Rajasthan News: रचित में रोशन किया राजस्थान का नाम, हर दिन मिलेगी 1 लाख 66 हजार रुपए सैलरी

Rajasthan News: रचित राजस्थान का पहला युवक है, जिसे इतना बड़ा पैकेज मिला है। आपको बता दें कि कोटा के शक्ति नगर इलाके में रहने वाले रचित के पापा राजेश अग्रवाल का फूड पैकेजिंग का कारोबार है। जबकि मां संगीता अग्रवाल हाउस वाइफ है।

Rajasthan news
बिजनेस नहीं नौकरी से रचित रोज कमाएंगे 1.66 लाख रुपए 
मुख्य बातें
  • अगले महीने से अपनी पहली जाॅब ज्वाॅइन करेंगे रचित
  • कड़ी मेहनत से पूरा हुआ रचित का यूएस जाने का सपना
  • यूएस की एक कंपनी ने इन्हें एनुअली 8 लाख यूएस डॉलर्स की जॉब ऑफर की

Rajasthan News: हाई एजुकेशन के बाद भी नौकरी नहीं मिलने पर कमियों का रोना रोने वाले बेरोजगारों के लिए राजस्थान के कोटा का यह युवक सफलता की नजीर बना है। इसकी तनख्वाह के बारे में जान आप भी रह जाएंगे हैरान। जी हां, रोजाना के करीब 1 लाख 66 हजार रुपए, महीने के 55 लाख रुपए और साल के 6 करोड़ रुपए। यह युवक है रचित अग्रवाल जिसे इतने बड़े पैकेज के साथ नौकरी मिली है।

दावा किया जा रहा है कि रचित राजस्थान का पहला युवक है, जिसे इतना बड़ा सैलरी पैकेज मिला है। आपको बता दें कि कोटा के शक्ति नगर इलाके में रहने वाले रचित के पापा राजेश अग्रवाल का फूड पैकेजिंग का कारोबार है। जबकि मां संगीता अग्रवाल हाउस वाइफ है। रचित को जॉब मिलने के बाद परिवार में खुशी का माहौल है। रिश्तेदार बधाइयां देकर मुंह मीठा करवा रहे हैं। वहीं घर पर लोगों की भीड़ जुटी है। रचित की इस सफलता के चर्चे पूरे शहर में हैं। 

अगले महीने ज्वाॅइन करेंगे जॉब

रचित के मुताबिक वे अगले महीने अपनी नौकरी ज्वाॅइन करेंगे। उन्हें ऑफर लेटर मिल गया है। इसके बाद वे यूएस में कंपनी के हेड क्वार्टर भी पहुंच गए। उनके मुताबिक वे यहां एक बहु राष्ट्रीय कंपनी में बतौर सॉफ्टवेयर कोडिंग टीम मेंबर के तौर पर तैनात किए गए हैं। सिक्योरिटी पॉलिसी के तहत फिलहाल कंपनी का नाम डिस्कलॉज नहीं कर सकते। वे बताते हैं कि यूएस में स्टडी के दौरान उन्होंने 3 स्टार्ट अप शुरू किए। उनमें से दो के लिए पैसे इकट्ठा किए। वहां की मैन क्रिप्टो कंपनियों में टोटल पांच इंटर्नशिप की। उनकी पढ़ाई इसी वर्ष मई माह में पूरी हुई। वे बताते हैं कि उन्होंने जॉब के लिए कंपनियों में एप्लाई किया था। इसके बाद यूएस की एक कंपनी ने इन्हें एनुअली 8 लाख यूएस डॉलर्स की जॉब ऑफर की थी। जो कि इंडियन करेंसी के मुताबिक करीब 6 करोड़ बैठती है। 

यूएस जाने का ख्वाब था

रचित के परिजनों के मुताबिक उसकी आरंभिक शिक्षा कोटा में ही हुई थी। इंजीनियरिंग की पढ़ाई के वक्त उसका यूएस जाने का सपना था। इसके लिए उसने स्कॉलेस्टिक टेस्ट दिया। जिसमें वो सफल रहा। इसके बाद उसे यूएस में दो करोड़ सालाना छात्रवृत्ति मिली। यूएस के आर्लिंगटन शहर में स्थित टेक्सस विश्व विद्यालय में एडमिशन लेकर कंप्यूटर साइंस, इकोनॉमिक्स व फिलॉसफी में 4 साल पढ़ाई की। परिजनों के मुताबिक उसने काफी कॉडिंग कंपटीशन भी जीते। 

Jaipur News in Hindi (जयपुर समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर