Jaipur Police Action: जयपुर पुलिस को बड़ी कामयाबी, 1 करोड़ की चोरी मामले का हुआ खुलासा, 6 आरोपी गिरफ्तार

Jaipur Police: जयपुर में एक करोड़ की चोरी की घटना को अंजाम देने के मामले का पुलिस ने खुलासा किया है। पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। चोरों ने चोरी के दौरान सीसीटीवी कैमरे को तोड़ दिया था और डीवीआर भी उठा ले गए थे।

 jaipur crime news
जयपुर पुलिस ने 1 करोड़ की चोरी का किया खुलासा, 6 गिरफ्तार   |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • आरोपियों के कब्जे से 40 तोला जेवरात बरामद
  • चोरी का आरोपी मुख्य सरगना भी पकड़ा गया
  • चोरों ने एक महीने की थी रेकी

Jaipur Crime: जयपुर के रामगंज इलाके में ज्वैलरी की दुकान के ताले तोड़कर करीब 1 करोड़ रुपये के जेवरात चोरी का पुलिस ने खुलासा किया है। पुलिस ने मुख्य सरगना सहित 6 बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से करीब 40 तोला जेवरात भी बरामद कर लिए हैं। डीसीपी नॉर्थ पारिस देशमुख ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि 25 जुलाई को परिवादी राजेश मोदी की ओर से मुकदमा दर्ज कराया गया था। परिवादी ने पुलिस को शिकायत में बताया था कि उसका फुटा खुर्रा रामगंज बाजार में जवाहरात का काम होता है, रात को बदमाश उसकी दुकान का ताला तोड़कर करीब 15 किलो चांदी के जेवर, कीमती सामान, जवाहरात, पन्ना, माणक, सेमी पिसेज व अन्य सामान चोरी कर ले गए। जिनकी कीमत करीब 1 करोड़ से भी अधिक है। परिवादी ने बताया कि बदमाशों ने वारदात के समय सीसीटीवी तोड़ दिए और डीवीआर भी चुराकर ले गए।

बता दें कि प्रकरण की गम्भीरता को देखते हुए डीसीपी नॉर्थ पारिस देशमुख ने एडिश्नल डीसीपी सुमन चौधरी, एसीपी रामगंज सुनिल प्रसाद शर्मा, थानाधिकारी रामगंज भूरी सिंह के नेतृत्व में एक स्पेशल टीम बनाई। टीम की ओर से घटनास्थल के आस-पास व आरोपियों की ओर से उपयोग में लिये गये रास्ते के आधार पर सीसीटीवी कैमरों के फुटेज की जांच की गई। पुलिस ने जब बीटीएस सीडीआर की जांच की तो कुछ नंबर उनको घटना के बाद से ही बंद मिले थे। इसी आधार पर पुलिस ने कई जगह दबिश दी और नईम, जसीमुद्दीन और सलीम को गिरफ्तार कर लिया। तीनों आरोपियों से की गयी पूछताछ के आधार पर करीब 40 किलो जेवरात बरामद हुए। पुलिस ने मामले में आगे की जांच करते हुए चोरी का सामान खरीदने वाले अमजद अंसारी, दानिश व इदरिश हुसैन को भी गिरफ्तार कर लिया।

चोरी से पहले रेकी का बनाया वीडियो

मिली जानकारी के अनुसार आरोपियों से की गयी पूछताछ में सामने आया कि घटना से करीब 1 महीने पहले से बदमाशों ने घटनास्थल की रेकी की थी। आरोपी अमजद अंसारी ने 1 महीने पहले घटनास्थल पर जाकर चोरी करने के तरीके व चोरी करने के लिये दुकान के रास्ते का वीडियों भी बनाया था। इस वीडियों को दिखाकर उसने जसीमुद्दीन को चोरी करने के लिये तैयार कर लिया और घटना से एक दिन पहले अमजद ने जसीमुद्दीन को ये दुकान दिखाई। जसीमुद्दीन ने चोरी के लिये अपने एक साथी को भी वारदात में शामिल कर लिया। 

चोरी के बाद किया सामान का बंटवारा

बता दें कि चोरों ने बकाएदे रेकी करने के बाद रात करीब 2 बजे दुकान पर जाकर सरियें से ताला तोड़ दिया। सीसीटीवी कैमरे व डीवीआर तोड़े और जेवरात चुराकर मौके से भाग गये। वारदात के बाद बदमाश मुख्य सरगना अमजद अंसारी से जाकर मिले थे और सामान का बंटवारा कर लिया। रामगंज पुलिस सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है। बदमाशों का पुराना आपराधिक रिकॉर्ड भी पुलिस खंगाल रही है। पुलिस पूछताछ में वारदात को लेकर और भी कई खुलासे हो सकते हैं।

Jaipur News in Hindi (जयपुर समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर