Kanpur Ring Road: 93.3 किलोमीटर की रिंग रोड अब बनेगी सिक्सलेन, 2070 तक के भारी ट्रैफिक का लोड सहने में होगी सक्षम

Kanpur Ring Road: कानपुर में 93.3 किलोमीटर की रिंग रोड अब सिक्सलेन बनाई जाएगी। 93.3 किमी जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा। इस प्रस्ताव के बाद जद में आ रहीं जमीनें नहीं बिकेंगी। यह सड़क 2070 तक के भारी ट्रैफिक का लोड सहने में सक्षम होगी।

Now six lane ring road will be made in Kanpur
कानपुर में अब सिक्सलेन बनेगी रिंग रोड  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • कानपुर में रिंग रोड अब सिक्सलेन बनेगी
  • 93.3 किलोमीटर की रिंग रोड अब सिक्सलेन की होगी
  • 2070 तक के भारी ट्रैफिक का लोड सहने में सक्षम होगी रिंग रोड

Kanpur Ring Road: कानपुर के लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी है। 93.3 किलोमीटर की रिंग रोड अब सिक्सलेन की होगी। इसके पहले नोटिफिकेशन में सिक्सलेन के हिसाब से ही जमीन अधिग्रहण का नोटिस जारी किया गया है। पहले चार लेन की रिंग रोड प्रस्तावित थी। कानपुर रिंग रोड 2070 तक के भारी ट्रैफिक का लोड सहने में सक्षम होगी। इस बीच, नोटिफिकेशन के साथ ही एनएचएआई ने साफ कर दिया है कि रिंग रोड की जद में आ रही किसानों की जमीन अब नहीं बेची जा सकेगी। कानपुर देहात, कानपुर जिला प्रशासन और राजस्व विभाग को कैपिटल ए गजट का प्रारूप भेजकर किसी भी जमीन की नई रजिस्ट्री पर दाखिल खारिज करने से मना कर दिया है।

एनएचएआई की ओर से जारी गजट में 23.325 किलोमीटर के मंधना-सचेण्डी सेक्शन में 78 के बाद 7 और गांवों को जोड़ा गया है। पहले फेज में कुल 85 गांवों की जमीन ली जाएगी। फिलहाल 182 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहण का नोटिस जारी किया गया है। वहीं अधिकारियों का कहना है कि रिंगरोड का निर्माण ऐसा होगा, जिसे लोग सालों तक याद रखेंगे।

पूरे प्रोजेक्ट पर नजर

560 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहण में 2609.06 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इस रोड के लिए 11 हजार किसानों की जमीन लेने का प्रस्ताव है। 2573.37 करोड़ रुपये रिंग रोड के निर्माण पर खर्च होने का अनुमान लगाया गया है। तीन साल में अवार्ड के बाद निर्माण पूरा होगा। टोल भी लगाया जाएगा। इसके साथ ही दो पुल मंधना और चकेरी में गंगा पर बनाए जाएंगे। 21 अन्य पुल और दिल्ली-हावड़ा ट्रैक समेत 6 रेल ओवरब्रिज बनेंगे। 53 अंडरपास बनेंगे, शुक्लागंज के 29 गांवों की जमीन भी ली जाएगी। 

पहले चरण में इन गांवों में जमीन का अधिग्रहण

मकरंदपुर, मकरंदपुर बंथा, बघवट, मलिकपुर,टोडरपुर, प्रतापपुर खास, ढिकिया, बाघपुर, अन्ने, रास्तपुर, फत्तेपुर म.निहुटा, टिकरी, हृदयपुर म.प्रतापपुर, बाराखेड़ा, सिंहपुर दिवनी, रंजीतपुर, भाऊपुर, खरगपुर बिठूर, चकटोडरपुर, बसौसी, निहुटा, खरगपुर, चकरतनपुर, टिकरा कानपुर, रौतेपुर, सुरार, दूल, भूल, नकटू, भीसीजर गांव, भौंती प्रतापपुर, सुजानपुर, धरमंगदपुर, कटरा घनश्याम, भिसार, पकरी, दलेलपुर, शेखपुर, चचेण्डी-सचेण्डी-1, चचेण्डी- सचेण्डी-2, हलपुरा, कुर्मीखेड़ा खुर्द, चौबेपुर पक्शन, चक हजरतपुर, तिघरा, अमिलिहा, देवपालपुर, महाराजपुर, भवानीपुर, कुर्मीखेड़ा कलां, गजेनपुर, मालौं, गोगूमऊ, सरायछीतम, नाढ़ूपुर, रौतापुर कलां, उमरी, सहज्योरा, सरदारपुर, बहरामपुर, पूरा जसू, हंसपुर, ताजपुर, इंदलपुर जुगराज, शेरपुर बैरा, बैसठी, चक बहरमपुर, ततारपुर, राय गोपालपुर, इटरा, दिलावरपुर टोसवा, रूद्रापुर, बनी, पचोर, गोविन्देपुर, पेम, चौबेपुर कलां, गंभीरपुर, मकसूदाबाद और रैकेपुर। इनके अलावा सात और गांवों को भी लिया जाना है, जिनके नामों का खुलासा नोटिफिकेशन के साथ होगा।

सालों तक याद रखेंगे

प्रशांत दुबे, प्रोजेक्ट डायरेक्टर, एनएचएआई ने कहा कि प्राधिकरण ने कानपुर रिंग रोड को सिक्सलेन बनाने के लिए ही जमीन अधिग्रहण का नोटिफिकेशन किया है। यह ऐसी बनेगी कि कानपुर के लोग सालों-साल याद करेंगे। इसका प्रस्ताव मुख्यालय में है।
 

Kanpur News in Hindi (कानपुर समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर