Jaipur Fire Accident: केमिकल गोदाम में आग, दो घंटे तक हुए धमाके, 15 फायर ब्रिगेड ने किया आग को कंट्रोल

Jaipur Fire Accident: राजधानी के बगरु स्थित बेगस की कृष्णा कॉलोनी में पेन इंक का गोदाम है। गोदाम में करीब चार हजार ड्रम स्याही बनाने के केमिकल के रखे थे। पुलिस आरंभिक तौर पर हादसे की वजह गुरूवार की देर शाम शॉर्ट सर्किट से गोदाम में आग लगना बता रही है।

Jaipur Fire Accident
केमिकल गोदाम में आग  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • बगरु इलाका शुक्रवार की सुबह धमाकों से दहल उठा
  • एक के बाद एक धमाके करीब दो घंटे तक होते रहे
  • इंक केमिकल के 4 हजार ड्रमों में लगी आग

Jaipur Fire Accident : राजधानी का बगरु इलाका शुक्रवार की अल सुबह धमाकों से दहल उठा। जिससे की आसपास के क्षेत्र के लोग सहम गए। एक के बाद एक धमाके करीब दो घंटे तक होते रहे। बाद में सूचना मिलते ही मौके पर आई पुलिस ने हादसे वाले इलाके के लोगों को अन्य सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट करवाया। पुलिस के मुताबिक राजधानी के बगरु स्थित बेगस की कृष्णा कॉलोनी में पेन इंक का गोदाम है। गोदाम में करीब चार हजार ड्रम स्याही बनाने के केमिकल के रखे थे। पुलिस आरंभिक तौर पर हादसे की वजह गुरूवार की देर शाम शॉर्ट सर्किट से गोदाम में आग लगना बता रही है।

केमिकल से भरे ड्रम रात को किसी समय आग की चपेट में आ गए और देखते ही देखते शुक्रवार की अल सुबह ब्लास्ट होने लगे। हादसे की भयावता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि आग की लपटें 20 से 25 फीट ऊंची थी। आग से लाखों के नुकसान होने का अनुमान लगाया जा रहा है। 

करीब आधा दर्जन घरों को करवाया खाली

पुलिस ने बताया कि केमिकल फैक्ट्री के आसपास के करीब आधा दर्जन घरों को तुरंत खाली करवा कर लोगों को अन्य सुरक्षित स्थान पर भेजा गया। वहीं फायर स्टेशन से आई 15 दमकलों ने पांच घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। रसायनों के सुलगने के बाद उठे धुएं से लोगों का दम घुटने लगा। इलाके का आसमान काले धुएं से ढक गया। 

बम फटने जैसे धमाकों से दहला दिल

गहरी नींद में सो रहे लोगों का अचानक हुए इंक फैक्ट्री में धमाकों से लोगों का दिल दहल गया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक लोग अपने घरों में सो रहे थे। शुक्रवार को सुबह अचानक एक के बाद एक धमाके होने लगे। नींद में सो रहे लोगों को समझ में नहीं आया कि शांत एरिया में बम फटने जैसे धमाके कैसे हो रहे हैं। इलाके के लोगों ने बताया कि इस तरह का ये पहला हादसा देखने को मिला है। 
 


 

Jaipur News in Hindi (जयपुर समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर