tips For Remove Onion Smell: मुंह से कच्चा प्याज और खाने की आ रही है बदबू? इन नैचुरल तरीकों से करें दूर

अंदर और बाहर बात करने का तरीका

बच्चों को अच्छी आदतों को सिखाते वक्त सबसे पहले उन्हें बात करने का तौर तरीका सिखाएं, ताकि जब वो आपके साथ बाहर जाए, तो उनके बात करने के तरीके से आपको शर्मिंदा न होना पड़े। उन्हें बताएं कि जब एक रेस्तरां, मूवी थियेटर, या किसी खास स्थान पर एक निश्चित शांति की जरूरत होती है, तो उन्हें धीरे बोलना चाहिए। 

Also Read: CM भगवंत मान ने इसलिए पिया काली बेई का पानी, जानें सिखों से नाता

सुरक्षा नियमों का पालन करें

बच्चों में शुरू से ही सड़कों पर चलने के लिए सुरक्षा नियम और ट्रैफिक नियमों का ज्ञान दें। यदि बच्चों को शुरू से ही ट्रैफिक के नियमों के बारे में पता होगा, तो वो बड़े होकर भी इन नियमों का पालन करेंगे। उन्हें बताएं कि ये नियम क्यों उनके लिए जरूरी हैं। इसके अलावा उन्हें किचन से लेकर बाथरूम तक, खाना खाने, चलने, बैठने और सोने के सही तरीके के बारे में भी बताएं, साथ ही उन्हें घर की साफ सफाई रखने के बारे में भी ज्ञान दें।

(डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए हैं और इसे पेशेवर सलाह के रूप में नहीं लिया जा सकता है।)

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर