Religious conversion News: कानपुर के कुछ हिंदू परिवारों को धर्मांतरण का डर, क्या है पूरा मामला

यूपी में इस समय बलाता धर्मांतरण का मुद्दा गरमाया हुआ है। इसके बीच कानपुर के कुछ हिंदू परिवारों का कहना है कि एक मुफ्ती की खौफ की वजह से पलायन की योजना बना रहे हैं।

religious conversion, religious conversion racket, religious conversion in Uttar Pradesh,
यूपी के कानपुर में धर्मांतरण की डर से पलायन की योजना 

मुख्य बातें

  • कानपुर के कुछ हिंदू परिवारों को सता रहा है बलात धर्मांतरण का डर
  • मुस्लिम धर्मगुरु समर्थित कुछ लोगों पर धमकाने का आरोप
  • यूपी पुलिस का कहना है कि जांच की जा रही है

कानपुर। कानपुर शहर में कर्नलगंज इलाके के करीब 10 हिंदू परिवारों ने कहा कि वे इलाके में स्थित अपने घरों को बेचकर पलायन करने की योजना बना रहे हैं। उनका आरोप है कि एक मुस्लिम धर्मगुरु समर्थित लोगों की कथित धमकी की वजह से वे यह कदम उठा रहे हैं।
एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि इलाके के करीब 8-10 हिंदू परिवारों ने अरोप लगाया कि ‘‘शहर काजी’’ के साथ तीन लोग उनके पास आए और धमकी दी कि करीब पांच दिन पहले लड़की से छेड़छाड़ के मामले को आगे बढ़ाया तो उन्हें इसकी कीमत चुकानी होगी।

जांच में जुटी कानपुर पुलिस
परिवार ने अपनी शिकायत को संज्ञान में लाने के लिए इलाके को छोड़ने की धमकी दी है। कानपुर के पुलिस आयुक्त असीम अरुण ने  कहा कि परिवारों ने आरोप लगाया है कि तीन लोग ‘‘शहर काजी’’ के साथ आए और धमकी दी। उन्होंने बताया कि उन तीन लोगों की पहचान नहीं हो सकी।उन्होंने कहा कि परिवारों से घरों को नहीं बेचने और बिना भय इलाके में रहने को कहा गया है। मंगलवार देर रात तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ परिवारों को धमकी देने के मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई है।पुलिस ने कहा कि इनके खिलाफ गैंगस्टर ऐक्ट लगाने का फैसला किया गया है और आरोपियों की पहचान की जा रही है।

धर्मांंतरण रैकेट का भांडाफोड़
बता दें कि यूपी एटीएस ने एक ऐसे गैंग का भांडाफोड़ किया है जो आर्थिक तौर पर कम संपन्न लोगों को बहला फुसलाकर धर्मपरिवर्तन कराया करते थे। इस संबंध में उमर गौतम नाम के एक शख्स की गिरफ्तारी की गई जिसने दावा किया है कि वो अब तक 1 हजार लोगों का धर्मपरिवर्तन करा चुका है। इस संबंध में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी आरोपियों पर एनएसए और जायदाद को जब्त करने के निर्देश दिए थे। 

Kanpur News in Hindi (कानपुर समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर